Saturday, August 8, 2020

राम मंदिर के बाद अब मस्जिद निर्माण पर हुआ ये बड़ा निर्णय

पायलट अखिलेश कुमार जल्दी ही बनने वाले थे पिता, केरल विमान हादसे ने छीनी खुशियां….

केरल के कोझिकोड एयरपोर्ट पर शुक्रवार देर शाम को भयानक हादसा हुआ था। यहां पर दुबई से लौट रही फ्लाइट भारी बारिश...

ब्रेकिंग:-सीएम योगी ने चार सौ बेड के कोविड अस्पताल का किया उद्घाटन ,सपा ने कहा हमारे कार्यों का काट रहे हैं फीता

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शनिवार को नोएडा के सेक्टर 39 में बने 400 बिस्तरों वाले कोविड-19 अस्पताल का उद्घाटन कर दिया...

चाचा ने जिसे अपनी सन्तान मानकर दी पनाह, उसी भतीजे ने कर डाला मर्डर…

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में एक भतीजे ने अपने बुजुर्ग चाचा की पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारोपी भतीजे के...

ब्रेकिंग:-सीएम योगी ने चार सौ बेड के कोविड अस्पताल का किया उद्घाटन ,सपा ने कहा हमारे कार्यों का काट रहे हैं फीता

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शनिवार को नोएडा के सेक्टर 39 में बने 400 बिस्तरों वाले कोविड-19 अस्पताल का उद्घाटन कर दिया...

उत्तर प्रदेश में नागिन का इंतकाम, दो दिन में 26 लोगों को डसा, एक की मौत…..

नागिन का ऐसा बदला 21 वीं सदी में शायद ही कहीं देखने को मिले. नागिन ने एक-दो नहीं बल्कि एक-एक करके 26...

नई दिल्ली: अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन को लेकर खासा उत्साह दिखाई दे रहा है। इधर, अब मस्जिद निर्माण के लिए भी कवायद तेज हो गई है। उत्तर प्रदेश सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर अयोध्या में आवंटित की गई जमीन पर मस्जिद निर्माण के लिए बुधवार को ट्रस्ट के सदस्यों के नाम घोषित कर दिए। बोर्ड के अध्यक्ष जुफर अहमद फारुकी का कहना है कि बोर्ड ने अयोध्या के धन्नीपुर गांव में आवंटित की गई पांच एकड़ जमीन पर मस्जिद, इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर, लाइब्रेरी और अस्पताल के निर्माण के लिए ‘इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन’ नाम से एक ट्रस्ट बनाया है। इस ट्रस्ट में कुल नौ सदस्य हैं। 

ये भी पढ़े :  Ram Mandir भूमि पूजन के दिन Pakistan कर सकता है बहुत बड़ा हमला : भारतीय सुरक्षा एजेंसी

बोर्ड खुद इसका संस्थापक ट्रस्टी होगा और बोर्ड के मुख्य अधिशासी अधिकारी इसके पदेन प्रतिनिधि होंगे। फारुकी के मुताबिक वह खुद इस ट्रस्ट के मुख्य ट्रस्टी एवं अध्यक्ष होंगे। गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने गत नौ नवंबर को राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद में ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए विवादित स्थल पर राम मंदिर का निर्माण करने और मुसलमानों को मस्जिद के निर्माण के लिए अयोध्या में किसी प्रमुख स्थान पर पांच एकड़ जमीन देने का आदेश दिया था। 

ये भी पढ़े :  अयोध्या में भूमि पूजन से पहले शहर किले में तब्दील...

इसके अनुपालन में अयोध्या जिले की सोहावल तहसील स्थित धन्नीपुर गांव में पांच एकड़ ज़मीन वक्फ बोर्ड को दी गई थी। वक्फ बोर्ड ने उस जमीन पर मस्जिद के साथ-साथ इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर, अस्पताल और पुस्तकालय बनाने का ऐलान किया था। यह निर्माण कैसे होगा, इस बारे में फैसला लेने के लिए इस ट्रस्ट का गठन किया जाना था।

Hot Topics

समधी-समधन के बाद अब जेठ-देवरानी घर से भागे, जेठानी बोली- बच्चों को कैसे पालूंगी….

यहां समधी-समधन के प्यार में घर से भाग जाने के बाद अब एक शादीशुदा शख्स अपने ही छोटे भाई की पत्नी के साथ भाग...

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर के इस बेटे का आईएएस में हुआ चयन, कहा- सपने मायने रखते हैं, गरीबी नहीं

जिंदगी में कुछ सार्थक करने के लिए सपने मायने रखते हैं, गरीबी नहीं। शुरुआती...

Related Articles

अयोध्या राम मंदिर निर्माण को लेकर पुनः अस्सलील टिप्पडी..

8 अगस्त थाना तिवारीपुर मोहल्ला नरसिंहपुर निवासी ओसामा पुत्र उल्ला ने अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर हिंदू धर्म विरोधी और संविधान विरोधी पोस्ट...

सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का विवादित बयान हम अल्लाह के भरोसे, मस्जिद को कोई मिटा नहीं सकता

…जब चॉपर से उतरते ही बोले पीएम मोदी- योगी जी आज तो आप बेहद खुश हो रहे होंगे….

अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir) का भूमि पूजन बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अगुवाई में संपन्न...
%d bloggers like this: