Tuesday, October 26, 2021

मुंबई से आए अधेड़ की संदि

समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान!

Gorakhpur: समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान! आज गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर...

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

थाना क्षेत्र के कसियापुर (बलापुर) गांव निवासी 45 वर्षीय गुलजारी लाल बिंद नामक अधेड़ की मंगलवार की भोर में संदिग्धावस्था में मौत हो गई। वह गत दिनों मुंबई से आया था। डर वश परिजन व गांव वाले शव के पास नहीं गए। मौत के बाद पांच घंटे बाद पुलिस व 11 घंटे बाद एंबुलेंस पहुंचा। शव को सीएचसी सुरियावां लाया गया, जहां सैंपल लेने के बाद शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

उक्त गांव निवासी गुलजारी लाल बिंद महाराष्ट्र मुंबई के वसही रोड पर रहते थे। वहीं पर काम धंधा कर किसी तरह परिवार चलाते थे। लॉकडाउन के कारण काम बंद होने पर वह ट्रक व बस से 12 मई को घर पहुंचे। सीएचसी सुरियावां में 14 मई को थर्मल स्क्रीनिंग कराई, उसके बाद चिकित्सकों की सलाह पर होम क्वारंटाइन हो गए थे। इस बीच, मंगलवार की भोर में उनकी संदिग्धावस्था में मौत हो गई। गांव वालों के अनुसार सांस लेने में दिक्कत, बुखार व खांसी उन्हें आ रही थी।

ये भी पढ़े :  बड़ी खबर:- लोकसभा चुनाव से पहले शुरू हो सकती है गोरखपुर ऐम्स ओपीडी,दिन और रात चल रहा काम...

उधर, मौत होने के बाद डर वश न तो परिवार के लोग कमरे में गए और न ही आसपास के लोग। मामले से स्वास्थ्य विभाग व पुलिस को अवगत कराया गया। करीब पांच घंटे बाद 11 बजे पाली चौकी की पुलिस पहुंची। सीएमओ के हस्तक्षेप के बाद 11 घंटे बाद एंबुलेंस। सीएचसी अधीक्षक डा. आरबी पाठक ने बताया कि मृतक का सैंपल ले लिया गया है। उसके बाद शव का अंतिम संस्कार करने के लिए परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

ये भी पढ़े :  बड़ी खबर:- लोकसभा चुनाव से पहले शुरू हो सकती है गोरखपुर ऐम्स ओपीडी,दिन और रात चल रहा काम...

इस कारण मामला रहा अटका

सुरियावां। थाना क्षेत्र का कसियापुर गांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोपीगंज क्षेत्र में आता है। सोमवार को वहां तैनात एक कर्मी की रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी, जिसके बाद से हड़कंप मचा हुआ है। ऐसे में सूचना के बाद भी एंबुलेंस पहुंचने में विलंब हुआ। बाद में सीएमओ के निर्देश पर सीएचसी सुरियावां से एंबुलेंस भेज कर मृतक का शव अस्पताल लाया गया। उम्मीद है कि तीन से चार दिन के अंदर रिपोर्ट आ जाएगी।

शव लेकर पहुँचे एम्बुलेन्स कर्मियों को गाँव वालों ने खदेड़ा

थाना क्षेत्र के रामपुर घाट पर मंगलवार की देर शाम एक बार फिर शव लेकर घाट पर पहुचे परिजनो को विरोध का सामना करना पड़ा। ग्रामीणों ने विरोध करते हुए एम्बुलेंस कर्मियों और परिजनों को खदेड़ दिया।

सुरियावा थाना क्षेत्र के एक गांव से एम्बुलेंस से शव लेकर रामपुर घाट पहुचे लोगों को देख ग्रामीण शव का अंतिम क्रिया कर्म करने का पुरजोर विरोध शुरू कर दिए। एम्बुलेंस कर्मी और परिजनों को खदेड़ लिया। जिसकी जानकारी मिलने के बाद क्षेत्राधिकारी ज्ञानपुर कालू सिंह, प्रभारी निरीक्षक कृष्णा नन्द राय बड़ी संख्या में पुलिस बल लेकर रामपुर घाट पहुंच गए। बार फिर ग्रामीणों को कोरोना का शव नहीं होने की बात बोल कर किसी प्रकार शव का अंतिम क्रिया कर्म करवा दिया।

ये भी पढ़े :  गोरखपुर में नवम्बर से रात नौ बजे तक लैंडिंग व उड़ान भर सकेंगे जहाज...
ये भी पढ़े :  पूर्व विधान परिषद सदस्य रहे प्रसिद्ध बाल रोग विशेषज्ञ डॉ0 वाई. डी. सिंह का निधन.....

सूत्रों की मानें तो घाट का धईकार भी संदिग्ध शव देखकर वगैर अग्नि दिए फरार हो गए।ऐसे में क्रिया कर्म परिजनों को स्वयं करना पड़ा। उक्त मामले में ग्रामीणों में काफी आक्रोश भी व्याप्त है। पूर्व प्रधान आद्या तिवारी ने जिलाधिकारी से मांग किया कि कोरोना से जुड़े हुए मामले में शव के अंतिम संस्कार के लिए सुनसान घाट का जिला प्रशासन चयन करें ताकि रामपुर घाट गांव के ग्रामीण सुरक्षित रह सके।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान!

Gorakhpur: समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान! आज गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...
%d bloggers like this: