Wednesday, September 29, 2021

मुस्लिम देश ने बनवाई भगवान विष्णु की दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति, 28 साल में लगे 800 करोड़

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

हिंदू धर्म में भगवान विष्णु समृद्धि और वैभव के प्रतीक हैं. शंकर, ब्रह्मा की त्रयी में भगवान विष्णु को धरती का पालनहार माना जाता है. पूरे भारत में शायद ही ऐसा कोई कोना हो जहां पर भगवान विष्णु की अलग-अलग नामों से पूजा न होती हो. लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि दुनिया में भगवान विष्ण की सबसे ऊंची मूर्ति भारत में नहीं है. ये एक ऐसे देश में है जो मुस्लिमों की आबादी के मामले में दुनिया में नंबर एक पर है. विष्णु की यह मूर्ति इंडोनेशिया मे है जो करीब 122 फुट ऊंची और 64 फुट चौड़ी है. इस मूर्ति का निर्माण तांबे और पीतल से किया गया है. इसे बनाने में करीब 28 साल का समय लगा है. ये मूर्ति साल 2018 में बनकर पूरी हुई थी और पूरी दुनिया से लोग इसे देखने और दर्शन करने आते हैं.

ये भी पढ़े :  मां दर्द से बिलखती रही और बेटे ने video बनाते हुए रेत दिया गला

1979 में इंडोनेशिया में रहने वाले मूर्तिकार बप्पा न्यूमन नुआर्ता ने हिन्दू प्रतीक की विशालकाय मूर्ति बनाने का स्वप्न देखा था. स्वप्न देखना तो आसान था लेकिन एक ऐसी मूर्ति बनाना जो विश्वविख्यात हो, वाकई कठिन काम था. कहा जाता है कि इस मूर्ति को बनाने की शुरुआत करने के लिए 1980 के दशक में एक कंपनी बनाई गई थी. तय किया गया कि इसी की देख-रेख में सारा काम होगा. इस मूर्ति की संरचना पर कड़ा परिश्रम किया गया.

ये भी पढ़े :  बड़ी खबर:- पहली बार बिल्ली में कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि, जानवरों के साथ खाना शेयर करने की मनाही...

न्यूमन नुआर्ता को एक ऐसी कृति बनानी थी जो आजतक दुनिया में न बनाई गई हो. जिसे देखने वाला, बस देखता ही रह जाए. यही वजह है कि लंबी प्लानिंग और पैसे के इंतजाम के बाद इस मूर्ति को बनाने की शुरुआत 15 साल बाद करीब 1994 में हो पाई. इस मूर्ति के निर्माण में इंडोनेशिया की कई सरकारों ने मदद की. कई बार इसके बड़े बजट की वजह से काम रुका. साल 2007 से 2013 तक करीब 6 सालों तक इसका निर्माण कार्य रुका रहा था. लेकिन फिर उसके बाद काम की शुरुआत हुई और पांच साल और लग गए.

बीच में एक बार इस मूर्ति के पास रहने वाले स्थानीय लोगों ने भी आवाज उठाई थी. लेकिन फिर जब उन्हें समझाया गया कि ये मूर्ति इंडोनेशिया का सबसे बड़ा टूरिस्ट डेस्टिनेशन भी साबित हो सकती है तो लोग मान गए थे.

गरुड़ पर सवार भगवान विष्णु की ये मूर्ति दुनियाभर में मौजूद हिंदू भगवानों की मूर्तियों में सबसे ऊंची बताई जाती है. इसके बाद मलेशिया में बनी भगवान मुरुगन की ऊंचाई मानी जाती है. मुरुगन भी भगवान विष्णु का ही स्वरूप हैं. दक्षिण भारत विशेषकर तमिलनाडु में भगवान विष्णु की पूजा मुरुगन के नाम से ही जाती है. इंडोनेशिया में इस विशाल मूर्ती का निर्माण करने वाले मूर्तिकार बप्पा न्यूमन नुआर्ता को भारत में सम्मानित किया गया और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों पद्मश्री पुरस्कार प्रदान किया गया था.

ये भी पढ़े :  महाराजगंज: गोरखपुर टाइम्स का मुहिम: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में कच्ची शराब की बिक्री तेज, जिम्मेदार बने हैं मूकदर्शक

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

सिद्धार्थ पांडेय बने भाजपा मीडिया सम्‍पर्क विभाग के क्षेत्रीय संयोजक…

उत्‍तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटी भाजपा संगठन को नए स्‍तर से मजबूत बनाने में...

शहीद के बेटे नीतीश 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस पर फहराएंगे तिरंगा, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सौपा...

Gorakhpur: गोरखपुर के राजेन्द्र नगर के रहने वाले युवा पर्वतारोही नीतीश सिंह 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट...
%d bloggers like this: