Friday, July 23, 2021

मैनपुरी से मुलायम, कन्नौज से अखिलेश लड़ेंगे चुनाव…

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

तमाम चर्चाओं को विराम देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मैनपुरी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए मुलायम सिंह के नाम की घोषणा कर दी है। सपा प्रमुख ने कहा है कि नेताजी को मैनपुरी सीट से गहरा लगाव रहा है। इसलिये यहां से वे ही चुनावी समर में उतरेंगे। इसके साथ ही उन्होंने जिले की जनता से ऐतिहासिक मतदान करने की अपील भी की है। पूर्व मुख्यमंत्री मैनपुरी के बरनाहल के गांव विनायकपुर में पुलवामा हमले के शहीद जवान रामवकील के घर पहुंचे थे। शहीद के घर शांति पाठ का आयोजन चल रहा था। अखिलेश यादव कार्यक्रम में शामिल हुए और शहीद रामवकील को श्रद्धांजलि दी। शहीद के परिजनों से मुलाकात कर उनको ढांढस बंधाया। अखिलेश ने शहीद के तीन पुत्रों को सैनिक स्कूल में शिक्षा दिलाने का भी आश्वासन दिया। यहां मीडिया से वार्ता में अखिलेश यादव ने कहा कि पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव ही यहां से चुनाव लड़ेंगे।
वर्तमान सांसद तेज प्रताप को कहां से टिकट दी जाएगी? इस सवाल को वह टाल गए। उन्होंने कहा कि नेताजी ने यहां से चुनाव लडऩे की बात कही है, उनको मैनपुरी से बहुत लगाव है। वही प्रत्याशी होंगे। तेजप्रताप यादव के पास लंबा वक्त है। उनको क्या बनाया जाएगा या कहां से लड़ाया जाएगा? यह हम बाद में तय करेंगे। खुद के चुनाव लडऩे के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं कन्नौज नहीं छोड़ रहा हूं। पहला चुनाव भी वहीं से लड़ा था।
1996 से सपा का अभेद किला रहा है मैनपुरी

ये भी पढ़े :  ब्रेकिंग : गोरखपुर कोरोना का तांडव बढ़ता जा रहा आज 14 घंटो में ही 4 मरीज़ बढ़े, पढ़िए कौन कहा से
ये भी पढ़े :  प्रधानमंत्री मोदी की मदद का अमेरिका ने माना एहसान,पर यहाँ तो लोग प्रधानमंत्री को ही बोल रहे बुरा भला

मैनपुरी लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी का एकछत्र राज कहना गलत न होगा। आजादी के बाद से अबतक हुए 18 लोकसभा चुनावों में पांच बार कांग्रेस, एक बार भाजपा, एक बार जनता दल के खाते में जीत दर्ज हुई। 1996 में पहली बार सपा से मुलायम सिंह यादव यहां से चुनाव में उतरे तो जैसे यह सीट सपा की ही होकर रह गई। 19952 से 1984 तक कांग्रेस का यह सीट गढ़ माना जाता था लेकिन इसके बाद यहां जैसे कांग्रेस का सूर्य हमेशा के लिए अस्‍त ही हो गया। भाजपा और जनता दल ने भी इस सीट पर कब्‍जा किया लेकिन 1996 में मुलायम सिंह ने इस सीट पर मजबूत पकड़ जमा ली जिसे तोड़ पाना किसी भी दल के लिए मुमकिन नहीं रहा। इस बात का ध्‍यान कुछ दिन पूर्व हुए सपा बसपा गठबंधन में भी रखा गया। सपा के इस गढ़ से बसपा ने अपने को दूर ही रखा। मैनपुरी में सपा का इतिहास 1996 में पहली बार मुलायम सिंह यादव मैनपुरी लोकसभा सीट से सांसद बने थे। इसके दो साल बाद हुए चुनाव में सपा से बलराम सिंह यादव को उतारा गया। जीत दर्ज हुई। 2004 में मुलायम सिंह मैनपुरी से फिर से सांसद चुनकर संसद में पहुंचे लेकिन मुख्‍यमंत्री का पदभार ग्रहण करने के बाद यहां से उन्‍होंने सीट छोड़ दी। इसी वर्ष उपचुनाव हुए और मुलायम के भतीजे धमेंद्र यादव सांसद चुने गए। 2009 में मुलायम ने फिर से मुलायम यहां से चुनाव जीते। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में जब पूरे देश में मोदी लहर चल रही थी उस वक्‍त भी मुलायम सिंह का यह किला कोई और भेद नहीं पाया। करीब साढ़े तीन लाख मतों के अंतर से मुलायम ने मैनपुरी सीट पर अपनी पकड़ बनाए रखी। आजमगढ़ के कारण उपचुनाव में पौत्र तेजप्रताप यादव सांसद उपचुनाव वर्तमान में सांसद। इन चुनावों में मुलायम आजमगढ़ से भी खड़े हुए थे। इस सीट की वजह से उन्‍होंने मैनपुरी की सीट को छोड़ दिया। इसी वर्ष उपचुनाव हुए और उनके पौत्र तेजप्रताप सांसद चुने गए।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: