Saturday, July 24, 2021

मोगा में शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू को पहुंचना था, लेकिन वह नहीं पहुंचे….

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

पंजाब के मोगा में शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार के दौरान पंजाब के किसी भी कैबिनेट मंत्री के न पहुंचने को लेकर विवाद खड़ा हो गया. दरअसल, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार देर रात एक प्रेस रिलीज जारी करके जानकारी दी थी कि उन्होंने पंजाब के शहीद हुए 4 जवानों के अंतिम संस्कार के कार्यक्रम के दौरान पंजाब के कैबिनेट मंत्रियों की ड्यूटी लगाई है, जो कि अंतिम संस्कार के दौरान मौजूद रहेंगे. मोगा में शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार के लिए पंजाब के कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू की ड्यूटी लगाई गई थी और इस बारे में स्थानीय विधायक को और स्थानीय डीसी और प्रशासन को उनके आने की जानकारी भी दी गई थी, लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे और मोगा ना आकर वो लुधियाना में नगर निगम के कार्यक्रम में पहुंचे जहां पर उन्होंने नगर निगम के कामों को लेकर कई ग्रांट जारी की. इस दौरान नवजोत सिंह सिद्धू ने मीडिया से भी बात की लेकिन शहीद के अंतिम संस्कार में ना जाकर पहले वो नगर निगम के कार्यक्रम में पहुंच गए.

ये भी पढ़े :  एक शाम प्रभु राम के नाम में गूंजी स्तुतियां....

अपने बयान पर कायम हैं सिद्धू नवजोत सिंह सिद्धू ने लुधियाना में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि उन्होंने जो बयान दिया था कि आतंकवाद का कोई मजहब या देश नहीं होता उसे गलत तरीके से पेश किया गया और उनके बयान की सिर्फ एक ही लाइन दिखाई जा रही है जबकि अगर उनका पूरा स्टेटमेंट सुना जाए तो उन्होंने कहा कुछ और था जिसका मतलब गलत तरीके से दिखाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि 4 आतंकियों की हरकत से दोनों देशों के बीच और दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच शुरू हुआ बातचीत, विकास की बात या करतारपुर कॉरिडोर को खोलने का जो प्रयास शुरू हुआ है वो बंद नहीं किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़े :  डिम्पल यादव के खिलाफ प्रसपा के प्रत्याशी ने नामांकन के आखिरी दिन नहीं भरा पर्चा...

शहीद के परिजन बोले- फॉर्मेलिटी करने आए थे सिद्धू लुधियाना के बाद नवजोत सिंह सिद्धू मोगा पहुंचे, लेकिन मोगा में शहीद के परिवार से मुलाकात करने से पहले नवजोत सिंह सिद्धू अपने महकमे के एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंच गए. शहीद के अंतिम संस्कार के करीब 3 घंटे बाद नवजोत सिंह सिद्धू शहीद के घर पर पहुंचे और परिवार से मुलाकात की, लेकिन ये मुलाकात सिर्फ एक रस्म अदायगी से ज्यादा कुछ नहीं थी. शहीद जयमल सिंह के परिवार में उनके पिता और भाई ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू सिर्फ एक फॉर्मेलिटी करने के लिए उनके पास पहुंचे थे और नवजोत सिंह सिद्धू को अंतिम संस्कार में शामिल होना चाहिए था. सवाल टाल गए डीसी स्थानीय प्रशासन और स्थानीय कांग्रेस के विधायकों ने माना कि नवजोत सिंह सिद्धू को इस कार्यक्रम में शामिल होना था, लेकिन वो नहीं पहुंच सके. स्थानीय डीसी ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू कोहरे की वजह से अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो सके, लेकिन जब उनसे पूछा गया कि नवजोत सिंह सिद्धू लुधियाना में अपने महकमे के कार्यक्रम में शामिल हुए लेकिन मोगा पहुंचने में उन्हें आखिरकार क्या परेशानी हो गई तो मोगा के डीसी सवाल को टाल गए. कांग्रेस विधायक ने लगाया ये आरोप कांग्रेस के स्थानीय विधायकों दर्शन बराड़ और हरजोत मान ने कहा कि मीडिया इस मुद्दे का राजनीतिकरण कर रहा है और नवजोत सिंह सिद्धू परिवार से मिलने आ रहे हैं और अंतिम संस्कार में किन्ही कारणों से शामिल नहीं हो सके. हालांकि उनके अंतिम संस्कार में आने का कार्यक्रम था, लेकिन इस सवाल का उनके पास जवाब नहीं था कि जब केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल दिल्ली से मोगा में शहीद जयमल सिंह के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए पहुंच सकती हैं तो आखिरकार चंडीगढ़ से नवजोत सिंह सिद्धू मोगा क्यों नहीं पहुंच पाए. आम आदमी पार्टी ने सिद्धू पर साधा निशाना वहीं आम आदमी पार्टी ने भी नवजोत सिंह सिद्धू को नसीहत दी कि वो पहले ये तय कर लें कि उनके लिए पाकिस्तान में बैठा उनका दोस्त इमरान खान जरूरी है या फिर देश. आम आदमी पार्टी के पंजाब के प्रधान भगवंत मान ने शहीद के परिवार से मुलाकात करने के बाद कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू को ये देखना चाहिए कि संकट की इस घड़ी में पूरा देश शहीद परिवारों के साथ खड़ा है. सबको पता है कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी ही लगातार भारत में इस तरह की के आतंकी हमले कर रहे हैं, ऐसे में नवजोत सिंह सिद्धू इस तरह की बात कर रहे हैं जैसे वो पाकिस्तान सरकार के प्रवक्ता हो और जो बात पाकिस्तान को अपने बचाव में करनी चाहिए, वो नवजोत सिंह सिद्धू की तरफ से कहीं जा रही हैं

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: