Sunday, July 25, 2021

मोबाइल कॉलर ट्यून पर रोक की याचिका

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

उच्च न्यायालय में बुधवार को जनहित याचिका दायर हुई कि कोरोना वायरस-१९ से जुड़ी ऑटामैटिक मोबाइल कॉलर ट्यून पर रोक लगाई जाए जो खांसी के साथ शुरू होती है। इस याचिका पर सुनवाई संभवत: आइपीएल मैच के आयोजन पर रोक की मांग वाली अर्जी के साथ होगी।

ये भी पढ़े :  अगले साल से इन राज्यों में फिर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज, जानिए अपने राज्य का हाल।।

अधिवक्ता शिवराजशेखरन ने मद्रास उच्च न्यायालय में जनहित याचिका लगाई कि यह अत्यावश्यक है कि कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता लाई जाए लेकिन भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी इस रिकॉर्डेड कॉलर ट्यून को सुनने से मानसिक तनाव पैदा होता है। सभी मोबाइल सेवा प्रदाता हर बार किए जाने वाले आउट गोइंग कॉल पर यह संदेश बजा रहे हैं जिससे जनता को बड़ी असुविधा हो रही है। कॉलर ट्यून पर खांसी की आवाज आने का असर इसे सुनने वाले पर भी पड़ रहा है।

याची ने सुझाया कि जागरूकता को लेकर प्राधिकारी खांसी के बजाय उपयुक्त शब्दावली का उपयोग कर सकते हैं। कॉलर ट्यून के अलावा एसएमएस, वाट्सऐप, ट्विटर, फेसबुक इंस्टाग्राम और सिनेमा हॉल के जरिए भी जागरूकता संदेश का प्रसारण कर सकते हैं। याचिका में कहा गया है कि इस तरह के वॉइस संदेश से घृणा पैदा होने लगती है और यह संविधान में स्थापित शांतिपूर्ण जीवन जीने के अधिकार का भी उल्लंघन है। इस वजह से इस वॉइस संदेश के प्रसारण पर रोक लगनी चाहिए।

ये भी पढ़े :  जानिये क्या है ट्रेन चलाने को लेकर रेल मंत्रालय का प्लान : स्टेशन, ट्रेन, इंजन सब सेनेटाइज किये जा रहे हैं

न्यूज़ और विज्ञापन संबंधी जानकारियो के लिए सम्पर्क करे
7355770191 Surya Srivastava

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

%d bloggers like this: