- Advertisement -
n
n
Friday, June 5, 2020

यूपी में थम नहीं रहे कोरोना वायरस के केस, राज्य में बढ़ाई जा सकती है लॉकडाउन की अवधि…..

Views
Gorakhpur Times | गोरखपुर टाइम्स

14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म होने वाला है और ऐसे में हर किसी के मन में यही सवाल उठ रहा है कि क्या सरकार द्वार लॉकडाउन की अवधि को और बढ़ाया जाएगा कि नहीं? हाल ही में लॉकडाउन को लेकर पीएम मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक भी की थी और इस बैठक के बाद ऐसी खबरें आ रही थी कि शायद लॉकडाउन को खत्म किया जा सकता है। लेकिन आज यूपी के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने एक बयान देते हुए लॉकडाउन को खत्म करने से इंकार कर दिया है। देश में लगे लॉकडाउन पर अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि इस समय उत्तर प्रदेश राज्य में जो हाल हैं। उनको देखते हुए लॉकडाउन इस राज्य में जारी रह सकता है।

हालात है संवेदनशील

अवनीश कुमार अवस्थी ने मीडिया से बात करते हुए कहा हालात संवेदनशील हैं और एक भी कोरोना संक्रमित बच जाता है। तो सरकार द्वारा जो मेहनत की गई है। उसपर पानी फिर सकता है। इसलिए लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जा सकती है।

NOTE:  गोरखपुर टाइम्स का एप्प जरुर डाउनलोड करें  और बने रहे ख़बरों के साथ << Click

Subscribe Gorakhpur Times "YOUTUBE" channel !

The Photo Bank | अच्छे फोटो के मिलते है पैसे, देर किस बात की आज ही DOWNLOAD करें और दिखाए अपना हुनर!

 

अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि प्रदेश में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 305 हो गई है। जिसमें से 159 लोग तब्लीगी जमात के हैं। इस राज्य में पिछले 24 घंटे में जो मामले आए हैं। उनमें से 27 लोगों में से 21 तब्लीगी जमात के लोग हैं। अवनीश कुमार अवस्थी के इस बयान से साफ है कि अभी भी उत्तर प्रदेश राज्य में रोज कोरोना मरीज आ रहे हैं और ऐसे में इस राज्य में लॉकडाउन को खत्म करना घातक साबित हो सकता है।

ये भी पढ़े :  धवन बोले- ‘रोहित मेरी पत्नी नहीं है, जो मैं हमेशा उनसे बात करता रहूं’....

टेस्टिंग के सेंटर बढ़ाए जाएंगे

अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि उत्तर प्रदेश में इस समय 10 मेडिकल कॉलेजों में कोरोना की टेस्टिंग की जा रही है और आने वाले समय में 14 अन्य जिलों में भी टेस्टिंग शुरू की जाएगी। जबकि कई जिलों में कलेक्शन सेंटर बनाएं जाएंगे। उत्तर प्रदेश राज्य की जनसंख्या काफी अधिक है और ऐसे में इस राज्य में कोरोना वायरस फैलने में अधिक समय नहीं लगेगा और उत्तर प्रदेश सरकार किसी भी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहती है।

उत्तर प्रदेश सरकार के अनुसार अभी तक इस राज्य के 32 जिलों से कोरोना वायरस पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं रविवार को प्रयागराज से भी कोरोना वायरस का पहला केस सामने आया है। जिसका मतलब ये है कि इस राज्य में लॉकडाउन के बाद भी कोरोना वायरस फैल रहा है। ऐसे में लॉकडाउन खोलने से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो सकते हैं।

12 घंटे में 490 केस

भारत में लॉकडाउन लगाने के बाद भी कोरोना वायरस के केस थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। महज 12 घंटे के अंदर ही कोरोना के 490 नए केस सामने आए हैं। ये आकंडे़ इसी और इशारा करते हैं कि आने वाले समय में भारत के हालात और बिगड़ सकते हैं। ऐसे में लॉकडाउन को हटाना खतरनाक हो सकता है।

ये भी पढ़े :  कनिका कपूर कोरोना मरीजों के लिए दान करेंगी अपना खून...

4400 से अधिक लोग हैं ग्रस्त

भारत में कोरोना वायरस से 4400अधिक लोग संक्रमित है। जबकि 110 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। हाल ही के कुछ दिनों में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी आई है। भारत में महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल और राजस्थान राज्य से कोरोना के अधिक केस आए हैं।

Advertisements
%d bloggers like this: