Friday, July 23, 2021

योगी के शहर में चलेगी इंडोनेशि‍या जैसी ‘लाइट मेट्रो’….

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का गृह क्षेत्र गोरखपुर टियर 3 शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट समस्या के समाधान का एक मॉडल बन सकता है. इस शहर में ‘लाइट मेट्रो’ रेल सिस्टम चलाने के लिए एक विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार है. यह इंडोनेशि‍या से प्रेरित देश में अपनी तरह की पहली और अनूठी मेट्रो सेवा होगी.

खुद सीएम योगी आदित्यनाथ इस प्रोजेक्ट में काफी रुचि ले रहे हैं. गोरखपुर के अलावा प्रयागराज में भी लाइट मेट्रो सेवा शुरू हो सकती है. लाइट मेट्रो सेवा अभी इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में लागू की जा रही है. जकार्ता के लाइट मेट्रो रेल सिस्टम और चीन के इससे मिलते-जुलते कई प्रोजेक्ट्स के अध्ययन के बाद लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (LMRC) की एक टीम ने पतली और भीड़-भाड़ वाली सड़कों से भरे गोरखपुर के लिए एक व्यापक खाका तैयार किया है.

ये भी पढ़े :  सदर अस्पताल के पीछे बनी अवैध कालोनी पर नगर निगम का जबरजस्त एक्शन..........

दो कॉरिडोर की हुई पहचान

लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर कुमार केशव ने मेल टुडे को बताया, ‘इस महीने के अंत तक राज्य सरकार को डीपीआर पेश कर दिया जाएगा. गोरखपुर के लिए हमने दो कॉरिडोर की पहचान की है-पहला 18 किमी लंबा और दूसरा 12 किमी लंबा. इनको दो चरणों में लागू किया जा सकता है. हम लागत को काफी कम रखना चाहते हैं, इसलिए हमने इस प्रोजेक्ट के लिए कई किफायती समाधान का अध्ययन किया है.’

ये भी पढ़े :  लॉकडाउन# गोरखपुर 5500 लोगों ने पास के लिए आवेदन किया जारी हुए 1500....

छोटे होंगे स्टेशन

कुमार ने कहा, ‘योजना यह है कि स्टेशनों को काफी छोटा रखा जाए, सिर्फ दो कार लेन जैसी जगह में, और इनके लिए जरूरी इमारतें भी पतली हों. इससे लागत कम होगी, क्योंकि कॉन्क्रीट और अन्य मटेरियल की जरूरत कम होगी. इसके अलावा ट्रेन के डिब्बे भी बाकी मेट्रो सेवाओं की तुलना में हल्के होंगे. उदाहरण के लिए दिल्ली मेट्रो रेल के डिब्बे में 18 टन एक्सल ट्रेन लोड होता है, जबकि लाइट मेट्रो रेल में 12 टन से भी कम एक्सल ट्रेन लोड होगा. छोटे मेट्रो ट्रेन की खूबी यह होती है कि यह कम जगह में भी आसानी से मुड़ जाती है.’

श्रीधरन से ली सलाह

केशव ने कहा, ‘गोरखपुर पूर्वी यूपी का एक महत्वपूर्ण शहर है और जब तक यह प्रोजेक्ट पूरा होगा, शहर की जनसंख्या भी बढ़ जाएगी. इसलिए शहर के लिए एक मास रैपिड ट्रांजिट सिस्टम तो जरूरी होगा, लेकिन जरूरी नहीं कि यह बड़े शहरों जैसी मेट्रो सेवा हो. हमने जकार्ता और चीन जैसे कई शहरों के लाइट मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की स्टडी की है. गोरखपुर इस मामले में बाकी देश के लिए मॉडल बन सकता है. इस मामले में मेट्रो मैन ई. श्रीधरन से भी सलाह ली गई है.’

ये भी पढ़े :  सांसद रवि किशन ने राज्यपाल लाल जी टंडन के निधन पर जताया शोक....

जनता के लिए किफायती

केशव ने बताया, ‘छोटे शहरों के लिए ऐसी रेल सेवा के कई फायदे हैं. इसमें यात्रा की प्रति व्यक्ति प्रति किमी लागत किसी कार से चलने की लागत का 5 फीसदी ही होता है. इसलिए यह जनता के लिए काफी किफायती हो सकता है.’

ये भी पढ़े :  लॉकडाउन# गोरखपुर 5500 लोगों ने पास के लिए आवेदन किया जारी हुए 1500....

गौरतलब है कि यूपी देश में सबसे ज्यादा मेट्रो सेवाएं शुरू करने वाला प्रदेश बन गया है. राज्य के लखनऊ, गाजियाबाद, नोएडा में मेट्रो सेवाएं चल रही हैं, जबकि कानपुर, गोरखपुर, मेरठ, आगरा, प्रयागराज और ग्रेटर नोएडा में मेट्रो परियोजनाएं विभिन्न चरणों में हैं.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

बड़हलगंज से आशीष राय के विजयी घोषित होने पर विदेशों में भी बंटी मिठाइयां गोरखपुर। शनिवार को तीन ब्लॉक...

भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख के लिए विधायक विपिन सिंह की पत्नी नीता सिंह,विधायक संत प्रसाद की बहू पर खेला दाँव, देखें गोरखपुर की सूची…

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव संपन्न होने के उपरांत त्रिस्तरीय पंचायत को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के द्वारा...
%d bloggers like this: