Thursday, October 21, 2021

योगी सरकार बालिकाओं को देगी 15 हजार रूपए, ऐसे ले पाएंगे लाभ…

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

सामाजिक, धार्मिक, शैक्षिक और पारिवारिक परिस्थितियां महिलाओं और बालिकाओं के लिए अनादि काल से भेदभाव पूर्ण रही हैं। फलस्वरूप वे अपने जीवन संरक्षण, स्वास्थ्य एवं शिक्षा जैसे मौलिक अधिकारों से वंचित रह जाती हैं। समाज में अभी भी प्रचलित कुरीतियों एवं भेदभाव जैसे कन्या भू्रण हत्या, असमान लिंगानुपात, बाल विवाह एवं बालिकाओं के प्रति नकारात्मक सोच के कारण महिलाओं एवं बालिकाओं को उनका पूर्ण अधिकार नहीं मिल पा रहा है। यह बात अयोध्या जिले में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समीक्षा बैठक के दौरान प्रभारी जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक आनंद ने कही। उन्होंने बताया कि इन सामाजिक कुरीतियों को दूर करने के लिए सरकारी एवं गैर सरकारी स्तर पर निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। इसी के तहत प्रदेश की सरकार की ओर से बालिकाओं एवं महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के साथ विकास के नए अवसर प्रदान करने के लिए ‘कन्या सुमंगला’ योजना प्रारंभ कर नई पहल की गई है। इस योजना को सरकार एवं शासन की महिला सशक्तिकरण के प्रति प्रतिबद्धता के दृष्टि से देखा जाना चाहिए।
प्रभारी जिलाधिकारी श्री आनंद ने बताया कि इस योजना के लागू होने से महिला एवं बालिकाओं के स्वास्थ्य एवं शिक्षा की स्थिति में सुधार होगा। कन्या भू्रण हत्या पर अंकुश लगेगा। समान लिंगानुपात स्थापित होगा। बाल विवाह की कुप्रथा रुकेगी। बालिका के जन्म के प्रति आमजन में सकारात्मक सोच विकसित कर उनके उज्जवल भविष्य की आधारशिला रखी जा सकेगी।
सीडीओ ने बताया कि कन्या सुमंगला योजना को छह श्रेणियों में बांटा गया है। इसके तहत प्रथम श्रेणी में एक अप्रैल 2019 के पश्चात जन्म ली बालिका को एकमुश्त दो हजार रूपये, द्वितीय श्रेणी में बालिका के एक वर्ष तक पूर्ण टीकाकरण के उपरांत एक हजार रूपये, श्रेणी तीन में कक्षा प्रथम में बालिका के प्रवेश के उपरांत एकमुश्त दो हजार रूपये, श्रेणी चार के अंतर्गत कक्षा छह में बालिका के प्रवेश के उपरांत एकमुश्त दो हजार रूपये, श्रेणी के अंतर्गत कक्षा नौ में बालिका के प्रवेश के उपरांत एकमुश्त तीन हजार रूपये तथा श्रेणी छह के अंतर्गत ऐसी बालिकाएं जिन्होंने कक्षा बारहवीं उत्तीर्ण करके स्नातक डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश लिया हो को एकमुश्त पांच हजार रूपये प्रदान किए जाएंगे। जिला प्रोबेशन अधिकारी विकास सिंह ने बताया कि इस योजना के तहत आवेदन ऑनलाइन एवं ऑफलाइन किसी भी प्रकार से किया जा सकता है। योजना की पात्रता के तहत लाभार्थी उत्तर प्रदेश का निवासी हो। उसकी पारिवारिक वार्षिक आय तीन लाख से अधिक न हो। लाभार्थी के परिवार का आकार साइज अर्थात परिवार में अभिभावक व दो बच्चे हों। किसी परिवार की अधिकतम दो ही बच्चियों को योजना का लाभ मिल सकेगा। किसी महिला को द्वितीय प्रसव से जुड़वा बच्चे होने पर तीसरी संतान के रूप में लड़की को भी लाभ अनुमन्य होगा। यदि किसी महिला को पहले प्रसव में बालिका है व द्वितीय प्रसव में जुड़वा बालिका ही होती है तो केवल ऐसी अवस्था में ही तीनों बालिकाओं को लाभ अनुमन्य होगा।

ये भी पढ़े :  गठबंधन पर बोले सीएम योगी: जिनकी जमीन खिसकी है वे लोग गलबहियां कर रहे हैं...

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

स्वर्णकार समाज ने लोकसभा , विधानसभा में अपने प्रतिनिधित्व के लिए भरी हुँकार,जल्द प्रदेश व्यापी होगी सभा

स्वर्णकार समाज का स्वर लोकसभा एवं विधानसभाओं में मुखरित हो प्रतिनिधित्व सभी पंचायतों में हो इस विचार के साथ स्वर्णकार समाज...

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...
%d bloggers like this: