Friday, July 30, 2021

‘राम नाम सत्य है’ कहते हुए 90 साल के हिंदू को मुस्लिम पड़ोसियों ने दिया कंधा….

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन के बीच सांप्रदायिक सौहार्द का एक बेहतरीन उदाहरण सामने आया है। यहां जब 90 साल के एक बुजुर्ग की सामान्य वजहों से मौत हो गई, तब उसके अंतिम क्रिया के लिए उसके मुसलमान पड़ोंसी आगे आए। मुसलमान पड़ोसियों ने न सिर्फ बिनय साहा के पार्थिव शरीर को कंधा दिया, बल्कि ‘बोलो हरि, हरि बोल’ और ‘राम नाम सत्य है’…जैसे प्रचलित नारे भी लगाए।

सबसे बड़ी बात ये है कि बुजुर्ग के पार्थिव शरीर को श्मशान घाट तक पहुंचाने के लिए वे लोग रात में 15 किलोमीटर तक पैदल ही चले। एनडीटीवी के मुताबिक इस शव यात्रा में बुजुर्ग के दोनों बेटों कमल और श्यामल के दोस्त और पड़ोसी शामिल थे, जो कलियाचक टू ब्लॉक के लोलियाटोला गांव में रहते हैं। श्यामल के मुताबिक, ‘हमारे पिता की मौत बुजुर्गावस्था से जुड़ी बीमारियों की वजह से हो गई। हम परेशान थे कि लॉकडाउन के दौरान उनका अंतिम संस्कार कैसे करेंगे। हमारे किसी भी रिश्तेदार का आना संभव नहीं था। वास्तव में हमें चिंता नहीं करनी चाहिए थी। हमारे पड़ोसी आगे आए और सबकुछ आसानी से हो गया।

पड़ोसी सद्दाम शेख ने बताया कि साहा का परिवार उनका सबसे नजदीकी पड़ोसी है और यहां पिछले 20 साल से यहां रह रहे हैं। उसने कहा, ‘मंगलवार को उनकी मौत के बारे में सबसे पहले मुझे पता चला। हम लोग (गांव के मुसलमान) पड़ोसी हैं और हमने अपनी जिम्मेदारी निभाई। इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं है।’ पंचायत प्रधान रजिया बीवी ने कहा, ‘हमारा धर्म अलग होने के बावजूद हमलोग साथ-साथ रहते हैं।’

लॉकडाउन के दौरान ऐसे कई मामले आए हैं, जहां लोगों ने एक-दूसरे की मुश्किल घड़ी में धर्म और विश्वास के ऊपर इंसानियत को तरजीह दी है। जाहिर है कि अगर साहा के परिवार वालों के लिए उनके मुस्लिम पड़ोसी खड़े नहीं होते तो इस वैश्विक महामारी के चलते जारी लॉकडाउन में वे अपने पिता के अंतिम संस्कार की पारिवारिक और सामाजिक जिम्मेदारी कैसे निभा पाते।

ये भी पढ़े :  Pariksha pe Charcha 2020 : पीएम मोदी ने दिया गुरु मंत्र , विफलताओं में भी सफलता की शिक्षा , बोले , चंद्रयान फेल हुआ तो मैं चैन से सो नहीं पाया

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब चुने जाएंगे ब्लॉक प्रमुख, 8 को नामांकन, 10 जुलाई को मतदान

ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 8 जुलाई को दिन में 11 बजे से शाम 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...
%d bloggers like this: