Thursday, June 24, 2021

रिमझिम के सिर पर मुख्यमंत्री योगी का हाथ, कहा- बिटिया को कोई दिक्कत न हो….

BJP ने खेला बड़ा दांव, पूर्व सीएम की बहू साधना सिंह को दिया टिकट

बीजेपी ने गोरखपुर के जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रत्याशी के लिए मौजूदा विधायक फतेह बहादुर सिंह की पत्नी साधना सिंह को अपना उम्मीदवार...

भोजपुरी एक्टर खेसारीलाल यादव ने की अखिलेश यादव से मुलाकात, फोटो ट्वीट कर लिखी ये बड़ी बात

खेसारीलाल कई मौकों पर बीजेपी का विरोध कर चुके हैं. फिर चाहे वह किसान आंदोलन हो या अन्य मुद्दे. उन्होंने खुलकर केंद्र...

महाराजगंज में दो मासूम बच्‍चों की गड्ढे में डूबने से मौत, खेलने के दौरान हुआ हादसा

Maharajganj: महाराजगंज जनपद के बृजमनगंज नगर पंचायत क्षेत्र सहजनवां बाबू रोड पर मंगलवार को एक गड्ढे में डूबने से दो बच्चों मौत...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडीकोरोना काल मे फर्जी अस्पतालों की आई बाढ़ (((अंगद राय की कलम से)))

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

नन्हीं रिमझिम (अंशिका) का सपना पूरा हुआ। पिता के हाथों बनाई गई खड़ाऊं अपने हाथ से उसने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेंट की। मुख्यमंत्री ने आधे घंटे रिमझिम से बात की। उससे कविता सुनी। डीएम को बुलाकर कहा कि बिटिया को कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

ये भी पढ़े :  शिवसेना ने की भारत में बुर्का बैन करने की मांग, पीएम से पूछा- लंका में हुआ, अयोध्या में कब होगा?

मुख्यमंत्री ने अपने राहत कोष से रिमझिम को पांच लाख रुपए देने की घोषण की। इसके अलावा उसको पिता के बीमा के भी पांच लाख रुपए दिए जा रहे हैं। माल के सालेहनगर की रिमझिम मुख्यमंत्री को खड़ाऊं भेंट करना चाहती है यह आपके अपने अखबार ‘हिन्दुस्तान’ ने प्रमुखता से छापा था। इसका मुख्यमंत्री ने संज्ञान लिया और गुरुवार को रिमझिम को आवास पर बुलाया।

रिमझिम के माता पिता दोनों ही नहीं है। तीन साल पहले मां की मृत्यु हो गई थी। पिता आनन्द शर्मा बिजली विभाग में संविदा कर्मी थे। बीते नवम्बर में खंभे से चिपक कर उनकी मृत्यु हो गई। हस्तशिल्प के कारीगर भी थे। अपने हाथों से मुख्यमंत्री के लिए खड़ाऊं बनाई। बीते पांच नवम्बर को दुर्घटना में मृत्यु हो गई। अपनी बिटिया रिमझिम से वह सारी बात बताते थे। रिमझिम की मां तीन वर्ष पहले ही स्वर्ग सिधार चुकी हैं। पिता को खोने के बाद रिमझिम का एक ही सपना था कि मुख्यमंत्री योगी बाबा को खड़ाऊं भेंट करनी है।

ये भी पढ़े :  ब्रेकिंग:-कुख्यात विजय दुबे को पकड़ने में नाकाम पुलिस ने इनाम राशि बढाकर की एक लाख

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: