Home Uttar Pradesh लॉकडाउन के बीच बेसहारा महिला की मौत पर ‘बेटा’ बनी यूपी पुलिस….

लॉकडाउन के बीच बेसहारा महिला की मौत पर ‘बेटा’ बनी यूपी पुलिस….

211

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

सहारनपुर. लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराती यूपी पुलिस (UP Police) का मानवीय चेहरा भी सामने आया है. यहां बड़गांव पुलिस ने अपना फर्ज निभाते हुए बेसहारा बीमार महिला के जीवन को बचाने के लिए पूरा अथक प्रयास किया लेकिन महिला बीमारी और अपने एकाकी जीवन से लड़ नहीं पाई और मौत के आगे हार गई. एसएसआई दीपक चौधरी ने भेजा था इलाज के लिए दरअसल बड़गांव थाने में तैनात एसएसआई दीपक चौधरी ने बीमार बेसहारा एक महिला मीना को अपने हाथों से खाना खिलाकर इलाज के लिए सरकारी अस्पताल भिजवाया था. अन्य कोई रिश्तेदार न होने के कारण इनको सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पुलिस की गाड़ी ही ले गई थी. उपचार के दौरान ज़िला अस्पताल में 55 वर्षीय मीना की मृत्यु हो गई. मीना की मृत्यु की सूचना के बाद एसएसआई दीपक चौधरी ने अपने पुलिसकर्मी साथियों के साथ गांव किशनपुर पहुंचकर गहरा दुख प्रकट किया.
इसके बाद एसएसआई दीपक चौधरी और उनके सहयोगी कांस्टेबल गौरव कुमार, विनोद कुमार ने महिला मीना की अंतिम यात्रा में शामिल होकर उसकी अर्थी को कंधा दिया. पुलिस ने लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए महिला का अंतिम संस्कार कराया.

ये भी पढ़े :  सीएम योगी ने बसन्त पंचमी पर लगाई त्रिवेणी में डुबकी,सर्व समाज के कल्याण के लिए की कामना.....
%d bloggers like this: