Tuesday, April 20, 2021

श्रीनगर: सचिवालय से हटा जम्मू-कश्मीर का झंडा, लहराया तिरंगा….

कोरोना कॉल में होमियोपैथी पर विश्वास रखें, योग व्यायाम करें : डॉ रूप कुमार बनर्जी

कोरोना कॉल में होमियोपैथी पर विश्वास रखें, योग व्यायाम करें : डॉ रूप कुमार बनर्जी सकरात्मक सोचें, होमियोपैथी पर...

UP: पंचायत चुनाव में पैसा बांट रहे थे BJP के पूर्व MLA के भाई, रंगे हाथ पकड़े गए

पूर्व भाजपा विधायक अवनीन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ महंत दूबे के छोटे भाई व पूर्व प्रधान सत्येन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ राजू द्विवेदी को...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर दी...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव          

गोरखपुर टाइम्स ब्रेकिंग :-    अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव               अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने...

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट          गोरखपुर : महापौर सीताराम जायसवाल ने...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के सचिवालय पर आज केवल तिरंगा लहराया. इससे पहले तक सचिवालय की इमारत पर तिरंगा के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर का भी झंडा लहराता था. आज दोपहर करीब 2.30 बजे श्रीनगर सचिवालय से जम्मू कश्मीर का झंडा उतारा गया. दरअसल, इसी साल पांच अगस्त को मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कई प्रावधानों को खत्म करने का फैसला किया था. अनुच्छेद 370 में ही जम्मू-कश्मीर के लिए अलग संविधान और झंडा का प्रावधान था. अब अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में भारत का संविधान पूरी तरह से लागू हो गया है. एक अधिकारी ने बताया कि झंडे को 31 अक्टूबर को हटाया जाना था, जब जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में बांटे जाने का फैसला लागू होगा. लेकिन उससे पहले ही जम्मू-कश्मीर का झंडा हटा दिया गया और केवल तिरंगा फहराया गया. अधिकारियों ने कहा कि अन्य सरकारी इमारतों से भी जम्मू-कश्मीर का झंडा हटा दिया गया है.

ये भी पढ़े :  मदरसे में बच्चियों से यौन उत्पीड़न, 63 साल का यूसुफ गिरफ्तार....
ये भी पढ़े :  Unlock-3 में नए नियमों के साथ खुल सकते हैं सिनेमाघर!

7 जून 1952 को जम्मू-कश्मीर के लिए अलग झंडे की मंजूरी दी गई थी. इसी साल पांच अगस्त को केंद्र की मोदी सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 370 के कई प्रावधानों को निरस्त कर दिया था, जिसमें रेजीडेंसी और सरकारी नौकरियों के लिए जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा दिया गया था। संसद ने इस संबंध में एक प्रस्ताव को मंजूरी दी. साथ ही जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने का फैसला किया. बाद में 9 अगस्त को, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम, 2019 को मंजूरी दी. यह फैसला 31 अक्टूबर से अस्तित्व में आएगा. पांच अगस्त से ही कश्मीर के कई हिस्सों में कड़े प्रतिबंध लागू हैं.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

अभिनेता अक्षय कुमार हुए कोरोना पॉजिटिव,खुद घर पर हुए क्वरन्टीन….

फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार कोरोना संक्रमित पाए गए।।उन्होंने अपना टेस्ट करवाया जिसमे व्व पॉजिटिव पाए गए।।जिसके बाद उन्होंने खुद को घर मे...

बुजुर्ग माता-पिता की सेवा नहीं की तो संपत्ति से होंगे बेदखल

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अब बुजुर्ग माता-पिता के हित में नया कानून लाने की तैयारी में है। योगी सरकार अब...

घरों में साफ-सफाई का काम करती हैं कलिता माझी, BJP ने इस सीट से दिया टिकट

भारतीय जनता पार्टी ने 18 मार्च यानी गुरुवार को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के लिए 148 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की...
%d bloggers like this: