Sunday, February 28, 2021

संसद में किसान आंदोलन पर बोले PM मोदी- प्रदर्शन खत्म कीजिए, सब मिल-बैठकर बात करेंगे

सर्वोदय महाविद्यालय कौड़ीराम में छात्रों को दी गई राष्ट्र सेवा की शिक्षा

लक्ष्य के प्रति केंद्रित रहते हुए करें सम्पूर्ण चुनौतियों का सामना- सत्य चरण लक्क़ी स.कि.पी.जी.कालेज में रासेयो शिविर का...

पत्नी पंखुड़ी पाठक पर विवादित टिप्पणी से आहत पूर्व सपा प्रवक्ता अनिल यादव ने छोड़ी समाजवादी पार्टी

कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक के पति व समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल यादव ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया है....

Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल समेत इन पांच राज्यों की चुनावी तारीखों का ऐलान हुआ, 2 मई को आएंगे नतीजे।

Elections 2021: निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर...

RPM व DDU से पढ़ी पूजा पांडेय का हुआ कंपनी सेक्रेटरी(सीएस) पद पर चयन,लगा बधाईयों का तांता

पूजा पांडेय का हुआ कंपनी सेक्रेटरी(सीएस) पद पर चयन कौडीराम, गोरखपुर।भारतीय कंपनी सचिव संस्थान द्वारा आयोजित कंपनी सेक्रेटरी(सीएस) परीक्षा...

भारत बंद के दौरान कल पूरे देश में 8 करोड़ व्यापारी करेंगे हड़ताल, बाजार बंद के साथ होगा चक्का जाम।

Bharat Bandh देश भर में कल भारत बंद का ऐलान किया गया है। देशभर के 8 करोड़ से अधिक व्यापारी 26 फरवरी...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राज्यसभा में अपने भाषण में कहा कि कृषि कानून जरूरी कानून हैं और इन्हें लागू करने का यह सही समय है. उन्होंने किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील की और कहा कि ‘आंदोलनकारियों को समझाते हुए देश को आगे ले जाना होगा. आओ मिलकर चलें. अच्छा कदम है, किसी न किसी को करना था. मैंने किया है, गालियां मेरे हिस्से में जा रही हैं, जाने दो. कृषि मंत्री लगातार काम कर रहे हैं. एक-दूसरे को समझने-समझाने की जरूरत है.

PM ने कहा कि ‘किसान आंदोलन कर रहे हैं और यह उनका हक है लेकिन वहां बुजुर्ग बैठे हुए हैं, अच्छी बात नहीं है. उन्हें वापस ले जाइए. हम मिलकर बैठकर बात करेंगे. मैं बार-बार कह रहा हूं. हम सब मिल-बैठकर बात करने को तैयार हैं. मैं आज सदन से भी निमंत्रण देता हूं. पीएम ने किसानों को आश्वासन भी दिया कि ‘MSP था, MSP है और MSP रहेगा. हमें भ्रम नहीं फैलाना चाहिए.

ये भी पढ़े :  महराजगंज डीएम ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक कर दिए आवश्यक दिशा-निर्देश....

पीएम ने किसानों को संबोधित कर कहा कि ‘हमें समझना होगा कि हमारी खेती को खुशहाल बनाने के लिए फैसले लेने का समय है. यही समय है. इस सुधार को आगे ले जाना चाहिए. हमें एक बार देखना चाहिए कि कृषि परिवर्तन से बदलाव होता है कि नहीं. कोई कमी हो तो उसे ठीक करेंगे, कोई ढिलाई हो तो उसे कसेंगे. मैं विश्वास दिलाता हूं कि मंडियां और अधिक आधुनिक बनेंगी.’ सरकार के तीन नए कृषि कानूनों को आगे बढ़ाने की प्रतिबद्धता दोहराते हुए पीएम ने कहा कि ‘हर कानून में अच्छे सुझावों के बाद कुछ समय के बाद बदलाव होते हैं, इसलिए अच्छा करने के लिए अच्छे सुझावों के साथ, अच्छे सुधारों की तैयारी के साथ हमें आगे बढ़ना होगा.’मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि ‘चौधरी चरण सिंह हमेशा किसानों का सेंसस का जिक्र करते थे जिसमें यह बात सामने आई थी कि देश में 33 फ़ीसदी किसानों के पास 2 बीघा से कम जमीन है और 18 फ़ीसदी के पास 2 से 4 बीघे की जमीन है चौधरी चरण सिंह मानते थे कि छोटे किसानों के लिए हालात मुश्किल हैं. पीएम ने आगे कहा, ‘1971 में 1 हेक्टेयर से कम जमीन वाले किसानों की संख्या 51 फीसदी थी जो आज बढ़कर 68% हो गई है. 
यानी उन किसानों की संख्या बढ़ रही है जिनके पास बहुत कम जमीन है. आज देश में 86 फ़ीसदी ऐसे किसान हैं जिनके पास 2 हेक्टेयर से भी कम जमीन है. ऐसे 12 करोड़ किसान हैं. क्या इनके प्रति हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं है? हमें चौधरी चरण सिंह को सच्ची श्रद्धांजलि देने के लिए इस दिशा में कुछ करना होगा.’मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि ‘चौधरी चरण सिंह हमेशा किसानों का सेंसस का जिक्र करते थे जिसमें यह बात सामने आई थी कि देश में 33 फ़ीसदी किसानों के पास 2 बीघा से कम जमीन है और 18 फ़ीसदी के पास 2 से 4 बीघे की जमीन है चौधरी चरण सिंह मानते थे कि छोटे किसानों के लिए हालात मुश्किल हैं.’ पीएम ने आगे कहा, ‘1971 में 1 हेक्टेयर से कम जमीन वाले किसानों की संख्या 51 फीसदी थी जो आज बढ़कर 68% हो गई है. 
यानी उन किसानों की संख्या बढ़ रही है जिनके पास बहुत कम जमीन है. आज देश में 86 फ़ीसदी ऐसे किसान हैं जिनके पास 2 हेक्टेयर से भी कम जमीन है. ऐसे 12 करोड़ किसान हैं. क्या इनके प्रति हमारी कोई जिम्मेदारी नहीं है? हमें चौधरी चरण सिंह को सच्ची श्रद्धांजलि देने के लिए इस दिशा में कुछ करना होगा.

ये भी पढ़े :  झूठ का पर्दाफास: रेलवे ने प्रवासी मजदूरों को कोई टिकट नहीं बेचा, बल्कि राज्य सरकारों से लिया सामान्य किराया

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पत्नी पंखुड़ी पाठक पर विवादित टिप्पणी से आहत पूर्व सपा प्रवक्ता अनिल यादव ने छोड़ी समाजवादी पार्टी

कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक के पति व समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल यादव ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया है....

Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल समेत इन पांच राज्यों की चुनावी तारीखों का ऐलान हुआ, 2 मई को आएंगे नतीजे।

Elections 2021: निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर...

भारत बंद के दौरान कल पूरे देश में 8 करोड़ व्यापारी करेंगे हड़ताल, बाजार बंद के साथ होगा चक्का जाम।

Bharat Bandh देश भर में कल भारत बंद का ऐलान किया गया है। देशभर के 8 करोड़ से अधिक व्यापारी 26 फरवरी...
%d bloggers like this: