Saturday, January 23, 2021

मोदी सरकार का बड़ा फैसला: एक ही झटके में इस्लामिक कट्टरपंथियों को करारा जवाब देते हुए ‘हलाल’ शब्द को हटा दिया है।

ट्रैक्टर मार्च: किसानों की तरफ से पेश किए गए शख्स का दावा- चार किसान नेताओं को गोली मारने की रची गई थी साजिश

आज सिंघु बार्डर पर किसान यूनियन की तरफ से एक शख्स को पेश किया गया, जिसनें दावा किया कि 26 जनवरी को...

गोरखपुर महोत्सव को सफल बनाने हेतु पीसीएस प्रतिमा त्रिपाठी को कमिश्नर ने किया सम्मानित

गोरखपुर महोत्सव को सफल बनाने हेतु पीसीएस प्रतिमा त्रिपाठी को कमिश्नर ने किया सम्मानित गोरखपुर की पहचान बन कर...

मृतक के स्पर्म पर पिता या उसकी विधवा पत्नी का अधिकार? कलकत्ता हाईकोर्ट ने सुनाया फैसला

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने एक पिता द्वारा अपने मृत बेटे के जमा किए हुए स्पर्म पर पेश की दावेदारी...

भजन सम्राट और जगराता में माता के भजन गाने के लिए मशहूर नरेंद्र चंचल का दिल्ली में आज निधन हो गया

भजन सम्राट और जगराता में माता के भजन गाने के लिए मशहूर नरेंद्र चंचल का दिल्ली का आज निधन हो गया. अपोलो...

आज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र फरेन्दा में कोविड-19 की पहली डोज डॉ सी वी पांडेय को लगाया गया

Maharajganj: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फरेंदा में महराजगंज के डीएम डॉ उज्जवल कुमार एवँ सीएमओ डॉ ए के श्रीवास्तव की मौजूदगी में...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

केंद्र की मोदी सरकार ने एक ही झटके में इस्लामिक कट्टरपंथियों को करारा जवाब देते हुए ‘हलाल’ शब्द को हटा दिया है। ‌ APEDA यानी ‘कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (Agricultural and Processed Food Products Export Development Authority)’ ने अपने रेड मीट मैनुअल में से हलाल शब्द को ही हटा दिया है इसके बिना ही दिशा निर्देश जारी किए हैं।

ये भी पढ़े :  अंबाला एयरफोर्स स्टेशन और दिल्ली-अयोध्या को बम से उड़ाने की धमकी, पढ़ें- 'जासूस मोनिका' का खौफनाक पत्र

APEDA ने अपने ‘फूड सेफ्टी मैनेजमेंट सिस्टम’ में बदलाव किया है। पहले इसमें लिखा हुआ करता था कि जानवरों को ‘हलाल’ प्रक्रिया का कड़ाई से पालन करते हुए जबह किया जाता है, जिसमें इस्लामी मुल्कों की ज़रूरतों को ध्यान में रखा जाता है। लेकिन अब पासा बिल्कुल पलट गया है अब इसकी जगह लिखा गया है, “मीट को जहाँ आयात किया जाना है, उन मुल्कों की ज़रूरतों के हिसाब से जानवरों का जबह किया गया है।”

पेज 30 पर जहाँ पहले लिखा था, “इस्लामी संगठनों की मौजूदगी में जानवरों को हलाल प्रक्रिया के तहत जबह किया गया है। प्रतिष्ठित इस्लामी संगठनों के सर्टिफिकेट लेकर मुस्लिम मुल्कों की जरूरतों का ध्यान रखा गया है”, वहाँ अब लिखा है, “आयातक देश के ज़रूरतों के अनुसार जानवरों को जबह किया गया है।” पेज संख्या 35, 71 और 99 पर भी बदलाव किया गया है।

  • हलाल शब्दकोश लिखकर सोशल मीडिया पर हमेशा बवाल मचता रहता है। करीब 6 महीने पहले भी सोशल मीडिया पर सरकारी दस्तावेजों में हलाल शब्द को लेकर भारत में बवाल मचा था। जिसके बाद सरकारी विभाग ने इस मामले को लेकर सफाई दी थी। लेकिन अब विभाग ने इस शब्द को हटाकर झंझट को खत्म कर दिया है।
ये भी पढ़े :  गोरखपुर में बड़ा बवाल करने के फिराक में कुछ लोग, चंदा मांग कर रहे है बवाल की तैयारी।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

ट्रैक्टर मार्च: किसानों की तरफ से पेश किए गए शख्स का दावा- चार किसान नेताओं को गोली मारने की रची गई थी साजिश

आज सिंघु बार्डर पर किसान यूनियन की तरफ से एक शख्स को पेश किया गया, जिसनें दावा किया कि 26 जनवरी को...

मृतक के स्पर्म पर पिता या उसकी विधवा पत्नी का अधिकार? कलकत्ता हाईकोर्ट ने सुनाया फैसला

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने एक पिता द्वारा अपने मृत बेटे के जमा किए हुए स्पर्म पर पेश की दावेदारी...

भजन सम्राट और जगराता में माता के भजन गाने के लिए मशहूर नरेंद्र चंचल का दिल्ली में आज निधन हो गया

भजन सम्राट और जगराता में माता के भजन गाने के लिए मशहूर नरेंद्र चंचल का दिल्ली का आज निधन हो गया. अपोलो...
%d bloggers like this: