Monday, June 14, 2021

साथ जी न सके तो एक साथ फांसी के फंदे पर लटक गए प्रेमी युगल…

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडीकोरोना काल मे फर्जी अस्पतालों की आई बाढ़ (((अंगद राय की कलम से)))

महराजगंज के नगर पंचायत आनंद नगर में गैस सिलेंडर फटा, छः लोग जख्मी

Maharajganj: महाराजगंज जिले की नगर पंचायत आनंद नगर के धानी ढाला पर जमीर अहमद के मकान में सुबह 6:30 बजे खाना...

69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण के नियमों का बड़े पैमाने पर अव्हेलना को लेकर आज़ाद समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष ने एसडीएम को सौंपा...

Maharajganj: 69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण के नियमों की बड़े पैमाने पर अवहेलना की गयी है जिसमें OBC वर्ग...

तेज रफ्तार कार से ऑटो की भिड़ंत, घायलों को पहुंचाया गया अस्पताल।

फरेंदा (महराजगंज): जनपद में हर रोज हो रहे सड़क हादसे चिंता का बड़ा सबब बनते जा रहे हैं। फरेंदा कस्बे के उत्तरी...

दूसरों की मदद करने से जो खुशी मिलती है वही असली आनंद :- पवन सिंह

कुछ करने से अगर खुशी की अनुभूति होती है तो उससे बढ़कर आनंद किसी में नहीं है। आनंद को शब्दों में व्यक्त...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

गोरखपुर के खोराबार में कैथवलिया गांव के पास मंगलवार को शीशम के पेड़ से लटक रही प्रेमी युगल की लाश मिली है। जानें दोनों ने अपनी जान क्‍यों दी।

गोरखपुर के खोराबार में कैथवलिया गांव के पास मंगलवार को शीशम के पेड़ से लटक रही प्रेमी युगल की लाश मिली है। युवती की पहचान इसी गांव के ओमप्रकाश की बेटी पूजा और युवक की पहचान जंगल सिकरी निवासी उसके रिश्तेदार सरबजीत के पुत्र धर्मेंद्र के रूप में हुई है। शुरुआती छानबीन के आधार पर पुलिस इसे खुदकुशी की घटना मान रही है, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही किसी ठोस नतीजे पर पहुंचने की बात कही है। पूजा की मां और भाई को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।

सुबह खेत की तरफ टहलने निकले लोगों ने गांव के बाहर पेड़ से लटक रही युवक और युवती की लाश देखकर पुलिस को इसकी सूचना दी। इस बीच गांव के लोग भी एकत्र हो गए। पूजा के परिजनों ने बताया कि सोमवार की रात में उसी ने खाना बनाया था। सबको खिलाने के बाद खुद भी खाना खाकर छत पर सोने चली गई। मंगलवार को सुबह बिस्तर पर नहीं मिली। पहले तो परिजनों ने इस पर ध्यान नहीं दिया, लेकिन काफी देर तक उसका पता न चलने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कर दी। इसी बीच उन्हें गांव के बाहर युवक के साथ पेड़ से लटकती उसकी लाश मिलने की जानकारी हुई।

ये भी पढ़े :  इस बीजेपी नेता का दावा महेन्द्र सिंह धोनी बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करेंगे....

पूजा के साथ धर्मेंद्र की लाश मिलने की सूचना पर उसके परिजन मौके पर पहुंच गए। दोनों के परिजनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने बताया कि धर्मेंद्र का पूजा के घर अक्सर आना-जाना था। तीन साल से उनके बीच प्रेम संबंध था। इस बीच पूजा के परिजनों ने उसकी शादी तय कर दी, जबकि पूजा और धर्मेंद्र एक-दूसरे से अलग रहने को तैयार नहीं थे। पूजा के परिजन धर्मेंद्र के साथ उसकी शादी करने को तैयार नहीं थे। माना जा रहा है कि साथ जीने की इच्छा पूरी न होने पर उन्होंने साथ मरने का फैसला कर लिया और रात में पेड़ में फंदे से लटक गए।

ये भी पढ़े :  आधुनिक फीचर वाली 'सेलटोस' ने मचाया मार्केट में धूम,गोरखपुर भी हुआ दीवाना,शो रूम में उमड़ी भीड़,यह है फीचर.....

25 जून को होनी थी शादी

पूजा के परिजनों ने उसकी शादी तय कर दी थी। 25 जून को उसकी बरात आनी थी। शादी का कार्ड भी बंट गया था। शादी में शामिल होने के लिए महिला रिश्तेदारों के आने का सिलसिला भी शुरू हो गया था। घर में शादी की तैयारी जोरशोर से चल रही थी, लेकिन प्रेमी के साथ पूजा के आत्मघाती कदम उठाने की वजह से सारी तैयारियों पर पानी फिर गया है।

दो माह पहले दोनों परिवारों के बीच हुई थी पंचायत

पूजा की शादी तय होने की जानकारी होने के बाद धर्मेंद्र काफी परेशान हो गया था। परिवार के लोगों को पूजा से प्रेम करने की बात बताकर उसी से शादी करने की इच्छा जताई। उधर, पूजा ने भी परिवार के लोगों के सामने धर्मेंद्र से ही शादी करने की इच्छा व्यक्त की थी। परिजन धर्मेंद्र के साथ उसकी शादी करने को तैयार तो नहीं हुए, साथ ही प्रेम संबंध के बारे में जानकारी होने के बाद उन्होंने उस पर नजर भी रखनी शुरू कर दी। हालांकि धर्मेंद्र के परिवार वाले उनकी शादी करने को तैयार थे। दो माह पहले रिश्ता लेकर वे पूजा के घर भी गए थे। इस दौरान दोनों परिवारों बीच पंचायत भी हुई थी, लेकिन पूजा के परिवार वाले शादी के लिए तैयार नहीं हुए।

ये भी पढ़े :  #MMMUT के छात्र ना हो परेशान,उनकी सारी समस्याओं का होगा उचित समाधान,ऑनलाइन क्लासेज जल्द,अभी घर मे रहे स्वस्थ व सुरक्षित रहे -कुलपति प्रो• श्रीनिवास सिंह
ये भी पढ़े :  अभी-अभी:भाजपा एमएलसी देवेंद्र सिंह भीषण सड़क हादसे में हुए घायल,स्थिति नाजुक…..

पेड़ के पास मिला दो मोबाइल फोन, सिगरेट व टाफी

जिस पेड़ से दोनों के शव लटक रहे थे, उसके पास से पुलिस को दो मोबाइल फोन, सिगरेट का पैकेट और टाफी मिली है। युवक की जेब से 120 रुपये भी मिले हैं। दोनों के कपड़े गीले थे। इस आधार पर माना जा रहा है कि खुदकुशी करने से पहले पास के पोखरे में उन्होंने स्नान भी किया था।

पेशे से मजदूर था धर्मेंद्र

चार भाइयों में धर्मेंद्र सबसे बड़ा था। घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। मजदूरी कर परिवार चलाने में वह पिता का सहयोग करता था। उसके पिता सरबजीत ने बताया कि देवरिया बाइपास रोड स्थित कोल्ड ड्रिंक एजेंसी में मजदूरी करता था। सोमवार को सुबह वह काम पर निकला था। इसके बाद घर नहीं लौटा। रात में उन्होंने उसे तलाश करने का प्रयास किया लेकिन पता नहीं चल पाया। मंगलवार को सुबह उसकी लाश मिलने की सूचना मिली।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडीकोरोना काल मे फर्जी अस्पतालों की आई बाढ़ (((अंगद राय की कलम से)))

दूसरों की मदद करने से जो खुशी मिलती है वही असली आनंद :- पवन सिंह

कुछ करने से अगर खुशी की अनुभूति होती है तो उससे बढ़कर आनंद किसी में नहीं है। आनंद को शब्दों में व्यक्त...

शहीद नवीन सिंह के परिवार को पवन सिंह ने दिया सहयोग।

जम्मू कश्मीर में शहीद हुए गोरखपुर निवासी...
%d bloggers like this: