Tuesday, October 26, 2021

सिंघडिया आदर्श नगर जन औषधि केंद्र पर मनाया गया जन औषधि दिवस…..

समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान!

Gorakhpur: समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान! आज गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर...

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

देश भर में जनऔषधि दिवस ’मनाया गया। जनऔषधि दिवस’ के अवसर पर, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने जनऔषधि केंद्रों के मालिकों और प्रधानमंत्री भारतीय जनशक्ति परिषद (PMBJP) के लाभार्थियों के साथ बातचीत की। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से देश। योजना के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सभी PMBJP केंद्रों पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। इन कार्यक्रमों में डॉक्टरों, स्वास्थ्य विशेषज्ञों, गैर सरकारी संगठनों और लाभार्थियों की भागीदारी देखी गई। जनऔषधि दिवस का उद्देश्य आगे की प्रेरणा प्रदान करना और जेनेरिक दवाओं के उपयोग के बारे में जागरूकता पैदा करना है। यह दिन सरकार द्वारा आयुष्मान भारत, पीएमबीपीपी इत्यादि जैसे गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा को किफायती बनाने की दिशा में शुरू की गई पहल पर भी प्रकाश डालता है। सस्ती और गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाओं को लोगों के बीच लोकप्रिय बनाने के लिए सरकार ने प्रधान मंत्री भारतीय जनऔषधि योजना शुरू की। सरकार का लक्ष्य 2020 तक देश के प्रत्येक ब्लॉक में कम से कम 1 पीएमबीजेपी केंद्र है।
ये भी पढ़े :  चोरो ने आभूषण व नकदी समेत लाखों का माल किया पार

• प्रतिदिन लगभग 10-15 लाख लोगों को जनौषधि दवाओं से लाभ होता है और जेनेरिक दवाओं का बाजार हिस्सा पिछले 3 वर्षों में 2 प्रतिशत से 7 प्रतिशत तक बढ़कर तीन गुना हो गया है।

ये भी पढ़े :  गोरखपुर विश्वविद्यालय शिक्षक भर्ती : भाजपा विधायक ने राज्‍यपाल काे लिखा पत्र, कहा- उच्चस्तरीय जांच हो...
• भारत में जानलेवा बीमारियों से पीड़ित रोगियों के जेब खर्च को कम करने में जनऔषधि दवाओं ने बड़ी भूमिका निभाई है। • PMBJP योजना ने आम नागरिकों के लिए लगभग 1000 करोड़ रुपये की कुल बचत का नेतृत्व किया है, क्योंकि ये दवाएं औसत बाजार मूल्य के 50 प्रतिशत से 90 प्रतिशत तक सस्ती हैं। • PMBJP स्व-स्थायी आय के साथ स्वरोजगार का एक अच्छा स्रोत भी प्रदान कर रहा है क्योंकि प्रति माह औसत बिक्री प्रति दुकान 1.50 लाख रुपये तक बढ़ी है, जो कि बीपीपीआई द्वारा किए गए सर्वेक्षण के अनुसार है। • दिल्ली, गुवाहाटी, बेंगलुरु और चेन्नई में चार बड़े गोदाम खोले गए हैं ताकि सभी पीएमबीजेपी केंद्रों पर जनऔषधि दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके। • PMBJP योजना के तहत सस्ती गुणवत्ता वाले स्वास्थ्य उत्पादों की एक विस्तृत श्रृंखला पहले ही लॉन्च की जा चुकी है जिसमें ऑक्सो-बायोडिग्रेडेबल सेनेटरी नैपकिन भी शामिल है। 2.50 प्रति पीस; जन औषधि स्वाभिमान पर रु। 5 वयस्क डायपर के पैक के लिए 140; जन आषाढ़ी बच्चन 20 रुपये में केवल 5 बेबी डायपर के पैक के लिए; जन आयुषी अंकुर गर्भावस्था परीक्षण किट 20 रु।
ये भी पढ़े :  शराब माफियाओं के विरुद्ध होगी गुंडा एक्ट की कार्यवाही सुरियावां कोतवाली में पुलिस अधीक्षक राजेश यश ने किया आकस्मिक निरीक्षण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जनऔषधि मेडिकल स्टोर जैसे एक्सक्लूसिव आउटलेट्स के माध्यम से, विशेष रूप से गरीबों और वंचितों को सभी को सस्ती कीमत पर उच्च गुणवत्ता वाली दवाइयां उपलब्ध कराने के उद्देश्य से शुरू किया था। यह योजना जेनेरिक दवाओं को बेचने वाले समर्पित स्टोरों के माध्यम से सस्ती कीमत पर गुणवत्तापूर्ण दवाएं उपलब्ध कराती है। दवाएं, हालांकि कीमत में कम हैं, गुणवत्ता और प्रभावकारिता में महंगी ब्रांडेड दवाओं के बराबर हैं। योजना के मुख्य उद्देश्य
ये भी पढ़े :  NH29 के निकट दर्दनाक हादसा ग़जपुर मोड़ के निकट कोचिंग जा रही छात्रा का एक्सीडेंट, रास्ते मे मौत
• लागत प्रभावी दवाओं और उनके नुस्खे के बारे में अधिक जागरूकता को बढ़ावा देना। • सार्वजनिक-निजी भागीदारी के माध्यम से सस्ती कीमतों पर अनब्रांडेड गुणवत्ता वाली जेनेरिक दवाएं उपलब्ध कराना। • डॉक्टरों को प्रोत्साहित करने के लिए, विशेष रूप से सरकारी अस्पताल में जेनेरिक दवाओं को निर्धारित करने के लिए। • स्वास्थ्य देखभाल में पर्याप्त बचत को सक्षम करने के लिए, विशेष रूप से गरीब रोगियों और लंबे समय तक नशीली दवाओं के उपयोग की आवश्यकता वाले पुराने रोगों से पीड़ित लोगों के मामले में।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान!

Gorakhpur: समाजवादी छात्रसभा महानगर गोरखपुर ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चलाया सदस्यता अभियान! आज गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...
%d bloggers like this: