Wednesday, March 20, 2019
Uttar Pradesh

सीएम ने दिया मंत्र, ‘जैसे मेरे लिए जुटते थे वैसे ही इस बार जुटें….

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर लोकसभा क्षेत्र के विधायकों और पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि जैसे उनके लिए प्रचार में जुटते थे वैसे ही इस बार भी जुटें। लखनऊ में पिछले दो दिन से विधायकों और पदाधिकारियों से मुलाकात के दौरान उन्होंने ये बात कही।

उपचुनाव की गलतियों से सबक लेकर फुल प्रूफ रणनीति बनाने का आह्वान

लखनऊ में दो दिन में गोरखपुर लोस क्षेत्र के पांच विधायकों, पदाधिकारियों से की बात

हियुवा पदाधिकारियों को भी चुनाव में जुटने का दिया निर्देश

मुलाकातों का सिलसिला मंगलवार शाम से शुरू हुआ। पहले दिन नगर विधायक डा.राधा मोहन दास अग्रवाल, सहजनवां के विधायक शीतल पांडेय, पिपराइच के महेन्द्र पाल सिंह और ग्रामीण क्षेत्र के विधायक विपिन सिंह से और बुधवार को कैम्पियरगंज के विधायक फतेह बहादुर सिंह से अलग-अलग मुलाकात हुई। इन मुलाकातों में मुख्यमंत्री ने विधायकों-पदाधिकारियों से अभी तक की तैयारियों की जानकारी ली। जमीनी स्तर पर बन रहे समीकरणों को टटोला। विधायकों से हुई मुलाकात में मुख्यमंत्री ने विधानसभावार स्थितियों की समीक्षा की। विधायकों से कहा कि बूथ स्तर पर अधिक से अधिक मतदान हो, इसका प्रयास करना चाहिए। जितना ज्यादा मतदान होगा, भाजपा को उतना फायदा होगा।

उपचुनाव की गलतियां न दोहराएं, समन्वय बनाएं

मुख्यमंत्री ने विधायकों-पदाधिकारियों से कहा कि इस बार उपचुनाव की गलतियां नहीं दोहराई जानी चाहिए। एक-एक कार्यकर्ता को जोड़कर अभियान में जुटने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग जरूर करें इसकी चिंता की जानी चाहिए।

मंगलवार शाम 6:10 बजे से पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में क्षेत्रीय अध्यक्ष डा.धर्मेन्द्र सिंह, जिलाध्यक्ष जनार्दन तिवारी, महानगर अध्यक्ष राहुल श्रीवास्तव, जिला और महानगर के चार-चार महामंत्री मिलाकर कुल 11 लोग थे। मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों से अपनी रिपोर्ट तैयार करने को कहा। उन्होंने कहा कि 2014 तक जो लोग भी चुनाव अभियान में जुटते थे उनसे इस बार भी जुटने का आग्रह करें। जरूरत हो तो सीधे उनसे बात कराएं। इस बार किसी तरह की कोताही नहीं होनी चाहिए।

आचार संहिता के पालन पर जोर

मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों से कहा कि चुनाव आचार संहिता का पालन हर हाल में होना चाहिए। टीम भावना के साथ सभी को साथ लेकर चुनाव अभियान चलाना चाहिए। सबसे ज्यादा जरूरी बूथ समितियों को सक्रिय करना है। इन समितियों के जरिए केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाने का आह्वान मुख्यमंत्री ने किया।

हियुवा नेताओं से अलग से हुई बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मंगलवार दोपहर हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदेश महामंत्री ई.पी.के.मल्ल, मत्स्य विकास निगम के नवनियुक्त अध्यक्ष रमाकांत निषाद और पूर्वांचल विकास बोर्ड के सदस्य विजय शंकर यादव ने भी मुलाकात की। इस मुलाकात में मुख्यमंत्री ने हियुवा की टीम को मिशन-2019 में पूरी तरह सक्रिय करने और भाजपा के साथ समन्वय स्थापित कर अभियान में जुटने का निर्देश दिया।

Advertisements
%d bloggers like this: