Thursday, February 27, 2020
Gorakhpur

सीएम योगी के सबसे ख़ास आदमी की सपा में एंट्री….

हिंदू युवा वाहिनी के पूर्व अध्यक्ष सुनील सिंह अब समाजवादी पार्टी के साथ होंगे. शनिवार को वो लखनऊ में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी में शामिल होंगे. बातचीत में सुनील सिंह ने एसपी में शामिल होने की पुष्टि की. उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के युवाओं, बेरोजगारों, गरीबों और मजदूरों के उम्मीद की किरण अखिलेश यादव की सरकार बनाने के लिए समाजवादी पार्टी में शामिल हो जा रहा हूं. उन्होंने दावा करते हुए कहा कि वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव की सरकार बने यही हमारा पहला संकल्प है. सुनील सिंह ने बताया कि धोखेबाजों और फिरकापरस्त ताकतों से लड़ने के लिए समाजवादी पार्टी में शामिल होने के लिए लखनऊ रवाना हो रहा हूं. सुनील सिंह ने बताया कि पिछले हफ्ते उनकी अखिलेश यादव से लखनऊ में मुलाकात हुई थी. उन्होंने बताया कि हमारे साथ हिंदू यूवा वाहिनी (भारत) के सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ता शनिवार को एसपी में विलय कर जाएंगे.
बता दें कि गोरखपुर की खजनी तहसील में आने वाले अहमदपुर गांव निवासी सुनील किसी समय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खास माने जाते थे. लेकिन योगी सरकार ने जुलाई 2018 में रासुका (NSA) के तहत उनके खिलाफ कार्रवाई की थी. लोकसभा में खारिज हो गया था पर्चा बीजेपी के खिलाफ बगावत का ऐलान करते हुए सुनील ने गोरखपुर से लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया था. लेकिन पर्चा खारिज होने की वजह से वो चुनाव नहीं लड़ पाए थे. वर्ष 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ आवाज बुलंद करने के कारण सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्हें किनारे कर दिया था. तभी से सुनील सिंह ने उनसे और बीजेपी के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक दिया था. सुनील सिंह के खिलाफ 70 से अधिक केस दर्जहिंदू युवा वाहिनी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह पर 70 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं. पंचरूखिया कांड, मोहन मुंडेरा कांड, मऊ दंगा सहित कई घटनाओं के बाद संघटन का कद बढ़ता गया. बाद में बगावत कर के सुनील सिंह ने हिंदू युवा वाहिनी (भारत) का गठन कर लिया

Advertisements
%d bloggers like this: