Sunday, June 20, 2021

सौ वर्ष पुराना है रेलवे का यह पुल, रोबोट जांच कर बताएगा चलने लायक है या नहीं…

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडीकोरोना काल मे फर्जी अस्पतालों की आई बाढ़ (((अंगद राय की कलम से)))

महराजगंज के नगर पंचायत आनंद नगर में गैस सिलेंडर फटा, छः लोग जख्मी

Maharajganj: महाराजगंज जिले की नगर पंचायत आनंद नगर के धानी ढाला पर जमीर अहमद के मकान में सुबह 6:30 बजे खाना...

69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण के नियमों का बड़े पैमाने पर अव्हेलना को लेकर आज़ाद समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष ने एसडीएम को सौंपा...

Maharajganj: 69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण के नियमों की बड़े पैमाने पर अवहेलना की गयी है जिसमें OBC वर्ग...

तेज रफ्तार कार से ऑटो की भिड़ंत, घायलों को पहुंचाया गया अस्पताल।

फरेंदा (महराजगंज): जनपद में हर रोज हो रहे सड़क हादसे चिंता का बड़ा सबब बनते जा रहे हैं। फरेंदा कस्बे के उत्तरी...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

पूर्वोत्तर रेलवे पुराने पुलों के खंभों की जांच के लिए पानी के अंदर रोबोट उतारेगा। रोबोट के जरिये हासिल तस्वीरों को मानीटर में सुरक्षित कर जांच के लिए विभाग को भेजा जाएगा।

पूर्वोत्तर रेलवे पुराने पुलों के खंभों की जांच के लिए पानी के अंदर रोबोट उतारेगा। रोबोट के जरिये हासिल तस्वीरों को मानीटर में सुरक्षित कर जांच के लिए विभाग को भेजा जाएगा। खामियां मिलने पर उसे तत्काल दुरुस्त कराया जाएगा।

ये भी पढ़े :  भगवान श्रीकृष्ण जी की कृपा से विशेष ऑनलाइन सत्संग के आयोजन का लाभ उठाए

अगले सप्ताह राप्ती नदी पर सहजनवां पुल और सरयू नदी पर बने एल्गिन पुल की जांच की जाएगी। रेलवे के इंजीनियरों ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। यह दोनों पुल 100 वर्ष से भी अधिक उम्र के हैं। पांच वर्ष पूर्व इन पुलों की मैनुअल जांच कराई गई थी। अब रोबोट के माध्यम से पानी में पुल के खंभों के निचले हिस्से को देखा जाएगा। पानी में रोबोट से मिलने वाले प्रोग्रामिंग के हिसाब से फोटो सीधे मॉनीटर तक पहुुंचेगा।

ये भी पढ़े :  आज गोरखपुर के पिपराइच, सहजनवां में हाेगी अखिलेश की सभा...

मॉनीटर पर मिले इमेज को पढ़कर विभाग आगे की कार्रवाई करेगा। अगर इमेज में कहीं से भी किसी भी प्रकार की खामी मिलती है तो उसकी मरम्मत शुरू होगी। इस आधुनिक तकनीक से पानी के अंदर पिलर के गुणवत्ता की सटीक जानकारी मिलती है।

सुरक्षा और संरक्षा को देखते हुए सभी पुलों की रोबोटिक टेस्ट कराने की योजना है। इससे पुलों की स्थिति के बारे में सटीक जानकारी मिल जाएगी। खामियों को तत्काल दुरस्त करा लिया जाएगा। – पंकज कुमार सिंह, सीपीआरओ, एनई रेलवे

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

दूसरों की मदद करने से जो खुशी मिलती है वही असली आनंद :- पवन सिंह

कुछ करने से अगर खुशी की अनुभूति होती है तो उससे बढ़कर आनंद किसी में नहीं है। आनंद को शब्दों में व्यक्त...

शहीद नवीन सिंह के परिवार को पवन सिंह ने दिया सहयोग।

जम्मू कश्मीर में शहीद हुए गोरखपुर निवासी...
%d bloggers like this: