Tuesday, July 23, 2019
Uttar Pradesh

स्टंट करने के चक्कर में युवक के जबड़े में घुसी सरिया…

राजधानी स्थित जनेश्वर मिश्र पार्क के गेट नंबर दो के सामने गुरुवार शाम दर्दनाक घटना हुई। स्टंट करते हुए तीन युवक अपना नियंत्रण बाइक पर खो बैठे। बाइक गोल चक्कर के चबूतरे से टकरा गई। टक्कर इतनी तेज थी कि बाइक पर सबसे पीछे बैठा युवक उछलकर गोल चक्कर के ग्रिल में लगी सरिया के ऊपर जा गिरा। सरिया उसके जबड़े को फाड़ती हुई आर-पार हो गई। वो एक घंटे तक ग्रिल में ही फंसा रहा। युवक का हाल देख मौके पर मौजूद सभी के रोंगटे खड़े हो गए। पहुंची पुलिस गर्दन के पास से सरिया काटकर ट्रामा ले गई।जहां करीब दो घंटे की सर्जरी के बाद डॉक्टरों ने 18 सेंटीमीटर लंबी सरिया निकाल ली। फिलहाल युवक की हालत नाजुक बनी हुई है, जबकि उसके दो अन्य साथी लोहिया अस्पताल में भर्ती हैं। इंस्पेक्टर त्रिलोकी सिंह के मुताबिक, तीनों युवक कौनेन (24), मोहम्मद सारिक और मोहम्मद हसन बाइक से दयाल पैराडाइज की ओर से जा रहे थे। करीब 90 की रफ्तार में स्टंट करते हुए सरिक बाइक चला रहा था।बाइक बेकाबू होते ही सबसे पीछे बैठा कौनेन उछलकर ग्रिल पर जा गिरा। 18 सेंटीमीटर लंबी सरिया जबड़े को फाड़ती हुई आर-पार हो गई। उधर, प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि फ्लाईओवर से उतरते समय स्टंट के दौरान बाइक अनियंत्रित हो गई थी। चीख-पुकार सुनकर आस-पड़ोस के दुकानदार और राहगीर वहां दौड़े। कुछ देर में चौकी प्रभारी कौशलेंद्र पुलिस कर्मियों के साथ पहुंचे। दारोगा ने कटर से सरिया कटवाकर कौनेन को निकाला और ट्रॉमा सेंटर भेजा। ट्रॉमा सर्जरी विभाग के डॉ. समीर मिश्र की टीम ने बड़ी मशक्कत से ऑपरेशन कर कौनेन के मुंह से करीब 18 सेंटीमीटर लंबी सरिया निकाला। कौनेन के भाई अफजल ने बताया कि शाम को भाई घर से दोस्तों के साथ घूमने जाने की बात कहकर निकला था। वह अमीनाबाद में एक बैग की दुकान में काम करता है। राजधानी पुलिस स्टंट बाजों पर लगाम कसने में नाकाम साबित हो रही है। जनेश्वर मिश्र पार्क फ्लाईओवर, अंबेडकर पार्क, लोहिया पथ और वीआइपी रोड पर स्टंट बाजों का शाम से जमावड़ा शुरू हो जाता है। रविवार और छुट्टियों के दिन देर रात तक बाइक और कारों से स्टंट करते हैं। निर्देश के बावजूद कार्रवाई नहीं होने से इनके हौंसले बुलंद हैं। युवक को ग्रिल में फंसा देख पड़ोस के पान मसाला दुकानदार रामसूरत निवासी नानपारा और दीपू ने चौकी प्रभारी कौशलेंद्र को बुलाया था। चौकी प्रभारी ने एक डॉक्टर की मदद से कौनेन के जबड़े के नीचे से सरिया कटवा कर निकलवाया। आननफानन में युवक को केजीएमयू के ट्रामा सेंटर ले जाया गया। यहां सर्जरी विभाग के डॉ. समीर मिश्र के अलावा डॉ. यादवेंद्र धीर व जूनियर डॉक्टर देवांशु के अलावा एनीस्थिसिया विभाग से डॉ. अंशु सिंह, डॉ. ज्योति रावत व डॉ. ज्योति चौधरी ने युवक कौनेन का ऑपरेशन ट्रॉमा किया। डॉ. समीर मिश्र ने बताया कि कौनेन के ऊपर का एक दांत भी टूट गया था। मुंह में सरिया होने के कारण उसे बेहोशी देने में कठिनाई आ रही थी। ऐसे में उसकी नाक में ट्यूब डालकर बेहोश किया गया। करीब दो घंटे तक टीम ने उसका जटिल ऑपरेशन किया। शरीर में जिस रास्ते से सरिया घुसी थी, उसी रास्ते को खोलकर धीरे-धीरे एक-एक सूत सरिया बाहर निकाली गई, ताकि शरीर के दूसरे अंग चोटिल न हों। लोगों ने एंबुलेंस सेवा 108 को सूचना दी थी। आधे घंटे बाद एंबुलेंस पहुंची। इसके पहले हसन और सारिक को निजी गाड़ी से लोहिया भेजा जा चुका था। एंबुलेंस पहुंची तब कौनेन को अस्पताल भेजा गया।

Advertisements
%d bloggers like this: