Friday, July 30, 2021

हम तो हमेशा नेताजी के साथ और समाजवादी पार्टी के साथ रहना चाहते थे. हमने केवल सम्मान मांगा था. इसके अलावा कुछ नही मांगा…

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया सामग्री का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

लखनऊ के रमाबाई मैदान में अपनी नई पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) की जनाक्रोश रैली में शिवपाल सिंह यादव का दर्द छलक पड़ा. उन्होंने समाजवादी पार्टी, परिवार में कलह की बातों को सामने रखते हुए एक बार फिर साफ किया कि ये नई पार्टी उन्होंने मुलायम सिंह यादव की सहमति मिलने के बाद ही बनाई है. जनाक्रोश रैली में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि यह रैली इस देश से बीजेपी को हटाने के लिए बुलाई है. रैली में किसान, मजदूर, अल्पसंख्यक, मुसलमान से लेकर युवा दलित सब मौजूद हैं. यह पहला मौका है कि जब रमाबाई मैदान में दलित, पिछड़े, गरीब, किसान सब इकट्ठा हुए हैं. यहां से संदेश जाना है, यहीं से परिवर्तन होना है.
शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि हमने रैली का नाम जन आक्रोश रैली इसलिए रखा कि देश और प्रदेश में जबसे बीजेपी की सरकार बनी है, सब दुखी हैं. देश विषम परिस्थितियों से गुज़र रहा है. देश पर संकट है. बीजेपी की सरकार जब-जब आई है, इन्होंने भाई को भाई से लड़ाने का काम किया. देश को कमज़ोर करने का काम किया. देश क़ब्ज़ा और क़र्ज़ा मुक्त होना चाहिए. देश पर बड़ा क़र्ज़ा है. 1086 वर्गमील पर पाकिस्तान का क़ब्ज़ा है. चीन ने भी सीमा पर क़ब्ज़ा कर रखा है. देश पर क़र्ज़ा और क़ब्ज़ा बढ़ रहा है.
शिवपाल ने पीएम मोदी के लिए कहा कि आप का सीना 56 इंच का होगा लेकिन दम नहीं है. आप के रहते क़र्ज़ा और क़ब्ज़ा दोना बढ़ा है. एक के बदले 10 सिर लाने का वादा था क्या हुआ. रोज़ सीमा पर जवान शहीद हो रहे हैं. भ्रष्टाचार कितना खत्म हुआ है. शिवपाल ने कहा कि जिलाधिकारी के यहां भी सुनवाई नहीं हो रही है. विदेशों से काला धन लाने का वादा किया था. हर किसी को 15 लाख देने का वादा था लेकिन क्या हुआ. हनारे साथ छोटे-छोटे दल हैं. हमारे साथ 44 छोटे दल हैं. वहीं मुलायम सिंह यादव का जिक्र करते हुए शिवपाल ने कहा कि नेताजी साथ हैं. 40 साल उनके साथ काम किया है. आप को संबोधित करेंगे. शिवपाल सिंह ने इस दौरान नई पार्टी बनाने के विषय में कहा कि ये फैसला क्यों किया? हम हमेशा नेताजी (मुलायम) के साथ और समाजवादी पार्टी के साथ रहना चाहते थे. मैंने कभी कोई पद नहीं मांगा. सीएम, मंत्री का पद भी नहीं मांगा. नेताजी का देश हमेशा माना. अपने परिवार में भी छोटे और बड़े का आदेश माना है. रजत जयन्ती पर हमने केवल सम्मान मांगा था. इसके अलावा कुछ नही मांगा था. हमने भी प्रयास किया. आपने मुलायम भी प्रयास किया. चुगलखोरों की वजह से जिन के पास कोई जनाधार नहीं था, उन के कहने पर सब हुआ. हमने आप (मुलायम) की इजाज़त से पार्टी बनाई. भगवती सिंह, राम नरेश, राम सेवक यादव बैठे हैं. सबके सामने आपने इजाज़त दी थी. एक दिन बाद फिर पूछा तब पार्टी बनाई है. शिवपाल ने आगे कहा कि किसान और गरीब परेशान है. उत्पीड़न हो रहा है. लड़कियां जो स्कूल जाती हैं, वो भी खतरे में हैं. हर कोई तनाव में है. छोटा बड़ा व्यापारी हर कोई तनाव में है. हर कोई परेशान हैं. शिवपाल ने मुलायम से कहा कि 1989 अक्टूबर में जब आप सीएम थे. आप ने बाबरी मस्जिद बचाई थी. देश मे दंगे को रोका था. 1992 में क्या हुआ बाबरी मस्जिद गिराई गई. बावजूद इसके कि सरकार ने एफिडेविड लगाया था. लोग मुसलमानों का नाम लेने में घबराने लगे हैं. हम 25 नवम्बर को सड़कों पर निकल पड़े थे कि अयोध्या में दंगे नहीं होने देंगे. धारा 144 का उल्लंघन होता है तो राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए. संविधान की रक्षा के लिए हमारी पार्टी सड़कों पर उतरी. इस दौरान शिवपाल ने ईवीएम के मुद्दे पर कहा कि ईवीएम से बेमानी हो सकती है.बैलेट पेपर से वोटिंग होनी चाहिए.

ये भी पढ़े :  गोरखपुर के बड़हलगंज में युवक की पिट पिट कर हत्या,अवैध संबंध का आ रहा मामला

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: