Tuesday, January 19, 2021

CM योगी का बड़ा फैसला 100 साल पुराने सारे नियम-कानून खत्म करेगी यूपी सरकार

NEET, JEE, CBSE बोर्ड परीक्षा में कम किए गए सिलेबस से ही पूछे जाएंगे सवाल

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि 2021 में होने वाली सीबीएसई बोर्ड परीक्षा कम किए गए सिलेबस (Syllabus)...

UP Panchayat Elections: इन 880 ग्राम प्रधानों के पदों पर नहीं होंगे चुनाव, मजबूरी की वजह जानेंगे ताेेे हो जाएंगे हैरान

यूपी में बाकी बचे कुल 58194 ग्राम प्रधानों के पद पर चुनाव होंगे उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव 2021 में...

Maharajganj: 12 वर्षीय लड़की का शव बरामद, गैंगरेप की आशंका, कांग्रेस नेता शैलेश गुप्ता ने उठाएं कानून व्यवस्था पर सवाल

Maharajganj District: जनपद के पुरन्दरपुर थानाक्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत खालिकगढ़ के समीप मंगलवार को जंगल में एक 12 वर्षीय लड़की की लाश...

गोरखपुर के एडीजी दावा शेरपा ने राम मंदिर के लिए दिए 1.10 लाख,पूर्व कुलपति प्रो0 राधेमोहन ने दिए 1.51 लाख…

श्री राम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान में गोरखपुर जोन के एडीजी दावा शेरपा व उनकी पत्नी पूनम शेरपा ने एक लाख...

यूपी ग्राम पंचायत चुनाव 2021 की आरक्षण नीति आज हो सकती है जारी, क्‍या होंगे नियम?

यूपी ग्राम पंचायत चुनाव 2021 की आरक्षण नीति का इंतजार आज संभवत खत्म हो सकता है । उम्मीद है कि यूपी सरकार...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

यूपी सरकार अपने बरसों पुराने व अनुपयोगी कानून खत्म करने जा रही है। योगी सरकार ने 100 साल पुराने नियम कानून (UP Law) को खत्म करने का ऐलान किया हैं। जिससे कारोबार करने वाले उद्यमी अपना उद्योग जल्द लगा सकेंगे और उन्हें नियमों के भाड़ से मुक्ति मिलेगी। साथ ही राज्य के आम जनता को भी नियम-कानून कम (UP Latest News) होने से काफी राहत मिलेगी।

यह सारे फैसले केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के निर्देश पर की जा रही है। इस मामले पर जल्द ही प्रधानमंत्री कार्यालय में समीक्षा बैठक होगी। नीति आयोग ने भी इस संबंध में गाइडलाइंस जारी की है। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इस काम को पूरा करने का जिम्मा औद्योगिक विकास विभाग को दे दिया है।

ये भी पढ़े :  चार चरणों में होगें यूपी पंचायत चुनाव, 28 जनवरी से 5 फरवरी के बीच कार्यक्रम देने पर विचार, देखे पूरी जानकारी।।

1920 का कानून बरकराररहेगा

यूपी रूल्स रेगुलेटिंग द ट्रांसपोर्ट टिंबर इन कुमाऊं सिविल डिवीजन -1920’ इस कानून को बने सौ साल हो गए है।  लेकिन वन विभाग का ये नियम कायम रहेगा। इस कानून के तहत 20 साल पहले कुमाऊं क्षेत्र समेत पूरा उत्तराखंड एक अलग राज्य बना था। इसके अलावा 82 साल पुराना एक और कनून है जिसके नाम की उपयोगिता बहुत बड़ी है। “यूपी रूल्स रेगुलेटिंग ट्रांजिट आफ टिंबर आन द रिवर गंगा एबब गढ़मुक्तेश्वर इन मेरठ डिस्ट्रिक एंड आन इटस ट्रिब्यूटेरिस इन इंडियन टेरिटेरी एबब ऋषिकेश- 1938…” इस कानून कोे लेकर अब सरकार के सामने सवाल खड़े हो रहे है कि यह कानून कायम रहेगा या नहीं।

ये भी पढ़े :  यूपी: जिन्हें विकास अच्छा नही लग रहा, वो किसानों को कर रहे गुमराह CM योगी ने विरोधियों पर साधा निशाना

इन कानून की उपयोगिता की हो रही जांच परख

इंडियन फारेस्ट यूपी (Law in UP) रूल 1964, यूपी कलेक्शन एंड डिस्पोजल आफ डि्रफ्ट एंड स्टैंडर्ड वुड एण्ड टिंबर रूल्स, यूपी कंट्रोल आफ सप्लाई डिस्ट्रब्यूशन एंड मूवमेंट आफ फ्रूट प्लांटस आर्डर-1975, यूपी फारेस्ट टिंबर एंड ट्रांजिट आन यमुना, टन व पबर नदी रूल्स 1963, यूपी प्रोडयूस कंट्रोल ,यूपी प्रोविंसेस प्राइवेट फारेस्ट एक्ट।

आवश्यक वस्तुओं से जुड़े चार कानून होंगे एक

खाद्य एवं रसद विभाग में कई एक ही तरह के एक्ट व नियमावली हैं, और कुछ कानून तो बिल्कुल एक ही जैसे है। वहीं यूपी इशेंसियल कॉमोडिटीज से जुड़े चार नियम है जिनको एक करने की तैयारी है। इसके अलावा यूपी (UP Latest News) शिड्यूल्ड कॉमोडिटीज से जुड़े भी ऐसे चार आदेश है जिनको एक बनाया जा सकता है। यूपी कैरोसीन कंट्रोल आर्डर 1962, यूपी सेल्स आफ मोटर स्पि्ट , डीजल आयल, एंड अल्कोहल टैक्सेशन एक्ट के तहत होने वाले काम दूसरे विभाग के जिम्मे सौंपा गया है।

ये भी पढ़े :  सेना ने “PM मोदी के जन्मदिन” पर दिया बड़ा तोहफा, भारतीय सेना ने किये “लश्कर के 3 आतंकी ढेर”

आपको बता दें, कि औद्योगिक विकास विभाग ने विभागों से पूछा था कि ये नियम वर्तमान में चल रहे है या नहीं। क्या इ्न्हें खत्म किया जाना चाहिए या किसी अन्य कानून अधिनियम में मिलाना चाहिए। इसके जबाब में अबतक करीब एक दर्जन विभागों ने जवाब भेज दिए है और वहीं लगभग 50 से ज्यादा कानून खत्म होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

UP Panchayat Elections: इन 880 ग्राम प्रधानों के पदों पर नहीं होंगे चुनाव, मजबूरी की वजह जानेंगे ताेेे हो जाएंगे हैरान

यूपी में बाकी बचे कुल 58194 ग्राम प्रधानों के पद पर चुनाव होंगे उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव 2021 में...

यूपी: रिश्तों को किया शर्मसार चाचा-भतीजी को हुआ इश्क, परिजनों ने किया शादी से इनकार तो…

उन्नाव: जिले के पुरवा में घर से एक किमी दूर बाग में पेड़ से नायलॉन की एक ही रस्सी...

यूपी: शादी से पहले ही 6 लाख लेकर फरार हो गई ‘सोना बाबू’, अब दर-दर भटक रहा दूल्हा

लखनऊ: लखनऊ में शादी के पहले ही लड़की अपने होने वाले दूल्हे को लाखों रुपये का चूना लगाकर...
%d bloggers like this: