Sunday, January 24, 2021

एक अप्रैल से मोदी सरकार 12 घंटे करेगी ऑफिस के घंटे, बदलेंगे पीएफ और रिटायरमेंट के नियम- जानें क्या होंगे बदलाव

उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान से सम्मानित हुए सांसद रवि किशन…

गोरखपुर,24 जनवरी।गोरखपुर के सांसद रवि किशन को मुंबई में अभियान संस्थान द्वारा आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश गौरव...

Maharajganj: अनियंत्रित होकर पलटी कार, चारों चक्का ऊपर।

Maharajganj: महराजगंज जनपद के कोल्हुई थाना क्षेत्र के गुलरिहा कला के समीप राष्ट्रीय राजमार्ग 24 पर एक कार अनियंत्रित होकर पलट गया...

‘राष्ट्रीय बालिका दिवस’ पर सीएम योगी ने दी बधाई, सृष्टि गोस्वामी आज संभालेंगी उत्तराखंड ‘सरकार’

आज बेटियां दुनिया के साथ कदम से कदम मिलाकर ऊंचे मुकाम हासिल कर रही हैं. घर ही नहीं दुनिया के सभी कामों...

Maharajganj: सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर पूर्व सपा विधायक विनोद मणि त्रिपाठी के कार्यालय पर पुष्पांजलि कर श्रद्धा सुमन अर्पित करते सपा कार्यकर्ता

महाराजगंज पूर्व सपा विधायक विनोद मणि त्रिपाठी के कार्यालय पर महान स्वतंत्रता सेनानी मातृभूमि के लिए प्राणों की आहुति देने वाले...

खुशखबरी ! जीतिए 51000 रुपये, जनपद स्तर पर होगी चौरी-चौरा थीम सांग प्रतियोगिता

चौरी -चौरा शताब्दी महोत्सवजनपद स्तर पर होगी चौरी-चौरा थीम सांग प्रतियोगिताप्रथम विजेता को संस्कृति विभाग की तरफ से मिलेगा 51 हज़ार रुपये...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

1 अप्रैल 2021 से आपकी ग्रेच्युटी, पीएफ और काम के घंटों में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है। कर्मचारियों को ग्रेच्युटी और भविष्य निधि (पीएफ) मद में बढ़ोतरी होगी। वहीं, हाथ में आने वाला पैसा (टेक होम सैलरी) घटेगा। यहां तक कि कंपिनयों की बैलेंस शीट भी प्रभावित होगी। इसकी वजह है पिछले साल संसद में पास किए गए तीन मजदूरी संहिता विधेयक (कोड ऑन वेजेज बिल)। इन विधेयकों के इस साल 1 अप्रैल से लागू होने की संभावना है।

वेज (मजदूरी) की नई परिभाषा के तहत भत्ते कुल सैलेरी के अधिकतम 50 फीसदी होंगे। इसका मतलब है कि मूल वेतन (सरकारी नौकरियों में मूल वेतन और महंगाई भत्ता) अप्रैल से कुल वेतन का 50 फीसदी या अधिक होना चाहिए। गौरतलब है कि देश के 73 साल के इतिहास में पहली बार इस प्रकार से श्रम कानून में बदलाव किए जा रहे हैं। सरकार का दावा है कि नियोक्ता और श्रमिक दोनों के लिए फायदेमंद साबितहोंगे।

ये भी पढ़े :  LIVE: कोरोना ने पकड़ी तेजी,मरीजों की संख्या 1900 से ज्यादा अब तक 55 मौत
ये भी पढ़े :  सर्वोच्च न्यायालय में लगी कृषकों के तीनों कानून का सुनवाई कर जल्द निपटारा करना चाहिए- डॉ.ए पी सिंह।।

इसलिए वेतन घटेगा और पीएफ बढ़ेगा
नए ड्राफ्ट रूल के अनुसार, मूल वेतन कुल वेतन का 50% या अधिक होना चाहिए। इससे ज्यादातर कर्मचारियों की वेतन संरचना बदलेगी, क्योंकि वेतन का गैर-भत्ते वाला हिस्सा आमतौर पर कुल सैलेरी के 50 फीसदी से कम होता है। वहीं कुल वेतन में भत्तों का हिस्सा और भी अधिक हो जाता है। मूल वेतन बढ़ने से आपका पीएफ भी बढ़ेगा। पीएफ मूल वेतन पर आधारित होता है। मूल वेतन बढ़ने से पीएफ बढ़ेगा, जिसका मतलब है कि टेक-होम या हाथ में आने वाला वेतन में कटौती होगी।

रिटायरमेंट की राशि में होगा इजाफा
ग्रेच्युटी और पीएफ में योगदान बढ़ने से रिटायरमेंट के बाद मिलने वाली राशि में इजाफा होगा। इससे लोगों को रिटायरमेंट के बाद सुखद जीवन जीने में आसानी होगी। उच्च-भुगतान वाले अधिकारियों के वेतन संरचना में सबसे अधिक बदलाव आएगा और इसके चलते वो ही सबसे ज्यादा प्रभावित होंगे। पीएफ और ग्रेच्युटी बढ़ने से कंपनियों की लागत में भी वृद्धि होगी। क्योंकि उन्हें भी कर्मचारियों के लिए पीएफ में ज्यादा योगदान देना पड़ेगा। इन चीजों से कंपनियों की बैलेंस शीट भी प्रभावित होगी।

ये भी पढ़े :  971 करोड़ रुपये में बनेगी नई संसद, हर मेंबर को मिलेगा दफ्तर, यहां जानें 11 खास बातें

काम के घंटे 12 घंटे करने का प्रस्ताव
नए ड्राफ्ट कानून में कामकाज के अधिकतम घंटों को बढ़ाकर 12 करने का प्रस्ताव पेश किया है। ओएसच कोड के ड्राफ्ट नियमों में 15 से 30 मिनट के बीच के अतिरिक्त कामकाज को भी 30 मिनट गिनकर ओवरटाइम में शामिल करने का प्रावधान है। मौजूदा नियम में 30 मिनट से कम समय को ओवरटाइम योग्य नहीं माना जाता है। ड्राफ्ट नियमों में किसी भी कर्मचारी से 5 घंटे से ज्यादा लगातार काम कराने को प्रतिबंधित किया गया है। कर्मचारियों को हर पांच घंटे के बाद आधा घंटे का विश्राम देने के निर्देश भी ड्राफ्ट नियमों में शामिल हैं।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

‘राष्ट्रीय बालिका दिवस’ पर सीएम योगी ने दी बधाई, सृष्टि गोस्वामी आज संभालेंगी उत्तराखंड ‘सरकार’

आज बेटियां दुनिया के साथ कदम से कदम मिलाकर ऊंचे मुकाम हासिल कर रही हैं. घर ही नहीं दुनिया के सभी कामों...

नरेंद्र मोदी के बाद प्रधानमंत्री पद के लिए योगी आदित्यनाथ या अमित शाह? जानें सर्वे में लोगों ने क्या दिए जवाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की लोकप्रियता अभी भी उनके समर्थकों के सिर चढ़कर बोल रहा है।...

Breaking कोविशिल्ड बना रही सीरम इंस्टीट्यूट के नए प्लांट में लगी आग

महाराष्ट्र के पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के नए प्लांट के टर्मिनल 1 गेट में आग लग गई है. आग लगने...
%d bloggers like this: