Friday, September 25, 2020

26 वर्षों मे भी नहीं चालू हो पाया जिला अस्पताल

Big breaking महराजगंज: विवादित नारे को लेकर झड़प, एक की मौत, पुलिस तैनात…

महराजगंज:- जनपद के कोठीभार क्षेत्र के बीसोखोर गांव में शुक्रवार की सुबह ग्राम प्रधान चंदन प्रजापति के खिलाफ...

कोरोना से जंग जीतने के बाद जिंदगी की जंग हार गए फिल्म जगत के दिग्गज गायक बाला सुब्रह्मण्यम…

फ़िल्म जगत के दिग्गज गायक एसपी बाला सुब्रह्मण्यम कोरोना से जंग जीतने के बाद जिंदगी की जंग हार गए।।फिल्म जगत के दिग्गज...

बिहार में बज गया चुनावी बिगुल,विधानसभा चुनाव की तिथियां घोषित……

बिहार विधानसभा चुनावों का ऐलान हो गया।।बिहार में विधानसभा चुनाव तीन चरणों में होंगे।।पहले चरण में 16 ज़िलों की 71 सीटें के...

Breaking News: यूपी में मान्यता प्राप्त पत्रकारों को 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा देगी योगी सरकार

लखनऊयूपी में मान्यता प्राप्त पत्रकारों को 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा देगी योगी सरकार

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

30 जून 2020 को भदोही जिले का निर्माण हुए पूरे 26 वर्ष हो जाएगा | इस अवधि मे जिले मे कई समस्याएं रही है और उसका समाधान भी कुछ हद तक हुआ है | पर कई ऐसी समस्या है जिनका निदान आज तक नहीं हो पाया है जो सीधे तौर पर संबंधित की लापरवाही को प्रदर्शित कर रहा है | जिम्मेदारी किसकी है से ज्यादे जरूरत इस बात पर सोचने और कहने की है की आम आदमी की चिंता किसे है | वाराणसी से अलग भदोही जिले का निर्माण इस उद्देश्य से 30 जून 1994 को किया गया था की जिले का समुचित विकास हो सके और जमीनी आवश्यकताओ की पूर्ति की जा सके | कई सरकारे आयी और गयी पर एक मूलभूत व्यवस्था को पूरा आजतक नहीं किया गया जिसकी जरूरत जिले के प्रत्येक नागरिक को है |

कोरोना वायरस की इस महामारी मे कई बातें निकल कर सामने आयी है पर दुर्भाग्यपूर्ण यह है की भदोही की इस समस्या ने अब सार्वजनिक रूप ले लिया है सबके सब्र का बाध टूट रहा है और अब हर घर से इसकी मांग उठने लगी है | 20 लाख से अधिक की आबादी वाले जिले की समस्या और जरूरत की चिंता किसे है यह कहना अभी मुश्किल है | अब तक तो आप भी समझ चूके होंगे की बात भदोही के जिला अस्पताल की हो रही है जिसकी नीव 15 वर्ष पूर्व पड़ी थी पर स्थिति मे सुधार इस लम्बी अवधि मे इतना हुआ है की रोड पर खड़े होकर कोई भी अधूरी बिल्डिंग देख सकता है | राहगीर और आम आदमी यह सोचने को विवश हो जाते है की जिला अस्पताल बनने मे और चालू होने मे कितने समय की आवश्यकता होती है |

ये भी पढ़े :  राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर कार्यशाला का हुआ आयोजन…
ये भी पढ़े :  बाँसगांव में कोरोना होगा खत्म,किया जा रहा यह बेहतरीन कार्य

बात थोड़ी अप्रत्याशित जरूर है पर तुलना योग्य जरूर है प्रदेश के लखनऊ जिले मे थोड़ी अवधि मे ही कई एकड़ के बड़े पार्क मायावती की सरकार मे बने, अखिलेश यादव की सरकार मे भी बने, और वर्तमान सरकार मे भी कई अनूठी सौगात लोगों को मिली है पर भदोही जिले के अस्पताल की जरूरत को न कोई महसूस कर रहा है न उस पर कोई कार्य हो रही है | वजह प्रदेश के मैप पर जिले का छोटा स्वरूप होना भी हो सकता है साथ ही राजनीति मे जिले से अच्छे नेतृत्व की कमी भी हो सकती है |

कहने को तो भदोही, ज्ञानपुर, गोपीगंज मे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र है पर जमीनी हकीकत यह है की कई बीमारियों जिसका जिले के लोगों से लेनादेना है उसके डॉक्टर है ही नहीं है | अस्पताल बिल्डिंग की स्थिति अत्यंत दयनीय है | जिला अस्पताल की नीव डेढ़ दशक पहले जब पड़ी थी तो लोगों को ढेरों उम्मीद थी पर उस उम्मीद की हकीकत आज सबके सामने है | आप जिले के जिस भी अधिकारी या नेता से इस विषय मे बात करेंगे, सभी चाहते है की जिला अस्पताल जल्द चालू हो पर कार्य रुका क्यो है, विलंब के लिए जिम्मेदार कौन है जनता की स्वास्थ्य सेवाओ को पूरा कैसे किया जाएगा इसका किसी के पास जबाब नहीं है |

कोरोना वायरस की इस महामारी मे भदोही जिले मे भी संक्रमित मिल रहें है ऐसे मे प्रशासन उन लोगों को मिर्जापुर जिला अस्पताल या फिर वाराणसी भेज रहा है | कई युवाओं मे इस बात का जोरदार विरोध भी है की यदि मिर्जापुर और वाराणसी के जिलों पर निर्भरता रहेगी तो 26 वर्ष पूर्व इस जिले का निर्माण ही क्यों किया गया था | कई युवाओं ने इसे चुनौती के रूप मे लिया है और सोशल मीडिया, मुख्यमंत्री शिकायत पोर्टल समेत सभी प्लेटफॉर्म पर जिला अस्पताल को जल्द पूरा कराकर प्रारंभ करने की मांग कर रहे है |

ये भी पढ़े :  गोरखपुर :-दिन रात कार्य करने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर की अभद्र टिप्पणी,बाँसगांव में दर्ज हुआ मुकदमा

भदोही जिले के समीप मिर्जापुर जिले को मेडिकल कॉलेज की सौगात मिल चुकी है जहां पर पहले से ही जिला अस्पताल उपलब्ध है | वाराणसी मे बी. एच. यू अपने आप मे सक्षम है | कई लोगों का यहाँ तक मानना है की जिले की राजनैतिक दखल प्रदेश मे कम होने से कई समस्याओ का सामना करना पड़ रहा है | सच्चाई जो भी हो पर इस बात को झुठलाया नहीं जा सकता की 20 लाख से अधिक आबादी के बारे मे कोई सोचने वाला नहीं है | आज इस महामारी ने जिले की स्वास्थ्य सेवाओ की हकीकत सबके सामने रख दी है | कई लोगों का तो यह भी मानना है की उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री जी तक यह विषय नहीं पहुच पा रहा है यदि बात सीधे मुख्यमंत्री तक पहुचती तो अब तक बड़ी कार्यवाही कई लोगों के खिलाफ होने के साथ-साथ जिला अस्पताल कार्य करना प्रारंभ हो गया होता |

ये भी पढ़े :  बिग ब्रेकिंग:-गोरखपुर पुलिस ने धर दबोचा टॉप 20 में शुमार शातिर को,नए एसएसपी ने दिया थाने को बुलेरो का ईनाम....

डॉ. अजय कुमार मिश्रा (लखनऊ)
drajaykrmishra@gmail.com

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

बाँसगांव क्षेत्र को सरकार की तरफ से मिलेगा बड़ा तोहफा,दिसम्बर तक हो जाएगा कार्य पूर्ण

सड़कों के संबंध में के अंतर्गत एक बड़ी खबर प्राप्त हो रही है जिसके तहत बताया जा रहा है...

आकाश से आई मुसीबत ने गोरखपुर वासियों का जीवन किया त्रस्त, कईयों के गिरे घर हुए घायल तो कई किसानों की फसल हुई बर्बाद

आकाश से आई मुसीबत ने गोरखपुर वासियों का जीवन किया त्रस्त, कईयों के गिरे घर तो कई किसानों की फसल हुई बर्बादपिछले...

गोरखपुर-महराजगंज-कुशीनगर सहित इन जिलों के लिए अलर्ट जारी….

पिछले 24 घंटे से पूर्वी तराई और मध्य यूपी में जारी बारिश (Rain) का सिलसिला अगले 24 घंटे...
%d bloggers like this: