Thursday, October 21, 2021

7 दिनों में 18 छात्रों की आत्महत्या, क्या शिक्षा भी चुनावी मुद्दा होगा इस देश में ?

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

जी नागेंद्र बिहार या यूपी का नहीं है। तेलंगाना का छात्र है। बोर्ड के इम्तहान में गणित में ही फेल हो गया। जो उसका प्यारा विषय था। सदमा बर्दाश्त नहीं हुआ तो जी नागेंद्र ने आत्महत्या कर ली। एक और छात्र ने दो विषयों में फेल होने के कारण ज़हर खा लिया। रिज़ल्ट आने के एक हफ्ते के भीतर 18 छात्रों ने आत्महत्या कर ली है। 11 वीं और 12 वीं के इम्तहान में 9.74 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी। 3 लाख 28 हज़ार फेल हो गए। तेलंगाना में अभिभाव संघ आंदोलन कर रहा है। कोर्ट के आदेश के कारण तीन लाख कापी की दोबारा जांच होगी।

राज्य में परीक्षा कराने का ठेका एक प्राइवेट कंपनी को दिया गया था। हर राज्य में अब यह धीरे-धीरे होने लगा है। परीक्षा बोर्ड की अपनी जवाबदेही होती है। सरकारें अब इन्हें मज़बूत करने की जगह पिछले दरवाज़े से निजी कंपनियों को परीक्षा कराने का ठेका दे रही हैं। हो सकता है कि उनके पास बेहतर तरीका हो, लेकिन सरकार यह बुनियादी काम ख़ुद क्यों नहीं कर सकती है। तेलंगाना में ग्लोबरेना टेक्नॉलजी नाम की कंपनी को ठेका दिया गया है। इस पर गड़बड़ी के आरोप लग रहे हैं। जी नव्या को तेलुगू की कापी में ज़ीरो मिला था। दोबारा जांच हुई तो 99 मिला। इंडियन एक्सप्रेस की श्रीनिवास जान्यला की ख़बर से यह सब पता चला है।

ये भी पढ़े :  यूपी: चार चरण में होंगे पंचायत चुनाव, 15 अप्रैल को होगी पहले फेज की वोटिंग, 2 मई को मतगणना
ये भी पढ़े :  धरने पर बंटे टिकैत भाई, नरेश बोले- पिटाई से अच्छा धरना खत्म करो, राकेश बोले- गोली चलेगी, तब भी नहीं हटूंगा

पिछले साल मुंबई यूनिवर्सिटी का रिज़ल्ट भी कई महीनों तक इसी तरह बर्बाद रहा। बड़ी संख्या में छात्रों के रिज़ल्ट में हेराफेरी हो गई। छात्रों को अपने रिज़ल्ट के लिए आंदोलन करना पड़ा। आप ज़रा इंटरनेट पर सर्च करें। मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट में भी प्रश्न पत्र लीक होने का मामला था। जब दिल्ली पुलिस ने जांच की तो प्राइवेट कंपनी में माना कि उनका सिस्टम फूल-प्रूफ नहीं है। छात्रों का जीवन बर्बाद हुआ और निजी कंपनी को मुनाफ़ा। धीरे-धीरे सरकारी परीक्षाएं महंगी होती जा रही हैं। फार्म भरने की फीस दो हज़ार से लेकर तीन हज़ार तक की होने लगी है।

भारत की जनता पर एक ज़िद सवार है। वह राजनीति में नेता का शौक तो पूरा कर देती है मगर अपना सवाल भूल जाती है। ख़राब शिक्षा व्यवस्था का आर्थिक नुकसान कितना होता है, इसी का हिसाब सभी को करना चाहिए। बेशक अभिभावकों का दल हिन्दू-मुस्लिम के जाल में फंस चुका है लेकिन उस जाल में फंसे अभिभावकों को भी इस सवाल से लड़ना होगा। कुछ लोग लड़ भी रहे हैं। फिर भी चुनावों को इन मुद्दों से अलग करने वाले लोग ग़लती कर रहे हैं। कोई नहीं। चुनाव के बाद ही कम से कम इस पर लौट आएं तो बहुत है। यह ज़रूरी काम है।

ये भी पढ़े :  बंगाल में लेफ्ट पार्टियों के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, अधीर रंजन चौधरी का ऐलान।।

ज़िलों और कस्बों में पढ़ने वाले छात्रों और खासकर छात्राओं के साथ बड़ा अन्याय हो रहा है। उन्हें बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का फर्ज़ी स्लोगन थमा दिया गया है। पढ़ने के लिए स्कूल और कालेजों का स्तर घटिया बना दिया गया है। नतीजा होगा कि लड़की या लड़का बीए तो पास होंगे मगर किसी लायक नहीं होंगे। पढ़ने के लिए पलायन करना पड़ रहा है और कोचिंग पर लाखों लुटाना पड़ रहा है।

अभी नहीं तो चुनाव के बाद के लिए इस मुद्दे को लेकर तैयारी कर लें। भाजपा हो या कांग्रेस या कोई भी क्षेत्रिय दल, उन पर दबाव डालें। ख़ुद भी जानकारी हासिल करें, उस पर बहस करें। सोचिए, नया राज्य बना है तेलंगाना। उसे तो उम्मीदों से लबालब होना चाहिए। सरकारें जनता के लिए नहीं बनती है, प्राइवेट कंपनियों को ठेका देने के लिए बनती है ताकि उनके पैसे लेकर फिर सत्ता में वापस आया जा सके। हम जाने अनजाने में एक ऐसा तंत्र बनने दे रहे हैं जिसके शिकार हमीं होंगे। शिक्षा का सवाल राजनीतिक सवाल है। यह चुनाव तो गोबर हो गया लेकिन उसके बाद के लिए ही इन विषयों पर तैयारी कीजिए और नई सरकार पर कुछ ठोस करने के लिए दबाव बनाइये। देख लीजिए।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...
%d bloggers like this: