Tuesday, September 21, 2021

अब भेड़-बकरियों का बनेगा आधार कार्ड, हर एक का यूनिक नंबर, बीमा भी होगा

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

लखनऊ. भारत में अब इंसान ही नहीं भेड़-बकरियों का भी आधार कार्ड बनेगा. इनका एक 10 अंकों का आधार नंबर होगा जो हर भेड़ और बकरी को अलग पहचान देगा. सभी भेड़-बकरी अपना आधार नंबर का एक छल्ला कान में पहनेंगी. दरअसल एनएडीसीपी यानी नेशनल एनिमल डिजीज कंट्रोल प्रोग्राम में अब भेड़-बकरी को भी शामिल कर लिया गया है. और पशुपालन विभाग फरवरी महीने से ही भेड़-बकरियों की ईयर टैगिंग भी शुरू कर देगा.

ये भी पढ़े :  योगी सरकार का बजट एक सन्तुलित और विकासोन्मुखी बजट है: पूर्व राज्यमन्त्री डॉ के सी पाण्डेय

गौरतलब है कि यूपी के मथुरा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 सितंबर साल 2019 में एनएडीसीपी प्रोग्राम लॉन्च किया था. पहले चरण में सरकार ने सिर्फ गोवंश और महीष वंशीय को ही प्रोग्राम में शामिल किया था जिसके बाद अब भेड़-बकरियों को भी इसमें शामिल कर लिया गया है.

मालूम हो कि गोवंश और महीष वंशीय पशुओं को आधार नंबर देने की मुहिम आखिरी चरण में है. ऐसे में इसमें भेड़-बकरी को भी शामिल कर पशुपालकों को बड़ी राहत दी गई है. अब एक-एक भेड़ और बकरी का रिकॉर्ड एनडीसीपी के पोर्टल पर दर्ज किया जाएगा. भेड़-बकरी की उम्र और पालने वाले का नाम और पता भी ऑनलाइन रहेगा. साथ ही भेड़-बकरियों को बीमा की सुविधा भी मिल सकेगी.

ये भी पढ़े :  योगी सरकार का बजट एक सन्तुलित और विकासोन्मुखी बजट है: पूर्व राज्यमन्त्री डॉ के सी पाण्डेय

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

स्वर्णकार समाज ने लोकसभा , विधानसभा में अपने प्रतिनिधित्व के लिए भरी हुँकार,जल्द प्रदेश व्यापी होगी सभा

स्वर्णकार समाज का स्वर लोकसभा एवं विधानसभाओं में मुखरित हो प्रतिनिधित्व सभी पंचायतों में हो इस विचार के साथ स्वर्णकार समाज...

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...
%d bloggers like this: