Tuesday, January 26, 2021

Big breaking सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ा झटका, तीनों कृषि कानूनों के अमल पर लगाई रोक।

नुसरत जहां भी जय श्री राम के नारेबाजी से खफा, बोलीं- राम का नाम गले लगाके बोलें, गला दबाकर नहीं

ममता के भाषण के दौरान जयश्री राम के नारे लगाए जाने पर टीएमसी की सांसद नुसरत जहां...

सहजनवा में मीट मसालों का लिया अधिकारियों ने सैम्पल

गोरखपुर के आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के आदेश पर तथा अभिहित अधिकारी गोरखपुर के निर्देश पर मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी...

घूसखोर बाबू से परेशान जनता, लगा आरोप

प्रदेश की योगी सरकार कितने भी वादे करे भ्रष्टाचार पर लगाम लगने का पर यह सिर्फ़ कागजों तक ही सीमित रह जाता...

यूपी: योगी सरकार की अजीबो गरीब आबकारी पॉलिसी, अब बिना लाइसेंस घर में रखी शराब तो…

लखनऊ: यूपी में सीमा से ज्यादा शराब रखने पर पाबंदी, घर में तय मानक से ज्यादा रखने...

ट्रैक्टरों को डीजल न देने पर भड़के टिकैत,और CM योगी को दे डाली धमकी कहा लगता है योगी सरकार भी…

केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का विरोध लगातार जारी...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार द्वारा पास किए गए तीनों कृषि कानून के लागू होने पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने मंगलवार को ये फैसला सुनाया, साथ ही अब इस मसले को सुलझाने के लिए कमेटी का गठन कर दिया गया है. सरकार और किसानों के बीच लंबे वक्त से चल रही बातचीत का हल ना निकलने पर सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला लिया.
चार सदस्य कमेटी का गठन कर दिया:
सुप्रीम कोर्ट से केंद्र सरकार को बड़ा झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने नए कृषि कानूनों के अमल को स्थगित किया है. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने चार सदस्य कमेटी का गठन कर दिया है. इस बीच गणतंत्र दिवस बाधित करने की आशंका वाली याचिका पर सोमवार को सुनवाई होगी. इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट ने किसान संगठनों को नोटिस जारी किया है.
कोई ताकत समिति का गठन करने से नहीं रोक सकती:
इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि कोई ताकत उसे नए कृषि कानूनों पर जारी गतिरोध को समाप्त करने के लिए समिति का गठन करने से नहीं रोक सकती तथा उसे समस्या का समाधान करने के लिए कानून को निलंबित करने का अधिकार है.

ये भी पढ़े :  महाराजगंज: समाज सेवी अशोक भाई गुप्ता ने की डिप्टी आरएमओ और एसडीएम से की शिकायत।

हम जनता के जीवन और सम्पत्ति की रक्षा को लेकर चिंतित:
उसने किसानों के प्रदर्शन पर कहा, हम जनता के जीवन और सम्पत्ति की रक्षा को लेकर चिंतित हैं. न्यायालय ने साथ ही किसान संगठनों से सहयोग मांगते हुए कहा कि कृषि कानूनों पर ‘‘जो लोग सही में समाधान चाहते हैं, वे समिति के पास जाएंगे’’. उसने किसान संगठनों से कहा कि यह राजनीति नहीं है. राजनीति और न्यायतंत्र में फर्क है और आपको सहयोग करना ही होगा.
सोमवार को भी हुई थी सुनवाई:
प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे, न्यायमूर्ति ए. एस. बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी. रामासुब्रमणियन की पीठ ने सोमवार को इस मामले की सुनवाई के दौरान अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुये यहां तक संकेत दिया था कि अगर सरकार इन कानूनों का अमल स्थगित नहीं करती है तो वह उन पर रोक लगा सकती है.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

नुसरत जहां भी जय श्री राम के नारेबाजी से खफा, बोलीं- राम का नाम गले लगाके बोलें, गला दबाकर नहीं

ममता के भाषण के दौरान जयश्री राम के नारे लगाए जाने पर टीएमसी की सांसद नुसरत जहां...

यूपी: योगी सरकार की अजीबो गरीब आबकारी पॉलिसी, अब बिना लाइसेंस घर में रखी शराब तो…

लखनऊ: यूपी में सीमा से ज्यादा शराब रखने पर पाबंदी, घर में तय मानक से ज्यादा रखने...

ट्रैक्टरों को डीजल न देने पर भड़के टिकैत,और CM योगी को दे डाली धमकी कहा लगता है योगी सरकार भी…

केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का विरोध लगातार जारी...
%d bloggers like this: