Sunday, July 25, 2021

बिहार में मोटी रकम वसूल कर कई देशों के बनाए जा रहे फर्जी वीजा

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

बिहार में फर्जी वीजा बनाने का बड़ा नेटवर्क चल रहा है। इनका जाल यूपी और झारखंड तक फैला है। फर्जी एजेंट रोजगार की चाह में विदेशों का रुख करने वालों से मोटी रकम वसूलकर उन्हें फर्जी वीजा थमा रहे हैं। बीते कुछ दिनों में विदेश मंत्रालय के इमीग्रेशन कार्यालय को ऐसे कई फर्जी वीजा मिले हैं। यह वीजा रूस, ओमान, साउथ अफ्रीका, केन्या, आर्मेनिया और यूएई यानि संयुक्त अरब अमीरात के हैं। यह खुलासा तब हुआ जब कुछ लोगों ने पटना के नियोजन भवन स्थित इमीग्रेशन दफ्तर से अपने वीजा के असली होने की जानकारी चाही।’

बिहार से बड़ी संख्या में लोग विभिन्न देशों में रोजगार के लिए गए हैं। सैकड़ों लोग अभी जाने की तैयारी में हैं। बिहार में विदेश भेजने का धंधा करने वाले फर्जी एजेंटों ने पूरा जाल बिछा रखा है। पहले टूरिस्ट वीजा पर नौकरी के लिए भेजने की बात सामने आई थी। मगर अब फर्जी वीजा बनाने के बड़े खेल का भी खुलासा हुआ है। दरअसल दुनिया के सभी देशों में नौकरी के लिए जाने वालों के लिए वीजा जरूरी है। इसमें संबंधित व्यक्ति के बारे में जानकारी के साथ ही उसका विदेश जाने का प्रयोजन और वहां प्रवास की अवधि अंकित होती है।

ये भी पढ़े :  बाबा विश्वनाथ के दरबार पहुंचे भोजपुरी के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव,पूजा अर्चना के बाद काशी के कोतवाल से लिया आशीर्वाद
ये भी पढ़े :  UP: पूर्वांचल के जिलों को जल मार्ग से जोड़ेगा रो-पास क्रूज,  ‘अर्थ गंगा’ को मिलेगी रफ्तार

तीन दर्जन फर्जी वीजा मिले
लॉकडाउन अवधि में फर्जी वीजा का खेल और बढ़ गया है। बिहार-झारखंड के प्रोटेक्टर ऑफ इमीग्रेंट्स कार्यालय की मानें तो बीते दो-तीन महीने में करीब तीन दर्जन फर्जी वीजा के मामले सामने आए हैं। इनमें रूस, ओमान, यूएई, साउथ अफ्रीका, केन्या, आर्मीनिया के वीजा शामिल हैं। विदेश जाने वालों या उनके परिचितों ने इस कार्यालय से वीजा की वैधता के संबंध में जानकारी चाही गई थी। यूएई के दो फर्जी वीजा झारखंड के पुरुलिया के एजेंट द्वारा बनवाए जाने की जानकारी मिली। इस संबंध में झारखंड अतिरिक्त गृह सचिव को कार्रवाई के लिए लिखा गया है। वहीं यूएई के कई फर्जी वीजा पटना के एजेंटों ने भी बनाए हैं। इसके खिलाफ भी एसएसपी पटना को शिकायत भेजी गई है। जिनके फर्जी वीजा बनाए गए हैं, उनमें यूपी के गोरखपुर और वाराणसी के भी लोग हैं।

डॉट कॉम वाली साइटें फर्जी
वैध वीजा संबंधित एंबेसी द्वारा जारी किया जाता है। यूएस और यूरोप जाने के लिए बायोमैट्रिक होती है और आवेदक को खुद वहां जाना होता है। वैध रिक्रूटमेंट एजेंट और टूर ऑपरेटर इसमें मध्यस्थ की भूमिका निभाते हैं। जहां तक ऑनलाइन वीजा की जांच करने की बात है तो फर्जी एजेंटों ने फर्जी साइटें भी तैयार कर रखी हैं। लोगों को ध्यान रखना चाहिए कि वीजा जांच वाली आधिकारिक विदेशी साइटों के अंत में डॉट कॉम नहीं होता है।

ये भी पढ़े :  यूपी: दरोगा की ही नहीं सुन रही पुलिस, केस दर्ज कराने को पांच दिन से थाने के चक्कर काट रहा

जाना पड़ सकता है जेल
अधिकांश फर्जी वीजा एयरपोर्ट पर ही पकड़ में आ जाते हैं। एकाध मामले में यदि संबंधित देश पहुंच भी गए तो वहां पकड़े जाते हैं। उन्हें बैरंग लौटना ही नहीं पड़ता, कई बार जेल भी जाना पड़ता है।

ये भी पढ़े :  नए आदेश जारी करने बजाय यूपी में बिगड़े हालातों का जायजा लें सीएम, केवल बयानबाजी से नहीं होगा प्रदेश का भला : अखिलेश यादव

फर्जी वीजा के कई मामले सामने आए हैं, जो बेहद गंभीर है। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। लोग विदेश यात्रा से पहले जांच जरूर करें और फर्जीवाड़ा करने वालों की शिकायत भी करें। शिकायतकर्ता की पहचान गुप्त रखी जाएगी। – ताविशी बहल पांडे, प्रोटेक्टर ऑफ इमीग्रेंट्स, बिहार-झारखंड

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

वाराणसी में 9साल के बच्चे की हत्या, खेत में मिला शव…….

वाराणसी। सारनाथ थाना क्षेत्र के पैगंबपुर इलाके में फूलों के खेत में 9 वर्षीय बच्चे का शव...

बाबा विश्वनाथ के दरबार पहुंचे भोजपुरी के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव,पूजा अर्चना के बाद काशी के कोतवाल से लिया आशीर्वाद

वाराणसी। भोजपुरी एक्टर खेसारी लाल यादव इस समय बनारस में हैं। खेसारी लाल यादव ने बनारस पहुँचते...
%d bloggers like this: