Sunday, July 25, 2021

भड़काऊ भाषणों से मेल खाती है JNU छात्र शरजील इमाम की आवाज,

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र शारजील इमाम की आवाज जामिया मिलिया इस्लामिया और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में पिछले साल उनके द्वारा दिए गए कथित देशद्रोही भाषणों के वीडियो से मेल खाती है। हिन्दुस्तान टाइम्स के हाथ लगी केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (CFSL) की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शनिवार को कोर्ट में एक रिपोर्ट सौंपी है, जिसमें भाषणों का वीडियो और ट्रांसक्रिप्ट भी शामिल है। सीएफएसएल का निष्कर्ष शरजील इमाम के खिलाफ केस में साक्ष्य का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। आपको बता दें कि शरजील पर जामिया और एएमयू के परिसरों पर भड़काऊ भाषण देने के आरोप हैं, जो कि पिछले साल 13 और 15 दिसंबर को जामिया के बाहर हुई हिंसा के कारण थे।

पुलिस ने शरजील इमाम के खिलाफ देशद्रोह (भारतीय दंड संहिता 124A) का मामला दर्ज किया था और नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) का विरोध करते हुए सड़कों को अवरुद्ध करने और आवश्यक आपूर्ति में बाधा पहुंचाने का भी आरोप लगाया था।

ये भी पढ़े :  यह है आज की सब्ज़ियों के रेट लिस्ट,अगर कोई देता है इसके इतर तो होगी कार्यवाही...

शरजील ने वॉयस सैंपल देने से किया था इनकार
सीएफएसएल की जांच पर आधारित दिल्ली पुलिस की रिपोर्ट में कहा गया है कि शरजील इमाम के आवाज उन भाषणों से मेल खाती है, जो एएमयू और जामिया में दिए गए थे। पुलिस के मुताबिक, शरजील ने पहले सैंपल देने से मना किया था, लेकिन कोर्ट ने 12 फरवरी को ऐसा करने का आदेश दिया था।

ये भी पढ़े :  विधायक विपिन सिंह भारतीय संविधान के निर्माता डॉ० भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर दी श्रद्धांजलि ।

आपको बता दें कि रिपोर्ट में “संभावित” शब्द का इस्तेमाल किया गया है। दिल्ली पुलिस ने अदालत में कहा है कि सीएफएसएल के रिजल्ट यह सिद्ध करने के लिए प्रयाप्त है कि 13 और 15 दिसंबर को शरजील द्वारा वास्तव में भाषण दिए गए थे।

दिल्ली पुलिस के पूर्व अतिरिक्त आयुक्त अशोक चंद ने कहा कि “संभावित” एक तकनीकी भाषा है, जिसका उपयोग वैज्ञानिक अधिकारी करते हैं। वॉयस सैंपल में कुछ एंबियंट नॉइज़ रहे होंगे, इसीलिए रिपोर्ट “संभावित मैच” कहती है। उन्होंने कहा कि अगर यह मेल नहीं खाता तो सीएफएसएल स्पष्ट रूप से उल्लेख किया होता कि नमूने मेल नहीं खाते और रिपोर्ट नकारात्मक है।

शरजील के वकील बोले- निर्थक हैं ये बातें
वहीं शरजील के वकील अहमद इब्राहिम ने कहा, ‘ये बातें निरर्थक हैं। फरवरी में शरजील ने पटियाला हाउस कोर्ट को एक हाथ से लिखित आवेदन दिया था, जहां उन्होंने मजिस्ट्रेट को सूचित किया था कि उनकी आवाज को संशोधित किया गया था और उन्हें भाषण से कुछ वाक्य बोलने के लिए कहा गया था। अदालत ने शिकायकत को संज्ञान में लिया था और परीक्षण के दौरान इस पर विचार करेगी। इसलिए इन बातों से कोई फर्क नहीं पड़ेगा। चार्जशीट की कॉपी मिलते ही हम जमानत की अर्जी दाखिल करेंगे।’

ये भी पढ़े :  बाँसगांव, गोला,बड़हलगंज,पिपराइच आदि ग्रामिण क्षेत्रों ने बता दिया हम एक हैं...देखें तस्वीरें

शरजील को बिहार से किया गया था गिरफ्तार
जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र शरजील इमाम को 28 जनवरी को दिल्ली और बिहार पुलिस की संयुक्त टीम ने बिहार के जहानाबाद में उनके घर से गिरफ्तार किया था। उनकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने कहा था कि वे जामिया परिसर में कथित हिंसा के लिए शरजील की संलिप्तता की जांच करेंगे। चार्जशीट में पुलिस ने कहा है कि शरजील ने नए नागरिकता कानून के तथ्यों को गलत तरीके से प्रस्तुत किया और इसे दिल्ली में विभिन्न कॉलोनियों और मस्जिदों में व्यापक रूप से प्रकाशित किया। साथ ही लोगों को जुटाने के लिए भड़काऊ भाषण भी दिए।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

ब्लाक प्रमुख चुनाव परिणाम: भाजपा के परिवारवाद का डंका, इन मंत्रियों और विधायकों के बहू-बेटे निर्विरोध जीते

लखनऊ: देश की राजनीति में परिवारवाद की जड़ें काफी गहरी हैं। कश्मीर से कन्याकुमारी तक वंशवाद और परिवारवाद की जड़ें और भी...

शिवपाल यादव ने दी भतीजे अखिलेश यादव को नसीहत, बोले- प्रदर्शन नहीं, जेपी-अन्ना की तरह करें आंदोलन

Lucknow: लखीमपुर में महिला प्रत्याशी से अभद्रता की कटु निंदा करते हुए प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने...
%d bloggers like this: