Saturday, July 31, 2021

देश के सबसे युवा IPS की दिल छू लेनेवाली कहानी- मां बनाती थी घर-घर रोटियां, पिता ने बेचे अंडे…

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

भारत के सबसे युवा आईपीएस सफीन हसन पर पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की वो पंक्तियां सटीक बैठती हैं जिसमें वह कहते हैं कि सपने वो नहीं होते जो सोते समय देखे जाते हैं बल्कि सपने वो होते हैं जो आपको सोने नहीं देते। 22 साल की उम्र में भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी बनकर हसन ने इन्हीं शब्दों को सच कर दिखाया है। एक मध्मवर्गीय परिवार जिसमें पिता साधारण इलेक्ट्रीशियन और मां घर खर्च चलाने के लिए मेड का काम किया करती थी। कई बार खाने तक को घर में कुछ नहीं रहता था। इतना ही नहीं उनकी पढ़ाई के लिए न कोई फाइनेंशियल सिक्योरिटी थी और कई बार तो फीस भरने के भी लाले पड़ जाते थे। लेकिन कहते हैं न सोना जितना तपता है उतना ही सुनहरा होता जाता है। तमाम विषम परिस्थितियों को हराकर आज सफीन न केवल देश के सबसे युवा आईपीएस ऑफीसर हैं बल्कि तमाम युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत भी बन गए हैं। आइए जानते हैं उनके बचपन से लेकर आईपीएस बनने की पूरी कहानी को।

ये भी पढ़े :  महराजगंज। रोजीरोटी के लिए सर्कस दिखाते हुए युवक की गई जान।

https://platform.twitter.com/embed/index.html?creatorScreenName=liveindialive&dnt=true&embedId=twitter-widget-0&frame=false&hideCard=false&hideThread=false&id=1285595740878897152&lang=en&origin=https%3A%2F%2Fliveindia.live%2F2020%2F07%2Fthe-touching-story-of-the-youngest-ips-of-the-country-mother-used-to-make-rotis-from-house-to-house-father-sold-eggs%2F&siteScreenName=liveindialive&theme=light&widgetsVersion=9066bb2%3A1593540614199&width=550px

छोटी उम्र में हासिल की बड़ी कामयाबी – 22 साल की उम्र में जब ज्यादातर युवा ये तय भी नहीं कर पाते कि उनका जीवन का लक्ष्य क्या है उस उम्र में सफीन ने पहली कोशिश में ही आइपीएस की परीक्षा पास की और आइपीएस बन गए। सफीन बताते हैं कि उन्होंने प्राइमरी स्कूल में ही तय कर लिया था कि उन्हें सिविल सेवाओं में जाना है। सफीन बताते हैं कि जब वो 5वीं कक्षा में पढ़ते थे तो उनके विद्यालय का निरीक्षण करने के लिए एक दिन उस जिले के कलेक्टर आए। जिनके आने पर उनके रुतबे और शान को देखकर सफीन ने अपने मास्टर जी से पूछा कि यह कौन हैं? उनके टीचर ने सफीन को समझाने के लिए उत्तर दिया कि बस समझ लो कि ये जिले के राजा हैं। सफीन के बाल मन में यह बात बस गयी और तभी से उन्होंने आईएएस अधिकारी बनने की ठान ली।

ये भी पढ़े :  परमिशन लेटर फाड़कर फेंका-पंडित को मारा थप्पड़, DM ने यूं रोकी कर्फ्यू में हो रही शादी


सरकारी स्कूल में हुई पढ़ाई- गुजरात, सूरत के एक छोटे से गांव कानोदर के रहने वाले हैं सफीन हसन की इसी गांव के सरकारी स्कूल में शुरुआती शिक्षा हुई। बाद की पढ़ाई भी उन्होंने सरकारी स्कूल से ही की। पढ़ायी में हमेशा से श्रेष्ठ सफीन की शुरुआती शिक्षा तो जैसे-तैसे पूरी हो गयी पर जब ग्यारहवी में उन्होंने साइंस लेनी चाही तो गांव के सरकारी स्कूलों में यह सुविधा नहीं थी। इतना पैसा नहीं था कि कोई पब्लिक स्कूल चुना जा सके. तभी वहां एक नया पब्लिक स्कूल खुला, जिसमें सफीन के पुराने शिक्षक भी थे. वे सफीन की पढ़ायी के कायल थे। उन्होंने सफीन को वहां पढ़ने का मौका दिया और फीस के बोझ से मुक्ति दिलायी।


गरीब परिवार से रखते हैं ताल्लुक- साफीन गुजरात के सूरत जिले के रहने वाले हैं। उनके माता-पिता एक हीरे की यूनिट में काम करते थे। लेकिन दुर्भाग्यवश साफीन के माता-पिता की नौकरी चली गई। जिसेक बाद घर का खर्च उठाने के लिए उनकी मां लोगों के घरों में रोटी बेलने का काम तो वहीं, पिता ने इलेक्ट्रिशियन के काम ते साथ जाड़ों में अंडे और चाय का ठेला लगाने का काम किया।

ये भी पढ़े :  सोशल मीडिया में यह फोटो जीत रही है सबका दिल, बॉलीवुड भी हुआ इन मासूमों पर लट्टू...

https://platform.twitter.com/embed/index.html?creatorScreenName=liveindialive&dnt=true&embedId=twitter-widget-1&frame=false&hideCard=false&hideThread=false&id=1285290699076669441&lang=en&origin=https%3A%2F%2Fliveindia.live%2F2020%2F07%2Fthe-touching-story-of-the-youngest-ips-of-the-country-mother-used-to-make-rotis-from-house-to-house-father-sold-eggs%2F&siteScreenName=liveindialive&theme=light&widgetsVersion=9066bb2%3A1593540614199&width=550px

आईपीएस की परीक्षा से एक दिन पहले हुआ था एक्सीडेंट, चोटिल हालत में दी थी परीक्षा- हसन ने जिस परीक्षा के लिए जी तोड़ महनत की थी उसके एक दिन पहले ही उनका एक्सीडेंट हो गया था जिसमें उनके घुटने, कोहनी और पैरों में ज्यादा चोट आई थी। लेकिन अपने जख्मों के दर्द को सहते हुए वो परीक्षा देने पहुंच गए। परीक्षा के बाद उन्होंने जब इसका इलाज कराया तो उनके घुटने का लिगामेंट क्रेक को चुका था। जिसकी बाद में उन्हें सर्जरी भी करानी पड़ी।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...
%d bloggers like this: