Monday, September 27, 2021

Gorakhpur: पास के इस मंदिर ने कोरोना ले लड़ने के लिए दे दी अपनी 60 साल की जामा पूंजी। अकूत चढ़ावे की संपत्ति…

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

डुमरियागंज क्षेत्र में स्थित इस काली मंदिर ने सेवा की मिसाल पेश की है। कपिया के लोगों ने महाकाली मंदिर के दान पात्र में जमा धनराशि को कोरोना बचाव में प्रयुक्त देने के लिए प्रशाशन को पत्र लिखा है। यह अपने आप में अलग इस लिए है क्योंकि अभी तक किसी मंदिर से इस प्रकार सहयोग देने की सिफारिश नहीं की गई, जबकि देश के मंदिरों में अकूत धनराशि चढ़ावे की मौजूद है। कपिया महाकाली स्थान कितना पुराना है यह कोई नहीं जानता।

मंदिर का इतिहास

बुजुर्ग सुनी सुनाई बात बताते हैं कि एक बार महराजगंज जनपद के लेहड़ा देवी से क्षेत्र की अधिष्ठात्री देवी पाटेश्वरी मिलकर लौट रही थीं। यहां कई एकड़ में फैले आम व नीम की छांव में उन्होंने कुछ देर विश्राम किया। उस वक्त यहां कामाख्या पीठ के सिद्ध डेरा डाले हुए थे। उन्होंने माता का स्वरूप पहचानकर यहीं रहने की स्तुति की। माता यहां  काली स्वरूप में रहने को तैयार हुई। 70 वर्ष पहले यहां भव्य मंदिर बना और दूर दराज के लोग दर्शन करने व मन्नतें मांगने पहुंचने लगे। गांव निवासी अवधेश कुमार दुबे ने बताया कि दान की रकम छह दशक से नहीं गिनी गई। लाकर की चाभी भी गांव के संभ्रांत व्यक्ति के पास है। प्रशासन जब चाहे मंदिर में जमा राशि का उपयोग कोरोना बचाव में कर सकता है। कृष्णमुरारी दूबे, कुलदीप दुबे, बृजेश जी,  मन्नू, लाले, रोशन गौतम, सुराती, मुबारक, दुलारे, जियाऊ, सलीम, मिट्ठु बाबा आदि के नाम पत्र में शामिल हैं।

ये भी पढ़े :  शादी के एक महीने बाद ही दुल्हन ने दिखाई अपनी असलियत, किया ऐसा काम.....
ये भी पढ़े :  Breaking: PM मोदी के लाइट बुझा दिया जलाने के सपोर्ट में आये 12 देश, वो भी बुझाएंगे ...

लॉकडाउन के के चलते लोग मंदिरों में नहीं जा पा रहे हैं और अधिष्ठात्री के दर्शन नहीं कर पा रहे हैं, तो इसकी सहूलियय भी प्रारंभ हो गई है। मंदिर के पुजारी का नंबर है तो ठीक है, नहीं है तो परिसर में दुकान लगाने वाले किसी भी व्यापारी को वीडियो काल करके माता के दर्शन कराने की गुजारिश की जा सकती है। सिद्धार्थनगर जिले के प्रसिद्ध गालापुर धाम में यह सुविधा मंदिर पुजारी ने प्रारंभ की है। इस दर्शन के एवज में भक्तों से कोइ शुल्क भी नहीं चार्ज किया जा रहा है। यही नहीं डुमरियागंज क्षेत्र में स्थित काली मंदिर ने अपना पूरा दानपात्र कोरोना से बचाव के लिए प्रशासन को सुपुर्द कर दिया है।

नवरात्रि में भक्‍तों को मिल रही है राहत

कोरोना का खौफ मंदिरों-मस्जिदों तक जा पहुंचा। मस्जिदों के नमाज पर जहां पाबंदी लग चुकी है वहीं मंदिरों लोग एहतियातन जाने से परहेज कर रहे हैं। मस्जिदों का तो बता नहीं, लेकिन मंदिरों ने लोगों को नवरात्रि में माता दर्शन के स्मार्ट इंतजाम कर लिए हैं। अगर आप क्षेत्र के किसी मंदिर नियमित जाते हैं और माता के प्रति आपकी श्रद्धा है तो दर्शन के लिए कोई नहीं रोक सकता। कुछ प्रसिद्ध मंदिरो में वीडियो काल करके भक्तों को दर्शन कराने का सिलसिला चल रहा है। भले ही मंदिर के दानपात्र में भक्तों का चढ़ावा न आए, लेकिन इस तकनीक से लोग अपने आराध्य के दर्शन कर पा रहे हैं।

ये भी पढ़े :  BREAKING: लॉकडाउन के दौरान अगर प्राइवेट स्कूलों ने मांगी फीस तो होगी एक साल की जेल, DM आदेश

इस मंदिर ने भी की वीडियाे कॉल की व्‍यवस्‍था

सिद्धार्थनगर के प्रसिद्ध वटवासिनी मंदिर से भी यह व्यवस्था प्रारंभ हो गई है। पुजारी की मौजूदगी में कोई भी वीडियो काल करके महाकाली के दर्शन कर सकता है। अब तो पूजन सामाग्री बेचने वाले भी वीडियो काल के जरिए माता कुछ दर्शन करा रहे हैं।  प्रसिद्व तीर्थ भारतभारी में वीडियो कालिंग के जरिए अबतक 101 लोग मातारानी के दर्शन कर चुके हैं वहीं बलुआ समय माता मंदिर में यह आंकड़ा 151 तक पहुंचने वाला है। कस्बे के दुर्गा मंदिर व लक्ष्मीनारायण मंदिर में भी अबतक 200 लोगों ने वीडियो कालिंग के जरिए माता के दर्शन किए।

ये भी पढ़े :  बिग ब्रेकिंग :-गगहा में एनएच 29 पर चक्का जाम, राहुल यादव की हत्या पर लोग आक्रोशित.....

ताकि घर से बाहर न निकलें लोग

गालापुर मंदिर के पुजारी पं ठाकुर प्रसाद मिश्रा ने कहा कि यह बेहतर सोंच है। बीमारी के खौफ से लोग घर रहें। पुजारी अथवा अन्य के माध्यम से इक्का दुक्का की संख्या में लोग वीडियो कालिंग कर माता का दर्शन कर सकते हैं। भारतभारी श्रीराम जानकी, हनुमान व देवी मंदिर के पुजारी पं. कृष्णमणि दास का कहना है कि बहुत ही अच्छा माध्यम है। लोग बीमारी के संक्रमण से बचने के लिए ऐसा कर रहे हैं जो स्वागत योग्य है। बलुआ समय माता मंदिर के पुजारी रामपियारे दास कहते हैं कि भक्तों ने बड़ी अच्छी तरकीब निकाली है। हर रोज तीस से चालीस लोग वीडियो कालिंग से समय माता के दर्शन कर रहे हैं।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...
%d bloggers like this: