Tuesday, March 2, 2021

दुनिया के सबसे बड़े कोरोना टीकाकरण अभियान का हुआ आगाज, PM मोदी ने कहा- आज के दिन का था बेसब्री से इंतजार

BJP ने तैयार किया किसान आंदोलन का काउंटर, चौपालों तक पहुंचने का बनाया मास्टर प्लान, यूपी पंचायत चुनाव पर रहेगी नजर।

उत्तर प्रदेश में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत में सफलता हासिल करने के लिए बीजेपी ने मास्टर प्लान तैयार किया है. किसान आंदोलन...

यूपी में बेरोजगारो को सरकारी नौकरियां देने के लिए सीएम योगी का नया प्लान।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में अब आउटसोर्सिंग और संविदा पर सारी भर्तियां सेवायोजन पोर्टल (Sevayojan Portal) के जरिए की जाएंगी. आउटसोर्सिंग...

सर्वोदय महाविद्यालय कौड़ीराम में छात्रों को दी गई राष्ट्र सेवा की शिक्षा

लक्ष्य के प्रति केंद्रित रहते हुए करें सम्पूर्ण चुनौतियों का सामना- सत्य चरण लक्क़ी स.कि.पी.जी.कालेज में रासेयो शिविर का...

पत्नी पंखुड़ी पाठक पर विवादित टिप्पणी से आहत पूर्व सपा प्रवक्ता अनिल यादव ने छोड़ी समाजवादी पार्टी

कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक के पति व समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल यादव ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया है....

Assembly Elections 2021: पश्चिम बंगाल समेत इन पांच राज्यों की चुनावी तारीखों का ऐलान हुआ, 2 मई को आएंगे नतीजे।

Elections 2021: निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान का आगाज हो गया। वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पूरे देश को इस पल का बेसब्री से इंतजार था। कोरोना की वैक्सीन बहुत ही कम समय में आ गई है। उन्होंने कहा कि कितने महीनों से देश के हर घर में बच्चे, बूढ़े, जवान सबकी जुबान पर ये ही सवाल था कि कोरोना की वैक्सीन कब आएगी। उन्होंने कहा कि अब से कुछ ही मिनट बाद भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है।

पीएम मोदी ने इसके लिए देशवासियों को बधाई दी। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की पक्तियां ‘मानव जब जोर लगाता है, पत्थर पानी बन जाता है’ का भी जिक्र किया। पीएम मोदी के संबोधन को सभी टीकाकरण केंद्रों से कनेक्ट किया गया। केंद्र सरकार के मुताबिक, पहले दिन कुल 3006 वैक्‍सीनेशन सेंटर्स पर तीन लाख से ज्‍यादा हेल्‍थ वर्कर्स को पहली डोज दी जानी है। पीएम मोदी कोरोना काल के उन मुश्किल दिनों को याद कर सुबक पड़े।

ये भी पढ़े :  महराजगंज: जनपद में 109 नए कोरोना पॉजिटिव मिले, तीन संक्रमितों की हुई मौत....

जिसे सबसे ज्यादा जरूरी उसे पहले लगेगी वैक्सीन
पीएम ने कहा कि भारत का टीकाकरण अभियान बहुत ही मानवीय और महत्वपूर्ण सिद्धांतों पर आधारित है। जिसे सबसे ज्यादा जरूरी है, उसे सबसे पहले कोरोना वैक्सीन लगेगी। कोरोना वैक्सीन की 2 डोज लगनी बहुत जरूरी है। पहली और दूसरी डोज के बीच लगभग एक महीने का अंतराल भी रखा जाएगा। दूसरी डोज़ लगने के 2 हफ्ते बाद ही आपके शरीर में कोरोना के विरुद्ध ज़रूरी शक्ति विकसित हो पाएगी। भारत वैक्सीनेशन के अपने पहले चरण में ही 3 करोड़ लोगों का टीकाकरण कर रहा है।

ये भी पढ़े :  SC ने खारिज की योगी सरकार की याचिका, डॉक्टर कफील खान बोले- मुझे न्याय मिला।।

किसी भी तरह की अफवाह से बचें
पीएम मोदी ने वैक्सीन को लेकर देशवासियों को किसी भी तरह की अफवाहों से बचने को कहा। उन्होंने कहा कि हमारे वैज्ञानिक और विशेषज्ञ जब दोनों मेड इन इंडिया वैक्सीन की सुरक्षा और प्रभाव को लेकर आश्वस्त हुए, तभी उन्होंने इसके इमरजेंसी उपयोग की अनुमति दी। पीएम मोदी ने कहा कि भारत के वैज्ञानिकों और वैक्सीन से जुड़ी विशेषज्ञता पर पूरी दुनिया को भरोसा है। उन्होंने कहा कि भारतीय वैक्सीन विदेशी वैक्सीनों की तुलना में बहुत सस्ती है। इनका उपयोग भी बहुत आसान है। पीएम ने कहा कि विदेश में ऐसी वैक्सीन है जिनकी कीमत 5000 रुपये तक है।

दो मेड इन इंडिया वैक्सीन हुई तैयार
पीएम मोदी ने कहा कि आमतौर पर एक वैक्सीन बनाने में बरसों लग जाते हैं लेकिन इतने कम समय में एक नहीं दो मेड इन इंडिया वैक्सीन तैयार हुई हैं। कई और वैक्सीन पर भी तेज़ गति से काम चल रहा है, ये भारत के सामर्थ्य, वैज्ञानिक दक्षता और टैलेंट का जीता-जागता सबूत है।

ये भी पढ़े :  "प्याज और चावल, खेतों में बची फसल खाने को मजबूर हैं" मध्य प्रदेश में फंसे मजदूर, CM योगी से लगाई घर पहुंचाने की गुहार

चीन में फंसे हर भारतीय को लेकर आए
पीएम मोदी ने कहा कि ऐसे समय में जब कुछ देशों ने अपने नागरिकों को चीन में बढ़ते कोरोना के बीच छोड़ दिया था, तब भारत चीन में फंसे हर भारतीय को वापस लेकर आया और सिर्फ भारत के ही नहीं, हम कई दूसरे देशों के नागरिकों को भी वहां से वापस निकालकर लाए।

सबसे पहले हेल्थ वर्करों को वैक्सीन
सरकार के मुताबिक, सबसे पहले एक करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चे पर काम करने वाले करीब दो करोड़ कर्मियों और फिर 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीके की खुराक दी जाएगी। बाद के चरण में गंभीर रूप से बीमार 50 साल से कम उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन होगा। हेल्थवर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स पर वैक्सीनेशन का खर्च सरकार वहन करेगी।

ये भी पढ़े :  कोरोना का कहरः चीन में नए रूप में लौटा किलर वायरस, बना पहले से ज्यादा खतरनाक

कोविशील्ड और कोवैक्सीन की 1.65 करोड़ डोज अलॉट
भारत में ऑक्‍सफर्ड-एस्‍ट्राजेनेका की वैक्‍सीन जिसे यहां पर सीरम इंस्टिट्यूट ने डेवलप किया है। यह वैक्‍सीन ‘कोविशील्ड’ (Covishield)नाम से उपलब्‍ध है। इसके अलावा भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ (Covaxin)भी लोगों को दी जाएगी। दोनों को सुरक्षा के मानकों पर सुरक्षित और असरदार पाया गया है। ‘कोविशील्ड’ और ‘कोवैक्सीन’ की 1.65 करोड़ डोज में से सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को हेल्‍थ वर्कर्स की संख्‍या के हिसाब से अलॉट किया गया है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

जज्बे को सलाम : प्रसव के 6 घंटे बाद नवजात के साथ इंटर की परीक्षा देने पहुंची छात्रा

बिहार के सारण जिले के तरैया रेफरल अस्पताल में मंगलवार सुबह 6 बजकर 22 मिनट पर बच्ची...

मुजफ्फरपुर: यहां एंबुलेंस में मरीज को स्लाइन की जगह चढ़ाई जा रही शराब!

शराब के धंधेबाज एंबुलेंस का भी इस्तेमाल करने लगे हैं। शुक्रवार को शहर के बंजारी मोड़ के...
%d bloggers like this: