Tuesday, August 3, 2021

सीरियल किलर खूंखार डॉक्टर ने बताया कि 50 कत्ल के बाद वह मर्डस की गिनती ही भूल गया….

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

आज हम आपको एक ऐसे डॉक्टर के बारे में बताने जा रहे है जो बीएएमएस डॉक्टरी को छोड़कर सीरियल किलर बन गया। सीरियल किलर बनने के बाद उसने एक या दो नहीं, करीब 100 लोगों की हत्या कर उन्हें मगरमच्छों का भोजन बना दिया। जी हां, डॉक्टर से सीरियल बनने वाले शख्य का नाम है देवेंद्र शर्मा। देवेंद्र शर्मा उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले स्थित पुरेनी गांव का रहने वाला है। सीरियल किलक देवेंद्र शर्मा (62) को पिछले दिनों ही क्राइम ब्रांच पुलिस ने पकड़ा था। वह किडनी केस में पिछले 16 साल से सजा काट रहा था और अब परोल पर बाहर था।

अलीगढ़ जिले के रहने वाले देवेंद्र शर्मा (62) ने साल 1984 में आर्युवेदिक मेडिसिन में अपनी ग्रेजुएशन पूरी की थी। आर्युवेदिक मेडिसिन में ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद देवेंद्र शर्मा ने राजस्थान में क्लीनिक खोल लिया। फिर 1994 में उसने गैस एजेंसी के लिए एक कंपनी में 11 लाख का निवेश किया। लेकिन कंपनी अचानक गायब हो गई। फिर नुकसान के बाद उसने 1995 में फर्जी गैस एजेंसी खोल ली। शर्मा ने एक गैंग बनाया जो एलपीजी सिलेंडर लेकर जाते ट्रकों को लूट लेता। इसके लिए वे लोग ड्राइवर को मार देते और ट्रक को भी कहीं ठिकाने लगा देते। इस दौरान उसने गैंग के साथ मिलकर करीब 24 मर्डर किए।

ये भी पढ़े :  हनुमान को योगी ने कहा दलित, साय ने कहा आदिवासी, रामदेव ने कहा ब्राह्मण...

इसके बाद देवेंद्र शर्मा किडनी ट्रांसप्लांट गिरोह में शामिल हो गया। उसने सात लाख प्रति ट्रांसप्लांट के हिसाब से 125 ट्रांसप्लांट करवाए। इतना ही नहीं, देवेंद्र शर्मा ने चार राज्यों को अपना निशाना बना लिया था, जिनमें दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान शामिल थे। दरअसल, देवेंद्र शर्मा टूरिस्ट बन कर कार किराए पर लेता था और किसी सुनसान रास्ते पर टैक्सी ड्राइवर को पीट-पीटकर मार देता था। हत्या करने के बाद उनकी टैक्सी चोरी कर लेता था। वहीं, चालक के शव को कासगंज स्थित जी हजारा नहर में मगरमच्छ के आगे फेंक दिया करता था। वहीं, कैब को यूजड कार बताकर बेच दिया जाता था।

ये भी पढ़े :  big breaking एसएसबी जवान ने फंदे से लटका, परिजन लेकर पहुंचे अस्पताल, मौत...

देवेंद्र शर्मा को 2004 में पकड़ा गया और 16 साल जयपुर जेल में रहा। फिर अच्छे बर्ताव के लिए उसे जनवरी 2020 को 20 दिन की परोल मिली। लेकिन वह भाग गया और अंडर ग्राउंड हो गया। फिर वह दिल्ली के मोहन गार्डन में छिपकर रहने लगा। यहां वह एक बिजनसमैन को चूना लगाने वाला था। लेकिन पुलिस को उसके यहां होने की भनक लगी और आखिर में उसे पकड़ लिया गया। पूछताछ में देवेंद्र शर्मा ने चौंकाने वाली जानकारी दी है। उसने बताया कि 50 कत्ल के बाद वह मर्डस की गिनती भूल गया था। अब उसने माना है कि अबतक वह 100 से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है, जिसमें से ज्यादातर को उसने यूपी की एक नहर में मौजूद मगरमच्छ का खाना बना दिया था।

ये भी पढ़े :  महराजगंज। रोजीरोटी के लिए सर्कस दिखाते हुए युवक की गई जान।

पुलिस के मुताबिक आरोपी जयपुर सेंट्रल जेल में हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहा था। इसी दौरान पैरोल पर वह बाहर आया था, लेकिन वापस जेल नहीं लौटा। हत्यारा देवेंद्र शर्मा पैरोल पर फरार होने के बाद गुपचुप तौर पर शादी कर के दिल्ली में छिपकर रह रहा था। इतना ही नहीं, उसके खिलाफ अपहरण और हत्या के दर्जनों मामले दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान में 2002 के बाद दर्ज हुए थे, जिनमें कई केस में उसे आजीवन कारावास की सजा हुई थी।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...
%d bloggers like this: