Sunday, April 18, 2021

खोज / गोरखपुर की छात्रा ने खोजा दुनिया का सबसे चमकीला पदार्थ, दो वॉट के एलईडी से मिलेगी 20 वॉट तक की रोशनी

UP: पंचायत चुनाव में पैसा बांट रहे थे BJP के पूर्व MLA के भाई, रंगे हाथ पकड़े गए

पूर्व भाजपा विधायक अवनीन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ महंत दूबे के छोटे भाई व पूर्व प्रधान सत्येन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ राजू द्विवेदी को...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर दी...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव          

गोरखपुर टाइम्स ब्रेकिंग :-    अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव               अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने...

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट          गोरखपुर : महापौर सीताराम जायसवाल ने...

गोरखपुर :- आरपीएम के छात्र प्रवीण ने बढ़ाया ज़िले का मान,SDM बनकर करेंगें प्रदेश की सेवा

प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ परीक्षाओं में से एक उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग 2020 की परीक्षा का परिणाम लोक सेवा आयोग के द्वारा...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह नगर गोरखपुर में दीन दयाल उपाध्याय विश्विद्यालय की एक छात्रा ने दुनिया का सबसे चमकीला पदार्थ बनाकर नई इबारत लिखी है। यह पदार्थ आईआईटी चेन्नई व जापान के क्यूशू इंस्टीट्यूट में हुए परीक्षण में खरा साबित हुआ है। यह खोज इसलिए महत्वपूर्ण है कि, इसकी मदद से दो वॉट के एलईडी में 20 वॉट तक की रोशनी मिल सकेगी।

ये भी पढ़े :  कावरिया लेन पर चलेंगे तो होगी कार्यवाही  सीओ  बैंक चेकिंग के दौरान वाहन सीज व जुर्माना

पांच साल में पूरा किया शोध गोरखपुर की इफ्फत अमीन दीनदयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय में रसायन शास्त्र की शोधार्थी हैं। इफ्फत ने पांच साल में यह शोध पूरा किया है। इस कांप्लेक्स की चमक क्षमता 91.9 फीसदी है। अब तक बने चमकीले कांप्लेक्स की क्षमता 80 फीसदी तक है। इफ्फत अमीन के प्रोफेसर उमेश नाथ त्रिपाठी ने बताया कि इसका पता तब चला जब चमकीले कांप्लेक्स के मिश्रण को आईआईटी मद्रास चेन्नई व जापान में परीक्षण हुआ। आईआईटी मद्रास व जापान के क्यूशू इंस्टीट्यूट में जांच के बाद पदार्थों की दक्षता का दावा किया गया है।

ये भी पढ़े :  मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन, संवेदना व्यक्त कर रहे लोग

परीक्षण में चमक की क्षमता 91.9 फीसदी इफ्फत ने बताया कि, गोरखपुर की इफ्फत अमीन ने दुर्लभ तत्व लैंथेनाइड सीरियम जैसे कई मिश्रण से कुल 48 कांप्लेक्स बनाए। उनकी अलग अलग ल्यूमिनिसेंस चमक की छमता जांची गई। शुरुआत के 2 साल केवल दुर्लभ तत्व जुटाने व संश्लेषण के बाद उसके अनुप्रयोग समझने में ही लग गए।

संश्लेषित कांप्लेक्स का आईआईटी मद्रास और चेन्नई, सीडीआरआई लखनऊ और जापान के क्यूशू इंस्टीट्यूट की लैब में परीक्षण कराया गया। वहां इनकी चमक क्षमता 91.9% तक पाई गई। इफ्फत के चार शोध पत्र अंतरराष्ट्रीय जर्नल्स में प्रकाशित हुए हैं। इनमें इंग्लैंड स्थित रॉयल सोसाइटी ऑफ केमिस्ट्री, कई देशों से प्रकाशित होने वाला एल्वाइजर व जर्नल टेलर एंड फ्रांसिस शामिल हैं। शोध के लिए उन्हें गुरु गोरक्षनाथ शोध मेडल मिला है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर दी...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव          

गोरखपुर टाइम्स ब्रेकिंग :-    अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव               अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने...

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट          गोरखपुर : महापौर सीताराम जायसवाल ने...
%d bloggers like this: