मर्डर आरोपी को पेशी के लिए देवरिया लाया गया था लेकिन जनाब गोरखपुर होटल में रंगरलियां मनाते मिले।

मर्डर के आरोप में हरदोई जेल में बंद शातिर कामेश्वर उर्फ डब्लू सिंह गोरखपुर रेलवे स्टेशन रोड के होटल में रंगलियां मनाते पकड़ा गया। सोमवार को रमेश सिंह की देवरिया कोर्ट में पेशी थी। वापसी में वह अपने दो साथियों संग प्रेमिका से मिलने होटल में पहुंच गया। सूचना मिलने पर कैंट पुलिस ने दोनों को आपत्तिजनक हाल में दबोच लिया। हरदोई जिले के तीन सिपाहियों और दो अन्य को भी पुलिस ने हिरासत में लेकर कानूनी औपचारिकता पूरी की। मामले की एक रिपोर्ट गोरखपुर पुलिस की तरफ से हरदोई के एसपी को भेजी जाएगी।
देवरिया, पथहरट निवासी कामेश्वर सिंह पर अपने गांव के रमेश सिंह और अरुण सिंह के मर्डर का आरोप है। उसने गांव की प्रेमिका की सिघडि़यां निवासी विवेक सिंह का भी मर्डर कर दिया था। अरुण और विवेक के मर्डर में उसकी जमानत हो चुकी है लेकिन रमेश सिंह के मर्डर के आरोप में वह हरदोई जेल में बंद है। सोमवार को रमेश सिंह के मामले में उसकी पेशी देवरिया कोर्ट में थी। हरदोई पुलिस लाइन में तैनात कांस्टेबल आनंद सिंह, अभय सिंह और अमन कुमार उसे देवरिया पेशी पर ले गए। देवरिया से लौटकर वह सीधे गोरखपुर रेलवे स्टेशन रोड स्थित होटल में पहुंच गया। वहां पहले से उसके दो साथी अनिल मौर्या और राधेश्याम संग उसकी प्रेमिका भी मौजूद थी।
रंगेहाथ प्रेमिका संग पुलिस ने दबोचा
होटल में पहुंचकर कामेश्वर अपनी माशूका संग कमरे में चला गया। जबकि, सिपाहियों सहित अन्य लोग बाहर बैठकर भोजन करने लगे। कामेश्वर सिंह की हरकतों के बारे में अरुण सिंह के बेटे दीपक को जानकारी थी। इसलिए वह उस पर नजर रख रहा था। कामेश्वर के होटल में पहुंचते ही दीपक सिंह ने एसएसपी को अवगत कराया। एसएसपी के निर्देश पर कैंट पुलिस ने छापामारा तो होटल के कमरे में कामेश्वर अपनी प्रेमिका संग आपत्तिजनक हाल में पकड़ा गया। पुलिस ने सिपाहियों सहित अन्य लोगों को भी हिरासत में ले लिया। सभी को थाने पर ले जाकर कार्रवाई की गई। सोमवार की शाम कामेश्वर को हरदोई जेल रवाना कर दिया गया। उसकी प्रेमिका और अन्य लोगों को पुलिस ने छोड़ दिया। पेशी पर आए बंदी केा होटल में लेकर जाने की के संबंध में एक रिपोर्ट हरदोई के एसपी को भेजी जाएगी।

Advertisements