Tuesday, July 27, 2021

क्या वाकई शराब पर निर्भर होती है राज्यों की अर्थव्‍यवस्‍था ? जानें कितनी होती है कमाई ?

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

देश की लगभग सभी राज्‍य सरकारें शराब इंडस्‍ट्री को लेकर पशोपेश में थीं, लेकिन लॉकडाउन 3 में अब इन्‍हें खोलने की इजाजत मिल गई है । शराब कारोबारी तो पहले से ही बिक्री खोलने के लिए भारी दबाव बना ही रहे थे, राज्‍य सरकारें भी केन्‍द्र से इसकी मांग कर रहीं थीं । बहरहाल, अब जब ज्‍यादातर राज्‍यों में शराब का कारोबार खोल दिया गया है तो ये चर्चा भी जोरों पर है कि आखिर शराब बेचकर सरकार को कितना फायदा होता है, क्‍या वाकई किसी राज्‍य की इकोनॉमी शराब के भरोसे चल सकती है ।

राज्यों की कमाई के स्रोत
दरअसल में राज्यों की कमाई के मुख्य स्रोत हैं – राज्य जीएसटी, भू-राजस्व, पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले वैट या सेल्स टैक्स, शराब पर लगने वाला एक्साइज और गाड़ियों पर लगने वाले कई दूसरे टैक्स । ऐसे में शराब पर लगने वाला एक्साइज टैक्स यानी आबकारी शुल्क राज्यों के राजस्व में एक बड़ा योगदान करता है । चूंकि शराब और पेट्रोल-डीजल को जीएसटी से बाहर रखा गया है, इसलिए राज्य इन पर भारी टैक्स लगा कर अपना राजस्व बढ़ा सकते हैं ।

ये भी पढ़े :  भदोही:जनपद पुलिस को अब टॉपटेन बदमाश की तलाश....
ये भी पढ़े :  कभी हस्तमैथुन तो अब इस इंस्पेक्टर ने थाने में पीड़िता से बोला डांस करके दिखाओ,निर्लज्जता की हद

राजस्‍थान सरकार ने बढ़ाया शुल्‍क
हैरानी की बात ये कि हाल में राजस्थान सरकार ने शराब पर एक्साइज टैक्स 10 फीसदी बढ़ा दिया । यानी कि अब देश में निर्मित विदेशी शराब (IMFL) पर राजस्‍थान में 35 से 45 फीसदी तक टैक्‍स वसूला जाएगा । बीयर पर भी टैक्स बढ़ाकर 45 फीसदी कर दिया गया है, यानी 100 रुपये की बीयर में 45 रुपया तो ग्राहक सरकार को टैक्स ही दे देता है । इसके साथ ही राज्यों को केंद्रीय जीएसटी में भी हिस्सा मिलता है ।


मुख्‍य कमाई का जरिया
इसी वजह से राज्यों के राजस्व का बड़ा हिस्सा शराब और पेट्रोल-डीजल की बिक्री से ही आता है । लॉकडाउन की वजह से दोनों की ही बिक्री ठप थी, इसी वजह से राज्यों की वित्तीय हालत खस्‍ता हो गई थी । हालत तो यह हो गई कि कई राज्यों को 1.5 से 2 फीसदी ज्यादा ब्याज पर कर्ज लेना पड़ा था । अब ऐसे में जब शराब का कारोबार दोबारा खुला है तो सरकार को खुशी होना लाजमी है ।

ये भी पढ़े :  कभी हस्तमैथुन तो अब इस इंस्पेक्टर ने थाने में पीड़िता से बोला डांस करके दिखाओ,निर्लज्जता की हद

शराब से कितनी होती है कमाई
कुल कमाई की बात करें तो ज्यादातर राज्यों के कुल राजस्व का 15 से 30 फीसदी हिस्सा शराब बिक्री से ही आता है । यूपी की बात करें तो यहां शराब से कुल टैक्स राजस्व का करीब 20 फीसदी हिस्सा है । उत्तराखंड में भी शराब बिक्री से मिलने वाला आबकारी शुल्क राजस्व का करीब 20 फीसदी होता है । पिछले वित्त वर्ष के आंकड़े देखे जाएं तो सभी राज्‍यों ने कुल मिलाकर करीब 2.5 लाख करोड़ रुपये की कमाई सिर्फ शराब बिक्री से हासिल की थी ।

ये भी पढ़े :  भदोही:जनपद पुलिस को अब टॉपटेन बदमाश की तलाश....

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

ब्लाक प्रमुख चुनाव परिणाम: भाजपा के परिवारवाद का डंका, इन मंत्रियों और विधायकों के बहू-बेटे निर्विरोध जीते

लखनऊ: देश की राजनीति में परिवारवाद की जड़ें काफी गहरी हैं। कश्मीर से कन्याकुमारी तक वंशवाद और परिवारवाद की जड़ें और भी...

शिवपाल यादव ने दी भतीजे अखिलेश यादव को नसीहत, बोले- प्रदर्शन नहीं, जेपी-अन्ना की तरह करें आंदोलन

Lucknow: लखीमपुर में महिला प्रत्याशी से अभद्रता की कटु निंदा करते हुए प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने...
%d bloggers like this: