Tuesday, April 20, 2021

IAS इंटरव्यू में हुए फेल, अब UP PCS परीक्षा पास कर बने अफसर…

कोरोना कॉल में होमियोपैथी पर विश्वास रखें, योग व्यायाम करें : डॉ रूप कुमार बनर्जी

कोरोना कॉल में होमियोपैथी पर विश्वास रखें, योग व्यायाम करें : डॉ रूप कुमार बनर्जी सकरात्मक सोचें, होमियोपैथी पर...

UP: पंचायत चुनाव में पैसा बांट रहे थे BJP के पूर्व MLA के भाई, रंगे हाथ पकड़े गए

पूर्व भाजपा विधायक अवनीन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ महंत दूबे के छोटे भाई व पूर्व प्रधान सत्येन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ राजू द्विवेदी को...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर दी...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव          

गोरखपुर टाइम्स ब्रेकिंग :-    अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव               अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने...

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट          गोरखपुर : महापौर सीताराम जायसवाल ने...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

ये कहानी है गोरखपुर के रहने वाले विनीत कुमार यादव की , जिन्होंने हाल ही में UP PCS 2017 की परीक्षा पहले ही प्रयास में पास की है. आपको बता दें, वह UPSC की प्री और मेंस परीक्षा भी क्लियर कर चुके हैं आइए जानते हैं उनके बारे में. कैसे की थी तैयारी.
विनीत कुमार यादव गोरखपुर के रहने वाले हैं. मध्यम परिवार से ताल्लुक रखने वाले विनीत के परिवार में चार सदस्य हैं माता- पिता और बड़ा भाई. उनके पिता बीडी यादव किसान हैं और मां विमला यादव गृहणी. वहीं भाई विवेक यादव मैकेनिकल इंजीनियर हैं. विनीत का अभावों में बीता. aajtak.in से खास बातचीत करते हुए उन्होंने बताया कि स्कूल के लिए रोजाना 10 किलोमीटर की दूरी तय करते थे. उन्होंने ITM गोरखपुर से ही बीटेक की डिग्री ली है.
2011 का वो साल विनीत के लिए काफी खास था. इसी साल
उन्हें ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स में पीओ के पद पर सरकारी नौकरी मिली थी. यहां उन्होंने पांच साल तक काम किया. बता दें, उन्होंने बैंक की नौकरी करने के दौरान ही UP PCS परीक्षा की तैयारी की थी. वैसे नौकरी के दौरान उन्हें पढ़ाई करने का ज्यादा वक्त नहीं मिलता था लेकिन फिर भी वह पढ़ने के लिए 3 से 4 घंटे निकाल लिया करते थे. उन्होंने बताया कि वह सेल्फ स्टडी करते थे.
विनीत की जिंदगी में टर्निंग प्वाइंट उस समय आया जब उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी के लिए सरकारी नौकरी से इस्तीफा दिया. मध्यम परिवार के किसी व्यक्ति के लिए सरकारी नौकरी से इस्तीफा देना आसान नहीं होता, लेकिन विनीत को खुद पर भरोसा था. आपको बता दें, साल 2016 में उन्होंने नौकरी से इस्तीफा दिया था. जिसके बाद साल 2017 में यूपीएससी की परीक्षा दी. इस परीक्षा में उन्होंने प्रीलिम्स और मेंस परीक्षा को पास किया. इसी के साथ उन्होंने यूपीएससी इंटरव्यू में हिस्सा लिया था. पर कहते हैं कि मंजिल को पाने में थोड़ी मुश्किलों का सामना भी करना पड़ता है.
जब यूपीएससी इंटरव्यू में हुए फेल…

ये भी पढ़े :  कोरोना संदिग्ध अधेड़ की लखनऊ में उपचार के दौरान मौत
ये भी पढ़े :  फर्जी शस्त्र लाइसेंस में गोरखपुर पुलिस की बड़ी कार्यवाही, 10 गिरफ्तार...

साल 2017 में विनीत यूपीएससी के इंटरव्यू तक पहुंचे लेकिन फेल हो गए. फेल होने के बाद भी विनीत ने हार नहीं मानी. इस साल भी उन्होंने यूपीएससी की प्रीलिम्स परीक्षा पास की है और 29 सितंबर 2019 को यूपीएससी मेंस परीक्षा में शामिल हुए. अब वह रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं.

कहां से और कैसे की तैयारी…
विनीत ने बताया कि मैं सेल्फ स्टडी में विश्वास रखता हूं. UP PCS और UPSC दोनों की परीक्षा के लिए किसी भी तरह की कोचिंग नहीं ली है. नौकरी छोड़ने के बाद वह दिन में 6 से 7 घंटे की पढ़ाई करते थे. इसी के साथ उन्होंने बताया परीक्षा की तैयारी के लिए insightsonindia.com वेबसाइट की काफी मदद ली है.

मामा ने दिया सहयोग…
विनीत ने बताया जब मैं सरकारी नौकरी से इस्तीफा दे रहा था, उस दौरान परिवार का पूरा सपोर्ट था. वहीं उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने मामा मदन यादव को देते हुए कहा कि मेरे मामा पेशे से इंजीनियर हैं. परीक्षा और तैयारी के दौरान उनकी ओर से काफी मदद मिली.
विनीत ने पहली बार में UP PCS का मेंस पास किया है. उन्होंने बताया ट्रेनिंग होने के बाद खंड विकास अधिकारी के तौर पर नियुक्ति होगी. आपको बता दें, इस परीक्षा की प्री परीक्षा 2017, मेंस 2018 और इंटरव्यू इसी साल आयोजित किया गया था.
विनीत ने बताया बैंक की नौकरी से पहले उनका सेलेक्शन सेंट्रल पुलिस फोर्स में असिस्टेंट कमांडेंट के पद के लिए हुआ था, लेकिन उन्होंने बैंक की नौकरी को चुना. उन्होंने बताया कि सरकारी नौकरी से इस्तीफा देना आसान नहीं था. लेकिन मैं जानता था कि मैं आगे काफी कुछ कर सकता है. जब उन्होंने इस्तीफा दिया था तब वह बैंक मैनेजर थे.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

कोरोना कॉल में होमियोपैथी पर विश्वास रखें, योग व्यायाम करें : डॉ रूप कुमार बनर्जी

कोरोना कॉल में होमियोपैथी पर विश्वास रखें, योग व्यायाम करें : डॉ रूप कुमार बनर्जी सकरात्मक सोचें, होमियोपैथी पर...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर दी...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव          

गोरखपुर टाइम्स ब्रेकिंग :-    अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव               अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने...
%d bloggers like this: