Saturday, July 24, 2021

गोरखपुर: सरकारी तालाबो में भूमाफियाओं ने प्लाटिंग कर बसा दी हैं कालोनियां

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

यह कभी ताल-पोखरों का शहर हुआ करता था। भूजल की यहां कोई कमी नहीं थी। लगभग हर मोहल्ले में पोखरा या पोखरी नजर आ ही जाती थी, लेकिन स्थितियां अब बदल चुकी हैं। उनमें से अधिकतर का अस्तित्व केवल कागजों में है। हकीकत में इनपर कालोनियां बस चुकी हैं।

ये भी पढ़े :  Maharajganjप्रेमी के साथ मिल कर पुत्री ने किया पिता का हत्या।।

नगर निगम क्षेत्र में 1951 तक करीब 200 से अधिक ताल-पोखरे थे। 10 साल पहले कराए गए सर्वे में इनकी संख्या 100 के करीब आ गई थी और अब यह 70 से भी कम हैं। कई बड़े ताल को भूमाफिया ने पूरी तरह पाट कर जमीन बेच डाली। खरीदने वाले वहां मकान भी बनवा चुके हैं। कई ताल-पोखरों को तो नगर निगम ने कूड़े से पाट दिया। ताल सुमेर सागर का मामला इन दिनों सुर्खियों में है। 17 एकड़ से अधिक क्षेत्रफल वाले इस ताल का भौतिक अस्तित्व लगभग समाप्त हो चुका है। जैसे-जैसे ताल-पोखरों का अस्तित्व समाप्त होता जा रहा है, भूजल की समस्या भी गहराती जा रही है।

ये भी पढ़े :  महाराजगंज: मछली पकड़ने गए 11 वर्ष का लड़का लापता....

साल दर साल अतिक्रमण के बाद आखिरकार प्रशासन की नींद टूटी है। शहर में ताल-पोखरों को चिह्नित किया जा रहा है। एक सूची बनाई भी गई है। ताल सुमेर सागर से कार्रवाई की शुरूआत भी हो गई है। यहां कई रसूखदारों ने तत्कालीन अधिकारियों की मिलीभगत से अतिक्रमण किया और जमीन बेच दी। गोरखपुर विकास प्राधिकरण ने नक्शा भी पास कर दिया था, लेकिन जिला प्रशासन ने यहां के पक्के निर्माण ध्वस्त करा दिए हैं और नए सिरे से ताल को पुराने स्वरूप में विकसित करने की तैयारी चल रही है। धीरे-धीरे ही सही अन्य ताल-पोखरों पर हुए अतिक्रमण के खिलाफ भी कार्रवाई होगी। रामगढ़ताल के वेटलैंड में हुए अतिक्रमण को भी खाली कराने की तैयारी है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

बड़हलगंज से आशीष राय के विजयी घोषित होने पर विदेशों में भी बंटी मिठाइयां गोरखपुर। शनिवार को तीन ब्लॉक...
%d bloggers like this: