Saturday, August 17, 2019
Sports

IPL 2019: चेन्नई ने 8वीं बार फाइनल में बनाई जगह, दिल्ली को दिखाया बाहर का रास्ता

विशाखापट्टनम: चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने दिल्ली कैपिटल्स (DC) को हराकर इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन के फाइनल में जगह बना ली है, जहां उसका मुकाबला अपने चिर प्रतिद्वंद्वी मुंबई इंडियन्स से होगा. शुक्रवार को क्वालीफायर-2 में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने उतरी चेन्नई ने दिल्ली को 6 विकेट से करारी शिकस्त दी. चेन्नई सात बार फाइनल खेल चुकी है जिसमें से तीन बार वह विजेता बनी है. महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली यह टीम अब 8वीं बार फाइनल में पहुंच गई है. वहीं, दिल्ली अभी तक एक भी बार फाइनल नहीं खेल पाई है.

दिल्ली की टीम पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर नौ विकेट पर 147 रन ही बना पाई. चेन्नई ने 19 ओवर में चार विकेट पर 151 रन बनाकर आसानी से लक्ष्य हासिल कर दिया. उसकी तरफ से फाफ डुप्लेसिस (39 गेंदों पर 50) और शेन वॉटसन (32 गेंदों पर 50) ने अर्धशतक जमाये तथा पहले विकेट के लिये 81 रन जोड़कर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई.

चेन्नई की जीत की नींव उसके गेंदबाजों ने रखी थी. उसकी तरफ से ड्वेन ब्रावो (19 रन देकर दो), रविंद्र जडेजा (23 रन देकर दो), दीपक चाहर (28 रन देकर दो) और हरभजन सिंह (31 रन देकर दो) ने दो . दो विकेट लिये.

दिल्ली की तरफ से ऋषभ पंत ने 25 गेंदों पर सर्वाधिक 38 रन बनाये लेकिन इस बीच उन्होंने दो चौके और एक छक्का ही लगाया. उनके अलावा केवल कोलिन मुनरो (24 गेंदों पर 27 रन) ही 20 रन के पार पहुंचे. दिल्ली के पुछल्ले बल्लेबाजों ने अंतिम आठ गेंदों पर 22 रन बनाकर टीम को कुछ सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

चेन्नई ने आईपीएल के दस टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है और वह रिकार्ड आठ बार फाइनल में पहुंचने में सफल रहा. इनमें से तीन बार वह चैंपियन बना है. आईपीएल में यह चौथा अवसर होगा जबकि मुंबई और चेन्नई फाइनल में आमने सामने होंगे. अब तक मुंबई दो और चेन्नई एक बार जीत दर्ज करने में सफल रहा है. मुंबई ने पहले क्वालीफायर में चेन्नई को ही हराया था. महेंद्र सिंह धोनी नौवीं बार आईपीएल फाइनल खेलेंगे.

दिल्ली की टीम के पास पहली बार फाइनल में पहुंचने का मौका था लेकिन उसकी टीम बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग तीनों विभाग में फिसड्डी साबित हुई.

Advertisements
%d bloggers like this: