Saturday, July 24, 2021

गोरखपुर की एक पहचान हैं माँ तरकुलहा,क्या जानते हैं अंग्रेजों की दी जाती थी बलि:-माँ के प्रसाद के रूप में मिलता है मटन

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

गोरखपुर का एक पवित्र स्थल मां तरकुलहा देवी मंदिर पर सदैव भक्तों का तांता लगा रहता है लॉकडाउन के दौरान यह स्थल भले ही कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया क्या हो परंतु अनलॉक की प्रक्रिया के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही यह मंदिर फिर से भक्तों के लिए खुल चुका है

ये भी पढ़े :  गोरखपुर का CRPF जवान अवधेश कुमार आतंकी हमले में जख्मी...

आपको बताते चलें कि माँ तरकुलहा देवी मंदिर गोरखपुर से 20 किलोमीटर तथा चौरी-चौरा से 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। तरकुलहा देवी मंदिर जहां हिंदू भक्तों के लिए आस्था का एक प्रतीक है वहीं स्थानीय लोगों के लिए तरकुलही माता को कुलदेवी के रूप में भी पूजा जाता है इसी वजह से तरकुलहा देवी मंदिर धार्मिक महत्व के साथ-साथ एक पर्यटक स्थल भी है।

बताया जाता है कि इस प्रसिद्ध मंदिर का निर्माण डुमरी के क्रांतिकारी बाबू बंधू सिंह के पूर्वजों ने 1857 के प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम से भी पहले एक तरकुल (ताड़) के पेड़ के नीचे पिंडियां स्थापित कर की थी। ऐसी मान्यता है कि मां महाकाली के रूप में यहां विराजमान जगराता माता तरकुलही पिंडी के रूप में विराजमान हैं।

ये भी पढ़े :  माँ तरकुलहा माई के दर्शनों के लिए उमड़ी भीड़, नवरात्रि के पहले दिन लग रहे मां के जयकारे

बाबू बंधू सिंह तथा उनके साथियों के द्वारा इस स्थान पर अंग्रेजों की बलि दी जाती थी तथा यह परंपरा आज भी जारी है तथा यह एक ऐसा मंदिर है जहां पर प्रसाद के रूप में बकरे के मांस का सेवन किया जाता है मिट्टी के बर्तन में निर्मित यहां पर पकवान बेहद स्वादिष्ट होते हैं ।

कोरोना महामारी के बीच भले ही उक्त स्थान पर संख्या और बली कम हो गई है परंतु आने वाले दिनों में फिर से यह मंदिर गुलजार होकर लोगों को आशीर्वाद प्रदान करने में सक्षम नजर आएगा

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

बड़हलगंज से आशीष राय के विजयी घोषित होने पर विदेशों में भी बंटी मिठाइयां गोरखपुर। शनिवार को तीन ब्लॉक...

भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख के लिए विधायक विपिन सिंह की पत्नी नीता सिंह,विधायक संत प्रसाद की बहू पर खेला दाँव, देखें गोरखपुर की सूची…

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव संपन्न होने के उपरांत त्रिस्तरीय पंचायत को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के द्वारा...
%d bloggers like this: