Thursday, May 6, 2021

मृतक के स्पर्म पर पिता या उसकी विधवा पत्नी का अधिकार? कलकत्ता हाईकोर्ट ने सुनाया फैसला

गोरखपुर दक्षिणांचल से उठी आवाज हमें भी चाहिए कोविड अस्पताल,मुख्यालय है 60 km दूर

कोरोना जैसी गंभीर बीमारी के दूसरे फेज में जो स्थितियां नजर आ रही हैं वह बेहद खतरनाक हैं पूर्वांचल की हृदय स्थली...

कोरोना महामारी से मुक्ति हेतु RSS कार्यकर्ताओ ने किया हवन-पूजन,जगत कल्याण के लिए की प्रार्थना…

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सेवा विभाग सेवा भारती गोरक्ष प्रान्त के आह्वान पर कल शीलताष्टमी के अवसर पर स्वयंसेवको ने...

कौड़ीराम के बासूडिहा में उठी कोविड आइसोलेशन केंद्र बनाने की माँग..

कोविड महामारी को देखते हुए बासुडीहा में आइसोलेशन केंद्र बनाने की माँग उठी है ।गोरखपुर टाइम्स के सत्य चरण लक्क़ी से बात...

UP weekend lockdown: यूपी में अब मंगलवार सुबह तक लगेगा वीकेंड लॉकडाउन

उत्तर प्रदेश में कोरोना पैर पसारता जा रहा है। कोरोना के मामलों में बीते तीन दिनों में कुछ कमी आई है, लेकिन...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने एक पिता द्वारा अपने मृत बेटे के जमा किए हुए स्पर्म पर पेश की दावेदारी को ठुकरा दिया। कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए यह कहा कि मृतक के अलावा सिर्फ उसकी पत्नी के पास इसे प्राप्त करने का अधिकार है। न्यायमूर्ति सब्यसाची भट्टाचार्य ने कहा कि याचिकाकर्ता के पास अपने बेटे के संरक्षित शुक्राणु को पाने का कोई मैलिक अधिकार नहीं है।

याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि उनके बेटे की विधवा को इस मामले में ‘नो ऑब्जेक्शन’ देने के लिए निर्देशित किया जाना चाहिए या कम से कम उसके अनुरोध का जवाब देना चाहिए। अदालत ने हालांकि वकील के इस अनुरोध को खारिज कर दिया।

ये भी पढ़े :  गोला में दो दोस्त गए नहाने,उतरे गहरे पानी मे पर एक दोस्त की गई जान दूसरा बाल बाल बचा

अदालत ने कहा कि दिल्ली के एक अस्पताल में रखे गए शुक्राणु मृतक के हैं और चूंकि वह मृत्यु तक वैवाहिक संबंध में थे, इसलिए मृतक के अलावा सिर्फ उनकी पत्नी के पास इसका अधिकार है।

याचिकाकर्ता ने दलील दी कि उनका बेटा थैलेसीमिया का मरीज था और भविष्य में उपयोग के लिए अपने शुक्राणु को दिल्ली के अस्पताल में सुरक्षित रखा था। वकील के अनुसार, याचिकाकर्ता, अपने बेटे के निधन के बाद, अस्पताल के पास मौजूद उसके बेटे के शुक्राणु पाने के लिए संपर्क किया। अस्पताल ने उन्हें सूचित किया कि इसके लिए मृतक की पत्नी से अनुमति की आवश्यकता होगी, और विवाह का प्रमाण देना होगा।

ये भी पढ़े :  हर 100 साल में होती है कोरोना जैसी महामारी, आंकड़ें देख आप भी कहेंगे- ये प्रकृति का अपना तरीका है!

भारत में 2009 में पहली बार हुई थी दिबंगत पति के स्पर्म से संतान सुख की प्राप्ति
भारत में वर्ष 2009 में दिवंगत पति की के शुक्राणु से पहली बार किसी भारतीय महिला को संतान सुख प्राप्त हुआ है। पति की मौत के दो साल बाद पूजा नाम की एक महिला गर्भवती हुई और उसने कोलकाता के एक अस्पताल में बेटे को जन्म दिया था। पूजा ने अपने दिवंगत पति राजीव के शुक्राणुओं की मदद से गर्भ धारण किया था। नि:संतान दंपति ने 2003 कृत्रिम गर्भाधान के लिए प्रयास शुरू किए थे। इससे पहले पूजा मां बन पाती, 2006 में राजीव की मौत हो गई।

दो साल बाद पूजा को पता चला कि उसके पति के शुक्राणु अस्पताल के स्पर्म बैंक में सुरक्षित है। पूजा ने डॉक्टर से संपर्क किया और फिर वकीलों से भी कानूनी मशवरा लिया। इसके बाद डॉ. वैद्यनाथ चक्रवर्ती ने पूजा का इलाज शुरू किया और वह गर्भवती हो गई। मां बनने के बाद पूजा ने कहा था, ‘मैं चिल्लाकर पूरी दुनिया को बताना चाहती हूं कि मेरे पति लौट आए हैं।’

वीडियो न्यूज़ के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करेंं 👈 

ये भी पढ़े :  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता दरबार मे लोगो की फरियाद सुनी और अधिकारियो को निर्देश दिया की समयबद्ध तरीके से समस्याओ का निदान करे ।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

UP weekend lockdown: यूपी में अब मंगलवार सुबह तक लगेगा वीकेंड लॉकडाउन

उत्तर प्रदेश में कोरोना पैर पसारता जा रहा है। कोरोना के मामलों में बीते तीन दिनों में कुछ कमी आई है, लेकिन...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...

परमिशन लेटर फाड़कर फेंका-पंडित को मारा थप्पड़, DM ने यूं रोकी कर्फ्यू में हो रही शादी

अगरतला के एक मैरि‍ज हॉल में शादी की अच्छी-भली पार्टी चल रही थी. इसी बीच सिंघम की तरह पहुंच गए डीएम शैलेश...
%d bloggers like this: