Friday, September 24, 2021

कृषि मंत्रालय ने माना, नोटबंदी से टूटी किसानों की कमर

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

अंग्रेजी अखबार ‘द हिन्‍दू’ ने खबर दी है कि कृषि मंत्रालय ने नोटबंदी के गलत असर के बारे में संसदीय समिति को विस्‍तार से बताया था और इस बारे में एक रिपोर्ट भी सौंपी थी। अखबार का कहना है कि मंत्रालय ने रिपोर्ट में किसानों की मुश्किलों का जिक्र किया था। कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने अलग आंकड़ा जारी करते हुए अखबार की रिपोर्ट को बेबुनियाद बताया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 8 नवंबर की रात अचानक की गई नोटबंदी को दो साल हो चुके हैं। लेकिन इसकी चर्चा अभी भी होती रहती है। सरकार इसके फायदे गिनाने में देर नहीं लगाती। वहीं, विपक्ष इससे हुए नुकसान की लिस्ट बनाए सबके सामने रख देता है। ‘द हिन्‍दू’ में प्रकाशित शोभना नायर की रिपोर्ट के अनुसार, अब कृषि मंत्रालय ने भी देश में अचानक बड़े नोट बैन कर देने को हानिकारक मान लिया है। वित्त मंत्रालय से जुड़ी पार्लियामेंट्री स्टैंडिंग कमेटी को सौंपी गई रिपोर्ट में कृषि मंत्रालय ने नोटबंदी को किसानों के लिए बुरा फैसला बताया है। इस बीच, कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने ट्वीट कर ‘द हिन्‍दू’ की रिपोर्ट को बेबुनियाद बताया है। साथ ही आंकड़े भी जारी किए हैं। बता दें कि नोटबंदी को लेकर ‘इंडियन एक्‍सप्रेस’ में एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी, जिसमें इस मसले पर RBI की राय सामने आई थी। इसमें आरबीआई बोर्ड की मिनट्स ऑफ मीटिंग्‍स का हवाला दिया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक, आरबीआई ने नोटबंदी की घोषणा से तकरीबन 4 घंटे पहले बैठक बुलाई थी, जिसमें हजार और 500 के नोटों को वापस लेने से काले धन और नकली करेंसी पर रोक लगाने के सरकार दावे को खारिज कर दिया गया था।

ये भी पढ़े :  CAA Violence : उपद्रवियों के पोस्टर सड़कों से तत्काल हटाए सरकार , हाईकोर्ट का आदेश
ये भी पढ़े :  अब नही कर सकेंगे शराब का स्टॉक,तय हुई लिमिट,जाने एक व्यक्ति कितना खरीद सकता है बीयर या शराब….

‘द हिन्‍दू’ की रिपोर्ट के मुताबिक, संसदीय समिति की अध्यक्षता कर रहे कांग्रेस के सांसद वीरप्पा मोइली को नोटबंदी की इस रिपोर्ट के बारे में विस्तार से बताया गया। कृषि मंत्रालय ने माना है कि, नोट बैन के बाद अचानक नकदी की भारी कमी हो गई। इसकी वजह से किसान बीज-खाद नहीं खरीद सके। रबी और खरीफ के बीज खरीदने के लिए कैश की जरूरत होती है, जो नोटबंदी के कारण पूरी नहीं हो सकी। जिससे अन्नदाताओं की कमर बुरी तरह टूट गई। नोटबंदी के असर पर एक रिपोर्ट भी कृषि मंत्रालय ने संसदीय समिति को सौंपी है।

वहीं, कृषि मंत्रालय ने यह भी माना है कि कैश की कमी के चलते राष्ट्रीय बीज निगम के करीब 1लाख 68 हजार क्विंटल गेंहूं के बीज बिक ही नहीं सके। हालांकि स्थिति बिगड़ती देख सरकार ने बीज खरीदने के लिए पुराने नोटों के इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी थी। लेकिन रिपोर्ट में यह कहा गया है कि सरकार की इस राहत के बाद भी सरकारी बीज की बिक्री में तेजी नहीं आ पाई। वहीं, श्रम मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया है कि, नोटबैन के बाद की तिमाही में रोजगार के आंकड़ों में तेजी दिखी थी।

ये भी पढ़े :  कुशीनगर::-कोरोना से जुड़ी बड़ी व अच्छी खबर,कोरोना से जुड़े इन दो की रिपोर्ट आई निगेटिव

पीएम मोदी ने चुनावी रैली में की थी नोटबंदी की तारीफ: बीते दिन ही पीएम मोदी ने एक बार फिर से नोटबंदी के अपने फैसले की तारीफ की थी। चुनाव के मद्देनजर मध्यप्रदेश के झबुआ में पीएम मोदी ने एक सभा को सबोधित करते हुए कहा था कि, ‘देश से भ्रष्टाचार के दीमक को साफ करने और बैंकिंग सिस्टम में पैसा वापस लाने के लिये नोटबंदी जैसी कड़वी दवा का उपयोग करना जरुरी था।’ मोदी के दिए रैली में इस भाषण के दिन ही मंत्रायल ने अपनी रिपोर्ट सबमिट की है।

ये भी पढ़े :  CAA Violence : उपद्रवियों के पोस्टर सड़कों से तत्काल हटाए सरकार , हाईकोर्ट का आदेश

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

Maharajganj: तेज तर्रार नेता नितेश मिश्र भाजपा छोड़ थामा सपा का दामन, आपने सैकड़ों समर्थकों के साथ ली सदस्यता

Maharajganj/Dhani: धानी ब्लॉक के डेढ़ सौ लोगो ने पूर्व भाजपा नेता नीतेश मिश्र के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी की सदस्यता लिया। प्राप्त...

शहीद के बेटे नीतीश 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस पर फहराएंगे तिरंगा, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सौपा...

Gorakhpur: गोरखपुर के राजेन्द्र नगर के रहने वाले युवा पर्वतारोही नीतीश सिंह 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट...

Maharajganj: सपा नेता राम प्रकश सिंह के नेतृत्व में निकाली गई साईकिल रैली

Maharajganj: समाजवादी पार्टी महाराजगंज के कार्यकर्ताओं ने स्वर्गीय जनेश्वर मिस्र के जयंती के शुभ अवसर पर समाजवादी साईकिल यात्रा का आयोजन फरेंदा...
%d bloggers like this: