Saturday, September 25, 2021

बिहार : ऑनलाइन गेम में हारे दोस्त बने कातिल, छात्र की हत्या कर नदी में फेंकी लाश

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में नाबालिग छात्र ने मोबाइल गेम (Mobile Game) को लेकर अपने दोस्त का कत्ल कर दिया. हत्या के बाद दोस्तों ने साक्ष्य मिटाने के लिए मृतक के शव को गंडक नदी में फेंक दिया. मामला कुचायकोट थाना क्षेत्र के सिरसिया गांव का है. मृतक 11वीं क्लास का छात्र था. परिजनों के मुताबिक, रोशन पिछले कई दिनों से लापता था. उसकी गुमशुदगी को लेकर उन्होंने कुचायकोट थाना में अपहरण को लेकर एफआईआर (FIR) दर्ज कराया था. अपहरण की प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने शक के आधार पर छात्र के तीन दोस्तों को हिरासत में लिया और उनसे कड़ाई से पूछताछ की थी. पूछताछ के बाद तीनों दोस्तों ने हत्या करने की बात स्वीकार की.

ये भी पढ़े :  पत्नी ने छोड़ा साथ तो भड़ास निकालने के लिए कर दी 16 लोगों की हत्या

पुलिस पूछताछ में दोस्तों ने भी बताया कि उन्होंने हत्या करने का बाद रोशन के शव को गंडक नदी में फेंक दिया गया है. लड़कों के बयान के बाद विशम्भरपुर पुलिस ने कलमटिहानिया गांव पहुंची और गंडक नदी में शव बरामदगी के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है.

ये भी पढ़े :  पति को ऑफिस में हो गया प्यार, पत्नी प्रेमिका से 1.5 करोड़ रुपये लेकर डिवोर्स को तैयार

ऑनलाइन गेम को लेकर हुआ था विवाद
सदर एसडीपीओ नरेश पासवान ने बताया कि 14 वर्ष का छात्र का नाम रोशन अली है. उसके तीन दोस्तों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी. हत्या की वजह मोबाइल में फ्री फायर गेम खेलने को लेकर विवाद बताया जा रहा है. दरअसल, ऑनलाइन फ्री फायर गेम में रोशन ने अपने दोस्तों को काफी पीछे छोड़ दिया था. इसके बाद ईर्ष्या में उसके तीन दोस्तों ने मिलकर रोशन की हत्या कर दी. हत्या के बाद साक्ष्य मिटाने के लिए शव को गंडक नदी में फेंक दिया गया. एसडीपीओ के नेतृत्व में पुलिस कई घंटे से शव का तलाश कर रही है. शव की बरामदगी को लेकर स्थानीय गोताखोर भी लगाए गए हैं लेकिन अब तक शव की बरामदगी नहीं हो सकी है. सदर एसडीपीओ के मुताबिक. इस मामले में पुलिस ने तीनों दोस्तों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

7वीं की छात्रा से एक साल तक रेप करता रहा ट्यूशन टीचर, प्रेग्नेंट हुई तो दवा खिलाकर करवा दिया अबॉर्शन

सहरसा. बिहार में एक प्राइवेट टीचर की काली करतूत सामने आई है. मामला सहरसा से जुड़ा है,...

बिहार: भागलपुर में भाजपा नेता के बेटे ने दुकान में सामान लेने आई नाबालिग लड़की से किया दुष्कर्म

बिहार के भागलपुर में भाजपा नेता के बेटे ने नाबालिग लड़की को बनाया हवस का शिकार। घटना...

बिहार : भाई ने की हैवानियत, 8 साल की मासूम बहन से रेप के बाद किया मर्डर

8 साल की बच्ची। मौसी की बेटी। रिश्ते में बहन। तीन-तीन कारण थे बख्श देने के। लेकिन,...
%d bloggers like this: