Thursday, September 23, 2021

गोरखपुर के थानेदारी में सिंह इज किंग,यादव – कुर्मी आदि कोसो दूर….आखिर मानक क्या है??

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

यह लेख किसी जाति विशेष पर प्रश्न उठाने के लिए नहीं है वरन सामाजिक बराबरी के लिए है क्योंकि जिन निर्णयों से प्रश्न उभर कर आते हैं उन प्रश्नों को जनता के समक्ष रखना मीडिया का कर्तव्य है

गोरखपुर मुख्यमंत्री के जिले में कानून व्यवस्था को चुस्त और दुरुस्त करने के लिए हाल फिलहाल में कई फेरबदल किए गए हैं निश्चित तौर पर यह फेरबदल अपराध और अपराधियों पर लगाम कसने हेतु किए गए हैं, परंतु किए गए इन फेरबदलों से महकमें में ही नहीं वरन आम जन में भी थानेदारों की योग्यता और अयोग्यता को लेकर प्रश्न उठने लगे हैं ।

आपको बताते चलें कि गोरखपुर में साइबर थाने को अगर छोड़ दिया जाए तो महिला थाना समेत 28 थाने हैं इन 28 थानों के प्रभारियों के संबंध में जब गोरखपुर टाइम्स के द्वारा पड़ताल की गई तो कुछ ऐसे तथ्य सामने निकल कर आए जो समाज के रक्षक, पुलिस की प्रणाली और नीतियों पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करने के लिए काफी है और यह प्रश्न प्रभारियों की योग्यता से संबंधित है की उनकी थानेदारी का निर्धारण जाति विशेष है या कोई और ??

ये भी पढ़े :  RSS का स्वयंसेवक सनातन संस्कृति,परम्परा व प्रकृति के संरक्षण को कटिबद्ध:शिवाजी राय
ये भी पढ़े :  RSS का स्वयंसेवक सनातन संस्कृति,परम्परा व प्रकृति के संरक्षण को कटिबद्ध:शिवाजी राय

मुख्यमंत्री के जिले में तैनात थानों पर तैनात थानेदारो की लिस्ट…..

थाना…………तैनाती

  • कैम्पियरगंज… निर्भय नारायण सिंह
  • पीपीगंज…राज प्रकाश सिंह
  • गोरखनाथ…चन्द्रभान सिंह
  • शाहपुर…सुधीर कुमार सिंह
  • तिवारीपुर…सत्यप्रकाश सिंह
  • रामगढ़ताल…राणा देवेंद्र सिंह
  • चौरीचौरा… सूर्यभान सिंह
  • झंगहा…सन्तोष कुमार सिंह
  • गीडा…देवेंद्र सिंह
  • सहजनवा…अजीत प्रताप सिंह
  • बांसगांव…जगत नारायण सिंह
  • उरुआ…दुर्गेश सिंह
  • गगहा…दिलीप सिंह
  • बड़हलगंज… रामाज्ञा सिंह
  • हरपुर बुदहट…जटाशंकर सिंह
  • महिला थाना…अर्चना सिंह
  • बेलीपार…चन्द्रिका प्रसाद जैसल
  • गोला…हेमेंद्र पांडेय
  • बेलघाट…बीबी राजभर
  • सिकरीगंज…उपेंद्र मिश्रा
  • कैंट…रवि राय
  • कोतवाली…जयदीप वर्मा
  • राजघाट…दिनेश मिश्रा
  • गुलरिहा…मनोज कुमार राय
  • पिपराइच…प्रमोद तिवारी
  • चिलुआताल…संजय मिश्रा
  • खोराबार…नासिर हुसैन
  • खजनी…नीरज राय
    16 सिंह जिसमे से 15 राजपूत
    04 ब्राह्मण
    03 राय
    02 कायस्थ
    01 ओबीसी
    01 SC
    01 अल्पसंख्यक
    • वही महकमे की तरफ से इस सूची के आधार पर ही दबी जबान में यहां तक कहा जा रहा है कि कुछ एक थानेदार तो थ्री स्टार के बजाय टू स्टार पर ही कार्य कर रहे हैं क्योंकि उनके ऊपर बड़े लोगों का हाथ हैअब अगर दबी जबान वाले सही हैं तो निश्चित तौर पर कानपुर जैसी घटनाक्रम का जिम्मेदार विकास दुबे नहीं वरन महकमा ही है क्योंकि अयोग्यता सदैव घटना को आमंत्रित करती है और आमजन में अविश्वास के भाव प्रकट करती है
    • वैसे यह योग्यता – अयोग्यता का मानक तो पुलिस के आला अधिकारी समझेंगे परंतु इस सम्बंध में प्रश्न भी उभर कर आ रहा हैं कि आखिरकार ऐसे कौन से मानक जिले में तय किए गए हैं जिन की कसौटी पर थानेदारी में कुर्मी तथा यादव आदि जातियां फिट नहीं बैठती हैं और वह थानेदारी से कोसों दूर नजर आते हैं, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं अन्य आला अधिकारियों को निश्चित तौर पर निष्पक्ष रहते हुए इस यक्ष प्रश्न पर विचार करना होगा क्योंकि पुलिस महकमा किसी जाति विशेष के बंधन से नहीं बंधा है वरन एक ऐसा तंत्र है जो आमजन को यह अहसास कराता है कि बिना भेदभाव के उसे सुरक्षा मिलेगी जिसकी वह उम्मीद करता है

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...
%d bloggers like this: