Tuesday, December 1, 2020

COVID-19: राजस्थान के सभी जिलों में 21 नवंबर से फिर लागू होगी धारा-144

बाँसगांव के बड़े दलित नेता ने बसपा छोड़ थामा सपा का दामन,बाँसगांव से विधायक प्रत्याशी बन दे सकते हैं बड़ी टक्कर….

ब्रजेश कुमार के सपा में शामिल होने पर लगा बधाईयों का तांता   -सपा मुखिया अखिलेश यादव के समक्ष पूर्व...

किसानों की समस्या का कवरेज़ करने गए पत्रकार पर ठेकेदार का हमला,कैमरा बन्द कराने का किया प्रयास

कवरेज़ करने गए पत्रकार पर ठेकेदार का हमला,कैमरा बन्द कराने का किया प्रयास गगहा ब्लॉक में अतायर गाँव से...

किसान आंदोलन के सवाल पर बोले सीएम नीतीश, बिहार में अन्नदाताओं को धान बेचने में नहीं होगी परेशानी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा लाये गये कृषि बिल से किसानों के...

वाराणसी: चेत सिंह घाट पर लेज़र एंड लाइट शो देख अभिभूत हुए प्रधानमंत्री

वाराणसी।  राजघाट से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ क्रूज़ से घाटों की आलौकिक छठा देखते हुए प्रधानमंत्री...

काशी विश्वनाथ धाम और गंगा को जोड़ने का काम पीएम मोदी की देन : योगी आदित्यनाथ

वाराणसी। राजघाट पर दीप प्रज्वलन के बाद शुभारंभ हुए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

जयपुर,20 नवम्बर। राजस्थान में कोरोना संक्रमण (COVID-19) के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच गहलोत सरकार ने बड़ा निर्णय (Big decision) लेते हुए राज्य के सभी जिला मजिस्ट्रेट को 21 नवंबर से धारा-144 (Section-144) लगाने की पॉवर प्रदान कर दी है. गृह विभाग के ग्रुप-9 ने सभी जिला मजिस्ट्रेट को परामर्श जारी कर दिया है. जिला मजिस्ट्रेट की पावर 18 नवंबर को धारा-144 समाप्त होने के साथ ही समाप्त हो गई थी. जिला मजिस्ट्रेट लंबे समय के लिए राज्य सरकार के परामर्श से ही धारा-144 लगा सकता है।

ये भी पढ़े :  कोरोना: तब्लीगी जमात पर खुलकर बोले योगी आदित्यनाथ, '…हम अलर्ट न होते तो ये लोग तबाही मचा देते'

4 लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर रहेगा प्रतिबंध

धारा-144 लागू होने के बाद एक जगह पर 4 लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर प्रतिबंध लग जायेगा. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना के तेजी से फैल रहे संक्रमण के मद्देनजर लोगों से बड़ी संख्या में एक जगह एकत्र नहीं होने की अपील की है. राज्य सरकार ने यह फैसला जनहित में किया है. गहलोत ने सभी से अपील है कि इसका पालन करें. सरकार बल प्रदर्शन की बजाय चाहती है कि इसका पालन करने में पब्लिक आगे बढ़कर सहयोग करे।

ये भी पढ़े :  स्कॉटलैंड बना महिलाओं को मुफ्त सैनेटरी उत्पाद देने वाला पहला देश, भारत की अब भी हालत खस्ता

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

किसान पिता दिल्ली की सीमा पर कर रहा था प्रदर्शन, 22 वर्षीय बेटा कश्मीर में हुआ शहीद।

पिता कृषि कानून को वापस लेने के लिए केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली में शंभू बॉर्डर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे....

स्कॉटलैंड बना महिलाओं को मुफ्त सैनेटरी उत्पाद देने वाला पहला देश, भारत की अब भी हालत खस्ता

लाइफस्टाइल डेस्क. महिलाओं के स्वास्थ को ध्यान में रखते हुए स्कॉटलैंड की सरकार ने बीते दिन एक...

5 साल पहले भारती ने कहा था- ड्रग्स सेहत के लिए हानिकारक, अब खुद गिरफ्तार हुईं तो लोग ले रहे चुटकी

NCB के एक अधिकारी ने बताया कि भारती सिंह के घर से बरामद गांजे की मात्रा कानून...
%d bloggers like this: