Monday, August 2, 2021

विकास दुबे की पत्नी रिचा ने शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार से मांगी माफी, कही यह बात…

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

‘शिवली का डॉन’ नाम से कुख्यात विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे ने कहा कि 2 जुलाई की रात बिकरू गांव में उन्होंने जो किया वो गलत किया। विकास के कृत्य पर माफी मांगना चाहती हूं। रिचा ने कहा, ‘अगर ऐसी घटना के बाद विकास दुबे मेरे सामने होता तो मैं खुद उसको गोली मार देती। क्योंकि 17 घर बर्बाद होने से अच्छा है कि एक घर बर्बाद हो जाता। रिचा दुबे गुरुवार को पहली बार मीडिया के सामने आई और एक इंटरव्यू में यह बात कही।

शादी के दो साल बाद छोड़ दिया था ससुराल

मीडिया से बातचीत के दौरान दुर्दांत विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे ने कई खुलासे किए। रिचा दुबे ने कहा ‘मेरी उनसे (विकास दुबे) मुलाकात 1996 में हुई थी। वो मेरे भाई राजू निगम के एक अच्छे मित्र थे। मेरे भाई ने ही हमारी शादी उनसे कराई थी। बताया कि विकास अपने गांव में विवादों को सुलझाने में लोगों की मदद करते थे और लोग अपनी समस्याओं को लेकर उनके पास आते थे। बिकरू में जो वह कहते थे, वही अंतिम शब्द होता था।’ इतना ही नहीं, लोगों की मदद के लिए वो आए दिन लड़ाई झगड़ा करते थे। जब वो विकास को रोकने की कोशिश करती थी, तो वो अभद्रता करता था। यही वजह है कि 1998 में वह अपनी मां के घर रहने चली गई थी। फिर वो 7 साल तक वहीं रही।

ये भी पढ़े :  विधवाओं-विकलांगो और वृद्धजनों के लिए डॉ के सी पाण्डेय ने की सरकार से ये मांग.....

‘विकास ने कहा था- लखनऊ वाले घर से भाग जाओ..’

विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे ने कहा कि जिस रात आठ पुलिसकर्मी मारे गए थे, उस रात लगभग दो बजे उनका (विकास दुबे) का फोन आया था। वो फोन आखिरी था, जब उनसे (विकास दुबे) से बात हुई थी। रिचा ने कहा, ‘उन्होंने मुझसे कहा कि अपने लखनऊ वाले घर से तत्काल भाग जाओ, क्योंकि बिकरू में कई पुलिसकर्मी मारे गए हैं। तुम घर से बच्चों को लेकर निकल जाओ। वो बिना सोचे समझे आधी रात को यूं ही घर से निकल गई।

टूटे कॉम्प्लेक्स में बिताए सात दिन

टूटे कॉम्प्लेक्स में बिताए सात दिन

रिचा ने कहा कि वह सात दिनों तक लखनऊ में एक टूटे कॉम्प्लेक्स में अपने बच्चों के साथ रही। उसे कुछ पता नहीं था कि इस घटना के बाद क्या होने वाला है। वह सिर्फ अपने बच्चों की परवरिश को लेकर चिंतित थी। उसने कहा कि न मायका और न ही ससुराल से मुझे कोई सपोर्ट मिलना था। इस कारण अपने बच्चों के लिए जो भी करना था, खुद ही करना था।

टीवी और अखबारों से मिली जानकारी

टीवी और अखबारों से मिली जानकारी

रिचा दुबे ने बताया कि इस दौरान उन्हें कोई मदद नहीं मिली। कोई गाड़ी नहीं मिली। गाड़ी मिलने की चैनलों पर फर्जी चली थी। जब वे बाहर घूम रहे थे। एक होटल में खाना खाया। वहीं टीवी पर न्यूज देखकर पता चला कि विकास ने 8 लोगों का मार दिया। रिचा कहती हैं कि विकास उन्हें कुछ नहीं बताते थे। ना उनसे कुछ डिस्कस करते थे। बस वो खर्चा पानी भेजते थे।

लॉकडाउन में पुलिसकर्मियों को खिलाया था खाना

विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे ने दावा किया कि कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान पुलिसकर्मी बिकरू गांव में लंच और डिनर करते थे। रिचा ने बताया कि कई पुलिसकर्मी तो रात को भी उनके घर पर ही रुकते थे। उसने कहा, ‘पुलिस ने उनका इस्तेमाल किया औऱ उसके बाद उन्हें खत्म कर दिया।

एनजाइटी अटैक की वजह से किया ये कांड

रिचा दुबे ने बताया कि विकास एक दुर्घटना का शिकार हुआ था तब उसके दिमाग में बबल आ गया था। इसके कारण वह एनजाइटी का मरीज हो गया था। उसका इलाज चल रहा था। बीते 3-4 माह से इलाज नहीं हो सका था। इस बीमारी के कारण विकास का गुस्सा बहुत बढ़ गया था। उसी एनजाइटी अटैक की वजह से उसने ये कृत्य किया। इससे पहले वो बोली कि अपराधी कोई पैदाइशी नहीं होता। विकास को आस-पास के लोगों ने अपराधी बनाया।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: