Monday, August 10, 2020

ये 180 भाग्यशाली लोग श्री राम मंदिर भूमि पूजन में शामिल हो सकते हैं….

बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों-कर्मचारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया,डीएम नें वेतन रोकने का भी दिया निर्देश….

महराजगंज। जिलाधिकारी डा. उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में एकीकृत कोविड कमाण्ड एवं कंट्रोल रूम में सूचनाओं के आदान प्रदान...

बड़ी खबर:गोरखपुर में नही निकलेगा मोहर्रम का जुलूस,पढा जाएगा फातिहा…

कोरोना लगातार पांव पसारते जा रहा।।कोरोना मरीजो की संख्या बढ़ती जा रही।।इससे सुरक्षा के मद्देनजर गोरखपुर में इस साल मोहर्रम का जुलूस...

कोरोना के शिकंजे में गोरखपुर:आज फिर मिले 200 से अधिक कोरोना मरीज……

गोरखपुर में कोरोना अपना शिकंजा कसते ही जा रहा।।आज फिर गोरखपुर में 235 नए कोरोना मरीज मिले...

पीएम मोदी को मिलने जा रहा है अभेद्य किला,बाल भी बाँका नहीं कर पायेगा कोई ….

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप जिस विमान में सफर करते हैं, ठीक वैसा ही विमान अब पीएम नरेंद्र मोदी भी इस्तेमाल करने वाले हैं

कोरोना का कहर:पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव….

कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा।।आज पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी भी इसके चपेट में आ गए।।पूर्व...

राम जन्मभूमि के कार्यक्रम के लिए राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट ने कुल 208 लोगों की लिस्ट तैयार की है. माना जा रहा है कि लिस्ट में अभी और काट-छांट होगी. आखिरी तौर पर 170 से 180 लोग ही 5 अगस्त को भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे. लिस्ट में आरएसएस के शीर्ष 11 नेता जिनमें मोहन भागवत, भैया जी जोशी, कृष्ण गोपाल, दत्तात्रेय होसबोले और लखनऊ के क्षेत्र प्रचारक अनिल कुमार शामिल हैं. ये सभी लोग इस कार्यक्रम में रहेंगे. इसके अलावा विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय महासचिव आलोक कुमार भी मौजूद रहेंगे. संतों की इस लिस्ट में कई बड़े नाम शामिल हैं तो कई नामों को लेकर अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है. मसलन श्री श्री रविशंकर का नाम अभी तक इस लिस्ट में नहीं है. वहीं मुरारी बापू के नाम की चर्चा भी नहीं सुनाई दे रही है.

ये भी पढ़े :  Alert : इंडो - नेपाल बार्डर पर चौबीसों घंटे चौकस निगरानी कर रहे सुरक्षा अधिकारी , ये है वजह............

राजनीतिक नामों में कल्याण सिंह, उमा भारती, विनय कटियार, साध्वी ऋतंभरा के नाम हैं. कार्यक्रम में अकेले अयोध्या से करीब 50 संत शामिल हो सकते हैं. इनमें महंत कमल नयन दास, राम विलास वेदांती, राजू दास, चित्रकूट से महाराज बाल भद्राचार्य, प्रयागराज से आचार्य नरेंद्र गिरी और जगतगुरु स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती के नाम हैं. लेकिन चतुर्मास चलने के कारण स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे. काशी से जितेंद्रनंद सरस्वती के अलावा तीन और वैदिक विद्वान आ रहे हैं जो उस अनुष्ठान कराने वाले विद्वान ब्राह्मणों की टीम का हिस्सा होंगे. इसमें प्रो. राम चन्द्र पाण्डेय (उपाध्यक्ष श्री काशी विद्वत्परिषद्), प्रो. रामनारायण द्विवेदी (मंत्री श्री काशी विद्वत्परिषद्), प्रो. विनय कुमार पाण्डेय (संगठन मंत्री श्री काशी विद्वत्परिषद्) के नाम हैं. ये तीनों हिन्दू विश्वविद्यालय के धर्म विज्ञान संकाय के आचार्य हैं.

ये भी पढ़े :  अयोध्या भूमि पूजन पर ट्रस्ट ने की सभी नागरिकों से ये अपील:

इसके अलावा केरल से मां अमृतानंदमई होंगी, जबकि पटना से आचार्य किशोर कुणाल. पटना के तख्त हरमंदिर साहिब से जत्थेदार इकबाल सिंह भी इस लिस्ट में हैं. हरिद्वार से बालकानंद गिरी प्रेम गिरी, हरी गिरी और रविंद्र पुरी के नाम शामिल हैं. इनके अलावा युधिष्ठिर लाल महाराज, विजयकौशल जी महाराज, रामशरण जी महाराज, जत्थेदार हरप्रीत सिंह, अमृतसर से, जत्थेदार लखा सिंह, अमृतसर से, निर्मल दास, जालंधर से, दिगंबर गिरी, जबलपुर से, प्रणव पंड्या, रामानन्दाचार्य, संतोषी माता, हरिहरानंद, अमरकण भाष्कर गिरी, अहमदनगर से और शंभुनाथ महाराज, अहमदाबाद से शामिल होंगे. संतों के अलावा राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद मामले में बाबरी मस्जिद की तरफ से पक्षकार रहे इकबाल अंसारी, मंदिर के आर्किटेक्ट सोमपुरा परिवार, कोठारी बंधुओं का परिवार जिसमें कोठारी भाइयों की बहन पूर्णिमा कोठारी कार्यक्रम में शामिल होंगे.

ये भी पढ़े :  अयोध्या भूमि पूजन पर ट्रस्ट ने की सभी नागरिकों से ये अपील:

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

समधी-समधन के बाद अब जेठ-देवरानी घर से भागे, जेठानी बोली- बच्चों को कैसे पालूंगी….

यहां समधी-समधन के प्यार में घर से भाग जाने के बाद अब एक शादीशुदा शख्स अपने ही छोटे भाई की पत्नी के साथ भाग...

गोरखपुर के इस बेटे का आईएएस में हुआ चयन, कहा- सपने मायने रखते हैं, गरीबी नहीं

जिंदगी में कुछ सार्थक करने के लिए सपने मायने रखते हैं, गरीबी नहीं। शुरुआती...

Related Articles

अयोध्या में बाबर के नाम पर नहीं बनेगी मस्जिद,

इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के मुताबिक...

अयोध्या राम मंदिर निर्माण को लेकर पुनः अस्सलील टिप्पडी..

8 अगस्त थाना तिवारीपुर मोहल्ला नरसिंहपुर निवासी ओसामा पुत्र उल्ला ने अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर हिंदू धर्म विरोधी और संविधान विरोधी पोस्ट...

सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का विवादित बयान हम अल्लाह के भरोसे, मस्जिद को कोई मिटा नहीं सकता

संभल लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क।
%d bloggers like this: